मैच (11)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (1)
PSL 2024 (2)
Sheffield Shield (3)
WPL (1)
Dang CL (1)
ख़बरें

भारत को ऐसे ऑलराउंडर की तलाश है जो छठे नंबर पर बल्लेबाज़ी कर सके : शास्त्री

शास्त्री आईपीएल के दौरान ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के टी20 टाइमआउट कार्यक्रम में विश्लेषक होंगे

अगर गेंदबाज़ी में हार्दिक को थोड़ी सी भी सफलता मिलती है तो भारतीय टीम में उनकी जगह लगभग पक्की हो जाएगी : शास्त्री  •  AFP/Getty Images

अगर गेंदबाज़ी में हार्दिक को थोड़ी सी भी सफलता मिलती है तो भारतीय टीम में उनकी जगह लगभग पक्की हो जाएगी : शास्त्री  •  AFP/Getty Images

भारतीय टीम के पूर्व प्रमुख कोच रवि शास्त्री का मानना है कि टीम को अब भी अपने प्रमुख ऑलराउंडर की तलाश है। शास्त्री इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 के लिए विश्लेषक के रूप में ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के साथ जुड़ेंगे।
पिछले विश्व कप में अंतिम चार में जगह बनाने से चूकने के बाद भारतीय टी20 क्रिकेट चर्चा का विषय बना हुआ है। 10 महीनों के अंदर एक और विश्व कप के होने से आईपीएल के दौरान टीम प्रबंधन को ऐसे खिलाड़ियों की तलाश होगी जो हरफ़नमौला खेल के साथ टीम को स्थिरता प्रदान करें।
शास्त्री ने बुधवार को कहा, "मुझे लगता है कि टीम को छठे नंबर पर ऑलराउंडर की तलाश होगी। साथ ही शीर्ष पांच में कोई ऐसा खिलाड़ी जो दो या तीन ओवर डालकर कप्तान पर से दबाव हटा सकें। ऐसा हुआ तो कप्तान से पास साढ़े छह गेंदबाज़ होंगे। इसके अलावा तेज़ गेंदबाज़ी और फ़ील्डिंग। बल्लेबाज़ी की मुझे कोई फ़िक्र नहीं है।"
हालिया समय तक भारत के पास ऐसा खिलाड़ी था। पीठ की चोट से पहले हार्दिक पंड्या इस भूमिका को बख़ूबी निभा रहे थे लेकिन चोटिल होने के बाद से उनकी धार कम हो गई है। विशेषकर उनकी गेंदबाज़ी अब पहले जैसी नहीं रही और बावजूद इसके गुजरात टाइटंस ने उनकी प्रतिभा को देखते हुए उन्हें अपना कप्तान बनाया है।
शास्त्री का मानना है कि भारतीय टीम में अनेक पावर हिटर खिलाड़ी हैं और बतौर विशेषज्ञ बल्लेबाज़ हार्दिक को इस टीम में जगह नहीं मिल पाएगी। शास्त्री ने कहा, "टॉप पांच खिलाड़ी बड़े शॉट लगाने का दमखम रखते हैं। इस वजह से छठे और सातवें नंबर के खिलाड़ियों को एक से अधिक विभाग में योगदान देना होगा। इसलिए हार्दिक, भारतीय टीम और गुजरात के नज़रिए से अच्छा होगा कि वह दो-तीन ओवर गेंदबाज़ी करते रहें। अगर उन्हें थोड़ी सी भी सफलता मिलती है तो भारतीय टीम में उनकी जगह लगभग पक्की हो जाएगी।"
शास्त्री के अनुसार आईपीएल से हमें पता चल जाएगा कि भारतीय टीम की कप्तानी का उत्तराधिकारी कौन होगा।
उन्होंने कहा, "रोहित और विराट अब जवान नहीं हैं। टीम प्रबंधन को देखना होगा कि दो अथवा तीन साल बाद कप्तानी कौन करेगा। मेरा ध्यान इसी बात पर केंद्रित रहेगा। मैं ऋषभ पंत (दिल्ली कैपिटल्स) और श्रेयस अय्यर (कोलकाता नाइट राइडर्स) पर कड़ी नज़र रखूंगा। इसके अलावा केएल राहुल के टीम संभालने के तरीक़े और हार्दिक की मानसिकता पर भी मेरी नज़र बनी रहेगी।"