मैच (13)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (6)
Women's QUAD (4)
ख़बरें

धोनी से मैंने शांत रहना सीखा है: स्टीव स्मिथ

साल 2017 में स्मिथ की कप्तानी में धोनी ने आईपीएल में हिस्सा लिया था

साल 2017 के आईपीएल में बातचीत करते हुए स्मिथ और धोनी  •  BCCI

साल 2017 के आईपीएल में बातचीत करते हुए स्मिथ और धोनी  •  BCCI

जब वर्ष 2017 के आईपीएल सीज़न में एमएस धोनी की जगह पर स्टीव स्मिथ को राइज़िंग पुणे सुपरजाइंट्स टीम की कप्तानी सौंपी जा रही थी, तब सबसे ज़्यादा चर्चा इस बात पर हो रही थी कि स्मिथ उस टीम की कैसे कप्तानी करेंगे, जिसमें पहले से ही धोनी खेल रहे हैं। धोनी उस समय आईपीएल के सबसे सफल कप्तानों में से एक थे। ऐसे में स्मिथ के ऊपर काफ़ी दबाव था लेकिन इस दबाव वाली स्थिति में धोनी ने स्मिथ का काफ़ी साथ दिया, जिसके फलस्वरूप स्मिथ अपनी टीम को फ़ाइनल तक लेकर जाने में सफल रहे।
इस आईपीएल में स्मिथ स्टार स्पोर्ट्स के कॉमेंट्री पैनल में हैं। टाटा आईपीएल 2023 के आधिकारिक टेलीविज़न प्रसारक स्टार स्पोर्ट्स के साथ एक विशेष साक्षात्कार में स्मिथ ने वर्ष 2017 टाटा आईपीएल में राइज़िंग पुणे सुपरजाइंट्स की कप्तानी के अपने अनुभव और उस सीज़न में पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में बात की। स्मिथ शुरू में टीम का नेतृत्व करने के विचार से भयभीत थे। हालांकि धोनी ने मैदान में और मैदान के बाहर स्मिथ की काफ़ी मदद की। इस समर्थन के लिए स्मिथ ने धोनी के प्रति आभार व्यक्त किया।
उन्होंने धोनी के शांत और संयमित आचरण से सीखे गए मूल्यवान सबक के बारे में भी बात की, जिसका उन्होंने अपनी नेतृत्व शैली में अनुकरण करने की कोशिश की है। स्मिथ ने कहा, "बेशक़ आप जानते हैं कि वह (धोनी) इतने लंबे समय में काफ़ी कुछ हासिल करने में सक्षम रहे हैं। वह निश्चित रूप से सबसे बेहतरीन कप्तानों में से एक हैं। जब कप्तानी करने के लिए मुझे फ़ोन आया तो वह मेरे लिए काफ़ी चुनौतीपूर्ण समय था। हालांकि धोनी ने हर तरह से मेरी मदद की और मेरे लिए यह गर्व की बात थी कि, मैं उस टीम की कप्तानी कर पाया, जिसमें धोनी कप्तान थे।"
उन्होंने आगे कहा, "जब मुझसे कप्तानी के बारे में पूछा गया तो मैं थोड़ा सा चौंक गया। मुझे समझ नहीं आया कि मैं क्या कहूं। मैने उनसे पूछा कि क्या आपने एमएस से इस बारे में बात की है? हालांकि जब सारी बातें साफ़ हो गईं, उसके बाद धोनी ने मेरी काफ़ी मदद की। उन्होंने उस साल टीम का मार्गदर्शन करने में जिस तरह से मदद की, वह अविश्वसनीय था।"
स्मिथ ने आगे कहा, "मुझे लगता है कि धोनी को जिस तरह से हमने शांत देखा है, उससे यह कभी नहीं लगा कि वह किसी भावना या किसी और चीज़ से घबराए हुए हैं। यह एक ऐसी बात है, जिसे मैंने हमेशा से सीखने का प्रयास किया है।"