मैच (13)
IPL (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

जिमी ऐडम्स के अनुसार अनफ़िट खिलाड़ी "व्यक्तिगत तौर पर ही नहीं पूरे क्षेत्र के लिए अफ़सोस" का पात्र

फ़िटनेस के चलते एविन लुइस को वेस्टइंडीज़ टीम से बाहर रखने पर क्रिकेट निदेशक ऐडम्स और मुख्य चयनकर्ता डेसमंड हेंस ने तीख़ी टिप्पणी की

ऐडम्स ने कहा जो खिलाड़ी अनुबंधित होते हुए फ़िटनेस के चलते टीम में जगह नहीं बनाते उनके लिए अनुबंध में ही दण्ड का प्रावधान है।  •  Getty Images

ऐडम्स ने कहा जो खिलाड़ी अनुबंधित होते हुए फ़िटनेस के चलते टीम में जगह नहीं बनाते उनके लिए अनुबंध में ही दण्ड का प्रावधान है।  •  Getty Images

क्रिकेट वेस्टइंडीज़ के मुख्य चयनकर्ता डेसमंड हेंस और क्रिकेट निदेशक जिमी ऐडम्स ने वेस्टइंडीज़ के खिलाड़ियों को "न्यूनतम फ़िटनेस मापदंडों" का पालन ना कर पाने पर आलोचना की है। ऐडम्स ने ऐसे खिलाड़ियों पर उनके अनुबंध में कटौती होने की चेतावनी दी और हेंस ने कहा कि वह ऐसे खिलाड़ियों से "काफ़ी निराश" हैं।
हेंस ने कहा, "जब आप दुनिया भर में खेली जा रही क्रिकेट की मात्रा देखते हैं तो ज़ाहिर होता है फ़िटनेस का एक न्यूनतम मापदंड रखना कितना ज़रूरी है। मुझे चिंता होती है जब मैं किसी को चुनता हूं और मुझे विश्वास नहीं होता वह खिलाड़ी दौरा पूरा करने के लिए फ़िट होगा या नहीं। पेशेवर क्रिकेटर के तौर पर आपको फ़िटनेस के एक स्तर तक तो रहना ही चाहिए।"
वेस्टइंडीज़ ने हाल ही में नीदरलैंड्स और पाकिस्तान के दौरों के लिए वनडे टीमों की घोषणा की। जेसन होल्डर और शिमरॉन हेटमायर प्रमुख नाम थे जो इसका हिस्सा नहीं थे लेकिन सबसे ज़्यादा चर्चा का विषय था एविन लुइस का ना चुना जाना। यह कहा गया था कि लुइस न्यूनतम फ़िटनेस मापदंड बरक़रार नहीं रख पाए थे। हेटमायर को भी पहले इस कारण टीम से बाहर रखा गया है लेकिन इस अवसर पर उन्हें अपने पहले बच्चे के जन्म के चलते घर जाने की अनुमति दी गई है।
ऐडम्स ने कहा, "जो खिलाड़ी अनुबंधित होते हुए फ़िटनेस के चलते टीम में जगह नहीं बनाते उनके लिए अनुबंध में ही दण्ड का प्रावधान है। हमारी नज़रों में ऐसे खिलाड़ी हैं जो चुने जाने की प्रतिभा रखते हैं लेकिन फ़िटनेस स्तर के चलते ऐसा नहीं होगा और यह निराशाजनक है। जब वह खिलाड़ी अनुबंधित भी हो तो और भी मायूसी होती है। इसका मतलब हुआ हमने ऐसे खिलाड़ी पर साल भर का निवेश किया है और बदले में हमें कुछ नहीं मिला। यह एक चिंता का विषय है और इस बारे में अगले अनुबंधों से पहले बातचीत ज़रूर होनी चाहिए। यह उस व्यक्ति के लिए ही नहीं पूरे क्षेत्र के लिए अफ़सोस की बात है।"
वेस्टइंडीज़ क्रिकेट में फ़िटनेस बरक़रार ना रखने पर पहले भी कई विवाद पैदा हुए हैं। पूर्व कप्तान कायरन पोलार्ड ने इस साल के शुरुआत में अपनी टीम में फ़िटनेस की ओर प्रतिबद्धता पर सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि खिलाड़ियों को अपने फ़िटनेस पर गर्व होना चाहिए और इसे वह हल्के में ना लें तो अच्छा है। ऐडम्स ने कुछ ऐसा ही मानते हुए कहा, "आख़िर में इसकी ज़िम्मेदारी खिलाड़ी से ही शुरू होती है। हम उनको सपोर्ट कर सकते हैं लेकिन अधिकतर मामलों में खिलाड़ी ईमानदारी से कहेगा कि उसने ख़ुद के साथ इंसाफ़ नहीं किया है। हम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टीमों के साथ मुक़ाबला करना चाहते हैं। यह एक क्षेत्र है जहां हम निरंतर सुधार करना चाहते हैं और आगे भी करते रहेंगे।"
हेंस ने पोलार्ड के योगदान की तारीफ़ की लेकिन नए सफ़ेद गेंद कप्तान निकोलस पूरन की नियुक्ति का स्वागत किया। उन्होंने कहा, "पोलार्ड का मैदान के अंदर और बाहर योगदान भुलाया नहीं जा सकता। उनकी कमी ज़रूर खलेगी लेकिन काफ़ी सारे अच्छे खिलाड़ी मौजूद हैं और ख़ास कर कई हरफ़नमौला। वेस्टइंडीज़ के लिए क्रिकेट खेलना एक सपने की पूर्ती होती है। युवा खिलाड़ियों के लिए एक बेहतरीन मौक़ा है। अगर आप निकोलस पूरन को ख़ुद को आईपीएल में संभालते हुए देखेंगे तो आपको यक़ीन होगा कि वह इन युवा खिलाड़ियों की कप्तानी भी बढ़िया तरीक़े से करेंगे।"