मैच (12)
इंग्लैंड बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
महाराजा टी20 (2)
आयरलैंड बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
द हंड्रेड (महिला) (2)
द हंड्रेड (पुरुष) (2)
ओमान बनाम कुवैत (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
NL v PAK (1)
ओमान बनाम बहरीन (1)
ख़बरें

घरेलू परिस्थितियों में हमारा पलड़ा भारी : एल्गर

साउथ अफ़्रीकी कप्तान इस बात से 'सचेत' हैं कि हालिया समय में भारत ने विदेशी दौरों पर अच्छा प्रदर्शन किया है

Virat Kohli reacts after Dean Elgar's dismissal, South Africa v India, 2nd Test, Centurion, 4th day, January 16, 2018

"हमें पता है कि वह (मेहमान टीम) पूरी तैयारी के साथ आ रहे हैं" - डीन एल्गर  •  Associated Press

साउथ अफ़्रीका के कप्तान डीन एल्गर का मानना है कि घरेलू परिस्थितियों में खेलने के कारण भारत के ख़िलाफ़ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ में मेज़बान टीम का पलड़ा भारी रहेगा। हालांकि वे इस बात से 'सचेत' हैं कि टेस्ट रैंकिंग में पहले पायदान पर पहुंचने के लिए भारत ने हालिया समय में विदेशी दौरों पर कितना अच्छा प्रदर्शन किया है।
सेंचूरियन में खेले जाने वाले बॉक्सिंग-डे टेस्ट से पहले एल्गर ने कहा, "इस समय तो मुक़ाबला बराबरी का है। ज़ाहिर है घर पर खेलने के कारण हमारा पलड़ा थोड़ा भारी रहेगा। हालांकि हम यह नहीं भूल सकते कि वह विश्व की नंबर एक टेस्ट टीम है और लंबे समय से शीर्ष स्थान पर बने हुई है। पिछले कुछ समय में उन्होंने जो कुछ किया है, उसका उन्हें पूरा श्रेय दिया जाना चाहिए। इसलिए यहां बैठकर मैं यह नहीं कहूंगा कि वे दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं हैं क्योंकि रैंकिंग प्रणाली एक कारण से है। लेकिन तथ्य यह है कि हम अपने घर पर खेल रहे हैं और इसलिए हम उनसे अधिक मज़बूत स्थिति में हैं।"
इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया को उनके घर जाकर 2-1 से हराने के बाद भारत ने पहले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फ़ाइनल में प्रवेश किया था। हालांकि वहां उसे न्यूज़ीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद टीम ने शानदार अंदाज़ से वापसी करते हुए इंग्लैंड को चार मैचों में 2-1 से पछाड़ा जबकि बढ़ते कोरोना मामलों के कारण सीरीज़ का आख़िरी मैच अब 2022 में खेला जाएगा।
इन दोनों दौरों पर भारत की सफलता के पीछे का मुख्य कारण टीम का तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण था। इस उम्मीद के साथ कि वह इस दौरे पर भी पांच गेंदबाज़ों के संयोजन को बरक़रार रखेंगे, एल्गर ने माना कि मेहमान तेज़ गेंदबाज़ साउथ अफ़्रीका की मददगार परिस्थितियों में सबसे शक्तिशाली चुनौती पेश करेंगे।
एल्गर कहते हैं, "इस समय उनका सबसे मज़बूत पक्ष उनकी गेंदबाज़ी है। हम जानते हैं कि एक गेंदबाज़ी आक्रमण के तौर पर उन्हें बहुत सफलता मिली है। उनके पास कई अनुभवी गेंदबाज़ हैं जो आक्रमण का नेतृत्व करते है। और तो और उनके पास बैक-अप के रूप में ख़तरनाक गेंदबाज़ मौजूद हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि मेहमान तेज़ गेंदबाज़ साउथ अफ़्रीका की मददगार परिस्थितियों का भरपूर लाभ उठाएंगे। साथ ही हमारे पास भी घातक तेज़ गेंदबाज़ हैं।"
टेस्ट क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में टीम के उत्कृष्ट प्रदर्शन की शुरुआत चार साल पहले जोहैनेसबर्ग में मिली जीत से हुई थी। हाल के दिनों में विदेशी दौरों पर टीम के विजयी अभियान के बावजूद भारत अब तक साउथ अफ़्रीका में अपनी पहली सीरीज़ जीत की तलाश कर रहा है। एल्गर ने कहा कि यह बात विराट कोहली की टीम को बाज़ी मारने के लिए उत्साहित कर सकती है।
एल्गर ने आगे कहा, "ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में भारत के प्रदर्शन से हम परिचित हैं। विदेशी दौरों पर उन्होंने अपने खेल में बहुत सुधार किया है। मुझे पता है कि कोहली ने भी इस बात पर ज़ोर दिया है कि वह विदेशी टेस्ट मैचों में अपने रिकॉर्ड को सुधारना चाहते हैं। उन्होंने स्वयं उस मानक को निर्धारित किया है और मुझे विश्वास है कि वह उसे पूरा करने का प्रयास करेंगे। और इस टीम का कप्तान होने के नाते मैं पूरी कोशिश करूंगा कि हम उन्हें ऐसा करने से रोके। इससे यह दोनों टीमों के लिए एक रोमांचक और चुनौतीपूर्ण सीरीज़ होने जा रही है। हमें पता है कि वह पूरी तैयारी के साथ आ रहे हैं। उन्हें पता है कि हम भी पूरी तैयारी के साथ आएंगे। परिणाम कुछ भी हो, यह एक रोमांचक टेस्ट सीरीज़ होगी।"

ऑन्नेशा घोष (@ghosh_annesha) ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।