ख़बरें

इंग्लैंड के सफ़ेद गेंद क्रिकेट कोच बनने के प्रबल दावेदार हैं मैथ्यू मॉट

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड शायद पॉल कॉलिंगवुड की जगह ऑस्ट्रेलिया महिला टीम कोच को पसंद करेंगे

Matthew Mott at Australia training, Brisbane, September 22, 2020

ट्रेनिंग के दौरान मैथ्यू मॉट  •  Getty Images

ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम के कोच मैथ्यू मॉट इंग्लैंड के सीमित ओवर कोच बनने के लिए प्रबल दावेदार बनकर उभर चुके हैं और ऐसा हो सकता है उनकी नियुक्ति इसी हफ़्ते में की जाए। ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को पता चला है कि साक्षात्कार के दौरान उनकी उम्मीदवारी पूर्व इंग्लैंड ऑलराउंडर पॉल कॉलिंगवुड से बेहतर मानी गई। कॉलिंगवुड हालिया समय में वेस्टइंडीज़ में अंतरिम कोच का काम कर चुके थे।
रॉब की के पुरुष क्रिकेट निदेशक नियुक्त होने के बाद इंग्लैंड ने टेस्ट और सीमित ओवर में कोचिंग भूमिकाओं को विभाजित करने का फ़ैसला किया था। पिछले हफ़्ते कोलकाता नाइट राइडर्स कोच और पूर्व न्यूज़ीलैंड कप्तान ब्रेंडन मक्कलम को टेस्ट टीम का कोच नियुक्त किया गया था। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) सलाहकार ऐंड्र्यू स्ट्रॉस और सीईओ टॉम हैरिसन उनके साक्षात्कार करने वाले पैनल के सदस्य थे। सफ़ेद गेंद कोच के चयन प्रक्रिया में समझा जा रहा है कि कप्तान ओएन मॉर्गन की सलाह भी ली गई है।
संयोग से मक्कलम ने लगभग 10 साल पहले मॉट की सिफ़ारिश न्यूज़ीलैंड के पुरुष टीम के मुख्य कोच पद के लिए की थी। उस वक़्त यह पद आख़िरकार माइक हेसन के पास गई थी।
48 वर्षीय मॉट 2015 से ऑस्ट्रेलिया महिला टीम के साथ हैं। इस दौरान उन्होंने कप्तान मेग लानिंग के साथ इस टीम को इतना मज़बूत बनाया है कि उन्हें 'इंविंसीबल्स' यानी 'अजेय' के नाम से पुकारा जाने लगा है। 2017 में भारत के हाथ वनडे विश्व कप में हार मिलने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने अगले 42 मैचों में केवल दो हारे हैं और जीतने के सिलसिले में उन्होंने इस साल विश्व कप में भी सारे मैच जीते।
ख़ुद क्वींसलैंड और विक्टोरिया के शीर्ष क्रम बल्लेबाज़ रह चुके मॉट ने पुरुष क्रिकेट में न्यू साउथ वेल्ज़ और ग्लमॉर्गन के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ए के मुख्य कोच की भूमिका भी निभाई है। 2009 में वह कोलकाता नाइट राइडर्स के सहायक कोच भी थे। महिला विश्व कप के दौरान उनका नाम जस्टिन लैंगर की जगह पुरुष टीम में मुख्य कोच के पद के साथ भी जोड़ा गया था लेकिन उन्होंने तब कहा थी कि वह महिला टीम के साथ ही जुड़े रहना चाहेंगे।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo के स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।