मैच (15)
आईपीएल (1)
WI vs SA (1)
County DIV1 (3)
County DIV2 (4)
T20WC Warm-up (3)
CE Cup (3)
ख़बरें

टी20 विश्व कप के सभी मैचों में गेंदबाजी करने के लिए ख़ुद को तैयार कर रहे हार्दिक

मुझे यह पक्का करना होगा कि मैं गेंदबाजी करने के लिए फ‍िट हो जाऊं और अगर मैं गेंदबाजी करता हूं तो इससे भारतीय टीम में संतुलन बनेगा।

Hardik Pandya resumed bowling after a long gap, Sydney, Australia vs India, 2nd ODI, November 29, 2020

हार्दिक ने मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ लंबे समय के बाद गेंदबाज़ी की थी  •  Getty Images

हार्दिक पंड्या अक्टूबर में होने वाले टी20 विश्व कप में पूरी क्षमता के साथ गेंदबाज़ी करने के लिए उत्साहित हैं और वह यह पक्का करना चाहते हैं कि वह सभी मुकाबलों में गेंदबाज़ी कर सकें। 2019 एशिया कप से हार्दिक पीठ के निचले हिस्से की समस्या से जूझ रहे हैं और तब से उन्होंने अब तक लगातार गेंदबाज़ी नहीं की है।
हार्दिक ने टीओआई स्पोर्ट्सकास्ट से कहा कि मैंने आईपीएल में गेंदबाज़ी शुरू कर दी है और अब मेरा फ़ोकस विश्व कप पर है। उन्होंने कहा कि मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि मैं टी20 विश्व कप के सभी मुकाबलों में पूरी क्षमता के साथ गेंदबाज़ी कर सकूं। मैं बस होशियार होने की कोशिश कर रहा हूं और यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि इस मौके को खो नहीं सकूं। गेंदबाज़ी के नजरिए से यह मायने रखता है कि मैं कितना फ‍िट हूं। यहां तक की सर्जरी के बाद मेरी गति भी गिरी नहीं थी। मैं अपना नियंत्रण नहीं छोड़ पा रहा था। मेरी गेंदबाज़ी मेरी फ‍िटनेस से जुड़ी है। ​मैं जितना फ‍िट रहूंगा, गेंद उतना ही बेहतर बाहर निकलकर आएगा। तेज़ गेंदबाज़ी ऑलराउंडर होने की वजह से मुझे चोट लगने की संभावना रहती है। यह होना तय है और मैं इसको लेकर तैयार हूं। कंधे की समस्या के कारण भी इस वर्ष आईपीएल में हार्दिक ने मुंबई इंडियंस के लिए सभी सात मैचों में गेंदबाज़ी नहीं की।
हालांकि, उन्होंने मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे में नौ ओवर किए थे। वहीं पांच टी20 अंतर्राष्ट्रीय में उन्होंने सात रन प्रति ओवर के नीचे के इकॉनमी से 17 ओवर किए थे। पिछले आईपीएल में भी वह एक विशुद्ध बल्लेबाज़ के तौर पर ही खेले थे।
हार्दिक ने कहा कि भारत के लिए खेलते हुए मैंने यह महसूस किया है कि मेरी गेंदबाज़ी से जो संतुलन बनता है वह काफी अंतर पैदा करता है। वहीं आईपीएल में मैं ख़ुशकिस्मत हूं कि मेरे पास इतनी अच्छी फ्रेंचाइज़ी है जहां बहुत सारा प्यार है और वहां मैं अपनी बल्लेबाज़ी को निखार पा रहा था और यह सुनिश्चित कर पा रहा था कि जब मैं भारत के लिए खेलूं तो वहां अपना सर्वश्रेष्ठ दे सकूं। मुझे यह पक्का करना होगा कि मैं गेंदबाज़ी करने के लिए फ‍िट हो जाऊं और अगर मैं गेंदबाज़ी करता हूं तो इससे भारतीय टीम में संतुलन बनेगा।
टी20 विश्व कप को लेकर भारतीय टीम हार्दिक के वर्कलोड मैनेजमेंट पर ध्यान दे रही है, जिससे वह विश्व स्तरीय टूर्नामेंट में गेंदबाज़ी कर सकें। हालांकि हार्दिक को न्यूजीलैंड के ख़िलाफ़ 18 जून से शुरू हो रहे टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए टीम में नहीं चुना गया और ना ही वह इंग्लैंड के ख़िलाफ़ होने वाली पांच टेस्ट मैचों की सीरीज़ में भारतीय टीम का हिस्सा हैं। हार्दिक श्रीलंका दौरे के लिए सीमित ओवर सीरीज़ के लिए चुनी गई भारतीय टीम का हिस्सा हैं। भारतीय टीम को वहां पर 13 जुलाई से तीन वनडे और तीन टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों की सीरीज़ खेलनी है। हार्दिक ने दोहराया कि उनका जोर अगले महीने शुरू होने वाले सीमित ओवर सीरीज़ के दौरे के लिए तैयार होने पर लगा है और इसके बाद विश्व कप। उन्होंने कहा कि उन्होंने फैसला किया है कि वह तीन सप्ताह तक आराम करेंगे जिससे वह अपने परिवार संग समय बिता सकें और श्रीलंका दौरे से पहले अपने शरीर के बारे में ज्यादा नहीं सोचें।
हार्दिक ने कहा कि जब भी मैं खेलता हूं, मैं 50 प्रतिशत के साथ नहीं खेलना चाहता हूं। मैं जब भी खेलता हूं तो मैं 100 प्रतिशत पर ही खेलूंगा। जब मुझे पता लगा कि हम श्रीलंका दौरे पर जा रहे हैं तो मैं तीन से चार सप्ताह तक आराम के बारे में सोच रहा था और कुछ नहीं करना चाहता था। मैं सात से आठ महीनों तक सड़क पर था और उन महीनों के लिए मैंने डेढ़ साल तक खुद को तैयार किया था। लॉकडाउन से पहले, मैंने डीवाई पाटिल (फरवरी में टी20) में वापसी की और तभी कोरोना आ गया। तब मुझे फ‍िट रहना था क्योंकि मैं उस वक्त अपने सर्वश्रेष्ठ पर नहीं था। श्रीलंका दौरे के लिए मैंने अपनी तैयारी आज (शनिवार) से कर दी है और मेरा पूरा फ़ोकस श्रीलंका दौरे और बेशक विश्व कप के लिए ख़ुद को तैयार करने पर होगा।

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एसोसिएट सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।