ख़बरें

हसरंगा चहल जितने ही अच्छे क्रिकेटर हैं : माइक हेसन

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु में वनिंदु हसरंगा की गेंदबाज़ी के कायल बने हेसन और श्रीधरन श्रीराम

Wanindu Hasaranga brings out his signature celebration, Rajasthan Royals vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2022, Mumbai, April 5, 2022

मौजूदा सीज़न में हसरंगा ने कुल 21 विकेट झटके हैं  •  BCCI

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के क्रिकेट संचालन निदेशक माइक हेसन का मानना है कि जैसे आईपीएल 2022 का सीज़न बढ़ा है वैसे ही उन्हें लगा है कि श्रीलंकाई लेग स्पिनर और इस साल बेंगलुरु के लिए 21 विकेट लेने वाले वनिंदू हसरंगा "युज़वेंद्र चहल जितने ही अच्छे क्रिकेटर" साबित हो रहे हैं। साथ ही टीम के बल्लेबाज़ी और स्पिन गेंदबाज़ी कोच श्रीधरन श्रीराम ने बताया कैसे सीज़न के दौरान उन्होंने हसरंगा को अपने एक्शन को बेहतर बनाने में मदद की है और उनके "स्वभाव" की प्रसंशा की।
'आरसीबी बोल्ड डायरीज़' के एक वीडियो में हेसन ने कहा, "वह शुरू से ही बड़े खिलाड़ियों को आउट कर रहे हैं और मिडिल ओवर्स में विकेट लेते हुए हमारी टीम की वापसी करवा रहे हैं। कई बार वह 28 रन देकर एक विकेट लेते हैं जो शायद हाइलाइट्स में नहीं दिखता लेकिन हमारे लिए बहुमूल्य है। युज़ी (चहल) जैसे लेजेंड का स्थान लेना आसान नहीं लेकिन हसरंगा ने टूर्नामेंट में बताया है कि वह युज़ी जितने ही अच्छे क्रिकेटर हैं।"
बेंगलुरु के लिए किसी भी सीज़न में अधिकतम विकेट लेने वाले स्पिन गेंदबाज़ों की सूची में चहल फ़िलहाल पहले स्थान पर हैं। उन्होंने 2015 में 14 मैचों में 18.0 के औसत से 23 विकेट लिए थे। हसरंगा के 21 विकेट फ़िलहाल उन्हें संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर रखते हैं लेकिन हसरंगा का औसत है 15.3 का जो इस सूची में उन्हें अनिल कुंबले (2009 में 16.5 का औसत) और चहल (2016 और 2020 में 19.1 और 19.3 का औसत) से आगे रखता है।
श्रीराम का कहना था कि वह सीज़न के दौरान भी फ़ुटेज देख कर गेंदबाज़ी में सुधार लाने में विश्वास करते हैं। उन्होंने हसरंगा के बारे में कहा, "उनकी रनअप की गति में कोई निरंतरता नहीं थी। कभी वह तेज़ आते थे तो कभी धीरे। हमने इस बात पर काफ़ी काम किया। फिर वह किस कोण बनाते हुए आते हैं और कहां से गेंद को छोड़ते हैं ऐसी बातों पर भी हमने कुछ प्रयोग किए। युज़वेंद्र चहल की जगह लेना कोई आसान बात नहीं और उम्मीदों का दबाव भी अलग है। ऐसी उम्मीदों पर खरा उतरना और टूर्नामेंट में दूसरा सर्वाधिक विकेट लेना बताता है कि हसरंगा का स्वभाव कितना अच्छा है। जब-जब उनकी आलोचना हुई है तब-तब उन्होंने ज़बरदस्त वापसी की है।"
वैसे फ़िलहाल टूर्नामेंट में सर्वाधिक 23 विकेट चहल के ही नाम हैं जो इस सीज़न राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा हैं। हसरंगा ने कहा, "मैंने पिछले साल का आख़िरी हिस्सा युज़ी के साथ खेला है और हम अच्छे दोस्त हैं। मैं उनकी गेंदबाज़ी का प्रसंशक हूं और वह भी मेरी तारीफ़ करते हैं।"