मैच (21)
IPL (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
USA vs CAN (2)
Zonal Trophy [W] (1)
SA v SL (W) (1)
ख़बरें

मुझे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि कौन सबसे तेज़ गेंदबाज़ी कर रहा है : नॉर्खिये

साउथ अफ़्रीका के तेज़ गेंदबाज़ ने बताया कि वह शारीरिक तौर पर 100% फ़िट महसूस नहीं कर रहे हैं

अगर मुझे पता होता कि मेरी गेंदबाज़ी में किस चीज़ का अभाव है, तो मैं अब तक उस पर अमल कर चुका होता : नॉर्खिये  •  BCCI

अगर मुझे पता होता कि मेरी गेंदबाज़ी में किस चीज़ का अभाव है, तो मैं अब तक उस पर अमल कर चुका होता : नॉर्खिये  •  BCCI

अनरिख़ नॉर्खिये का मानना है कि वह अब भी पूरी तरह से अपनी पुरानी लय प्राप्त करने से दूर हैं। कमर में चोट लगने के बाद से वह पांच महीनों तक क्रिकेट से बाहर थे और अब उन्होंने साउथ अफ़्रीका टीम में वापसी की हैं।
आईपीएल 2022 से पहले बताया गया था कि नॉर्खिये की चोट अब गंभीर नहीं थी और इसके बाद उन्हें दिल्ली कैपिटल्स के साथ खेलने की अनुमति दी गई थी। उन्होंने दिल्ली का तीसरा मैच खेला था लेकिन इसके बाद अगला मैच खेलने के लिए उन्हें एक महीने का इंतज़ार करना पड़ा था। छह मैचों में 9.71 की इकॉनमी से रन देते हुए उन्होंने नौ विकेट झटके थे। भारत के ख़िलाफ़ चल रही सीरीज़ में अब तक तीन मैचों में उनके नाम तीन विकेट है।
यह पूछे जाने पर कि क्या वह पूरी तरह से फ़िट होने के साथ-साथ अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ी कर रहे हैं, नॉर्खिये ने कहा, "जी नहीं, मैं अब भी काम कर रहा हूं। शारीरिक तौर पर मैं अभी अपनी उम्मीद के अनुसार 100 प्रतिशत फ़िट नहीं हूं और मैं एक-दो चीज़ों पर काम कर रहा हूं।"
उन्होंने आगे कहा, "गेंदबाज़ी भी नियंत्रित है। आप हमेशा एक दिन में आठ या नौ ओवर नहीं डाल सकते। हालांकि अब तक यह एक अच्छी चुनौती रही है। मुझे लगता है कि इससे मुझे भविष्य में लगने वाली चोटों के लिए मदद मिलेगी।"
हालांकि क्या नॉर्खिये को पता है कि इस समय उनकी गेंदबाज़ी में किस चीज़ का अभाव है? "अगर मुझे पता होता, तो मैं अब तक उस पर अमल कर चुका होता," उन्होंने कहा। "मैं चीज़ों को सरल रखता हूं। इसलिए मुझे बस छोटे मोटे बदलाव करने होंगे। मैं इस समय एक चीज़ पर काम कर रहा हूं और देखना होगा कि उसका क्या परिणाम निकलकर आता है। मुझे उम्मीद है कि मैं सही दिशा में आगे बढ़ रहा हूं।"
पूरी तरह फ़िट होने पर नॉर्खिये विश्व के सबसे तेज़ गेंदबाज़ों में से एक हैं। आईपीएल 2020 में उन्होंने 156.2 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंदबाज़ी की थी जो 2012 से 2020 के बीच टूर्नामेंट की सबसे तेज़ गेंद थी। इस साल उमरान मलिक ने 156.9 किलोमीटर की गति की गेंद डालकर उनका रिकॉर्ड तोड़ा था। इसके बाद लॉकी फ़र्ग्युसन ने सीज़न के फ़ाइनल में 157.3 किलोमीटर की गति से गेंद डाली और रिकॉर्ड अपने नाम किया। हालांकि नॉर्खिये को इससे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता क्योंकि वह सबसे तेज़ गेंदबाज़ होने की बजाय अपनी टीम को मैच जिताना चाहते हैं।
नॉर्खिये ने कहा, "इस समय मुझे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि कौन सबसे तेज़ हैं और स्पीड गन क्या कहती है। मायने यह रखता है कि मैं टीम के लिए क्या योगदान दे सकता हूं। ट्रेनिंग के दौरान आप सोचते हो कि आप किस तरह अपनी गति को और बढ़ा सकते हो। यह मेरे दिमाग़ में चलता है और मैं इस पर और काम करना चाहता हूं। हालांकि मैदान पर मैच के दौरान यह विचार मेरे मन में नहीं आता है।"
नॉर्खिये ने इस दौरान उमरान की प्रशंसा भी की। उन्होंने कहा, "उमरान एक बढ़िया और काफ़ी तेज़ गेंदबाज़ हैं। उन्होंने दिखाया कि वह क्या कर सकते हैं। अगर वह और तेज़ गति से गेंदबाज़ी कर सकते हैं तो यह उनके लिए अच्छा होगा। अगर मैं तेज़ होता हूं तो यह मेरे लिए अच्छा है। मुझे नहीं लगता कि हम उस स्तर पर है जहां हम सबसे तेज़ गेंद डालने का मुक़ाबला कर रहे हैं। बात टीम को जिताने और अपना योगदान देने की है।"
साउथ अफ़्रीका इस समय 2-1 से टी20 सीरीज़ में आगे है और नॉर्खिये ने कहा कि टीम जल्द से जल्द सीरीज़ अपने नाम करना चाहती है।
उन्होंने कहा, "मैंने पिछले मैच में भी कहा था कि यह हमारे लिए एक फ़ाइनल मैच की तरह है। हम अपनी उम्मीदों के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाए थे और अब यह मैच भी हमारे लिए एक फ़ाइनल की तरह ही होगा। यह दूसरा मौक़ा है और हम जल्द से जल्द सीरीज़ अपने नाम करना चाहते हैं और भारत को वापसी करने का छोटे से छोटा मौक़ा भी नहीं देना चाहते हैं।"

हेमंत बराड़ ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।