मैच (12)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
BAN v SL (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
Sheffield Shield (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
Nepal Tri-Nation (1)
ख़बरें

राजस्थान रॉयल्स के तेज़ गेंदबाज़ी कोच होंगे मलिंगा

पैडी अप्टन को बनाया गया "टीम कैटलिस्ट", खिलाड़ियों को मानिसक रूप से बनाएंगे मज़बूत

मुंबई इंडियंस के सबसे सफल गेंदबाज रहे हैं लसिथ मलिंगा  •  BCCI

मुंबई इंडियंस के सबसे सफल गेंदबाज रहे हैं लसिथ मलिंगा  •  BCCI

राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल 2022 के लिए लसिथ मलिंगा को अपना तेज़ गेंदबाज़ी कोच और पैडी अप्टन को अपना "टीम कैटलिस्ट" नियुक्त किया है। 2021 में खिलाड़ी के तौर पर संन्यास लेने वाले मलिंगा ने आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए नौ सत्र में खेलते हुए सर्वाधिक 170 विकेट लिए थे। 2018 में वह मुंबई के गेंदबाज़ी मेंटॉर भी थे, जबकि इस साल की शुरुआत में वह ऑस्‍ट्रे‍लिया के ख़िलाफ़ टी20 सीरीज़ में श्रीलंका के गेंदबाज़ी रणनीति कोच भी बने थे।
रॉयल्स में वह अपने पूर्व कप्तान कुमार संगकारा के साथ काम करेंगे, जो फ्रैंचाइज़ी के प्रमुख कोच और डायरेक्टर ऑफ़ क्रिकेट हैं, वहीं स्टेफ़न जोंस को भी पिछले सप्ताह हाई परफ़ॉर्मेंस तेज़ गेंदबाज़ी कोच बनाया गया था।
मलिंगा ने कहा, "आईपीएल में वापस लौटना मेरे लिए सुखद अहसास है और राजस्थान रॉयल्स के साथ जुड़ना गर्व की बात है, एक ऐसी फ़्रेंचाइज़ी जो हमेशा से ही युवा कौशल को प्रमोट करती है और उन्हें निखारती है। इस टूर्नामेंट में खेलने वाली हमारी गेंदबाज़ी यूनिट के साथ काम करने को लेकर मैं उत्साहित हूं और मैं तेज़ गेंदबाज़ों को उनके प्लान और उनकी पूरे निखार में साथ दूंगा। मैंने मुंबई इंडियंस के साथ आईपीएल में कई ख़ास यादें संजोयी हैं और अब मैं रॉयल्स के साथ नए अनुभव और कुछ यादों को संजोने की कोशिश करूंगा।"
2013 से 2015 तक अप्टन पहले रॉयल्स के साथ कोच के तौर पर काम कर चुके हैं। वह पहले चार सप्ताह तक टीम के साथ रहेंगे, इसके बाद वह वर्चुअली उनका सहयोग करेंगे।
रॉयल्स ने एक बयान में कहा, "टीम कैटलिस्ट के रूप में अप्टन टीम को एक साथ जोड़ने और एक दूसरे का सहयोग करने वाली टीम बनाने में मुख्य भूमिका निभाएंगे। वहीं बायो बबल के मुश्किल सफ़र को देखते हुए वह खिलाड़ियों को मानसिक रूप से मज़बूत बनाने में अहम योगदान देंगे।"
संगकारा ने कहा कि मलिंगा और अप्टन दोनों ही कोचिंग स्टाफ़ में शानदार रहेंगे। उन्होंने कहा, "लसिथ टी20 के दिग्गज तेज़ गेंदबाज़ों में से एक हैं और ट्रेनिंग मैदान पर उनकी उपस्थिति से ज़रूर टीम को फ़ायदा पहुंचेगा। हमारी टीम में कुछ अच्छे तेज़ गेंदबाज़ हैं और वह लसिथ के साथ काम करने और सीखने को लेकर उत्साहित हैं।"
"ऐसा ही पैडी के साथ है, जो रॉयल्स के लिए पहले बहुत अच्छा काम कर चुके हैं। उन्होंने खिलाड़ियों के बीच अच्छे संबंध और मानसिक तौर पर उन्हें मज़बूत बनाने में अहम भूमिका निभाई है। हमें लगता है कि उनका कोचिंग स्टाफ़ में जुड़ना शानदार है।"
ट्रेवर पेनी (सहायक कोच), ज़ुबिन भरुचा (रणनीतिक, सुधार और प्रदर्शन डायरेक्टर) और दिशांत यागनिक (फ़ील्डिंग कोच) के रूप में अपने पदों पर बने रहेंगे।