रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु 180 for 0 (पडिक्कल 101*, कोहली 72*) ने राजस्थान रॉयल्स 177 for 9 (दुबे 46, ते​वतिया 40, सिराज 3-27, पटेल 3-47) को 10 विकेट से हराया
देवदत्त पडिक्कल के लगाए गए शानदार शतक की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) आईपीएल 2021 में लगातार चौथी जीत दर्ज करने में कामयाब रही, जहां उन्होंने राजस्थान रॉयल्स को 10 विकेट से 21 गेंद शेष रहते शिकस्त दे दी।
संजू सैमसन की टीम किसी तरह शानदार सीम गेंदबाजी का सामना करते हुए 177 रनों तक पहुंची लेकिन यह काफी नहीं था।
पावरप्ले में खराब प्रदर्शन
आईपीएल 2021 में रॉयल्स ने सबसे खराब ओपनिंग साझेदारी (औसत 14.25) की, जिससे वह जल्द ही दबाव में आ गए थे।
मुहम्मद सिराज ने जोस बटलर को क्लीन बोल्ड कर दिया। यह शानदार गेंद थी, जो उनकी प्रतिभा को दिखाती है और उससे ज्यादा जरूरी वह अनुभव जो उन्होंने भारतीय टीम के साथ यात्रा करके पाया है, वो भी कई बार टीम का प्रमुख गेंदबाज बनकर। इसके बाद उन्होंने डेविड मिलकर का एक खूबसूरत यॉर्कर से स्वागत किया, जहां बल्लेबाज को अंदाजा भी नहीं हुआ कि गेंद अंदर आ रही है, लेकिन उन्होंने डीआरएस लिया, बावजूद इसके मिलर को पवेलियन लौटना ही पड़ा।
आरसीबी के तेज गेंदबाजों ने पावरप्ले में स्टंप पर आक्रमण किया, उन्होंने गेंद को फुल लेंथ तो रखा लेकिन ड्राइव से दूर जहां पर उन्हें कुछ मूवमेंट और अधिक उछाल मिला, इससे रॉयल्स के बल्लेबाजों को रन जुटाने में समस्या का सामना करना पड़ा।
दुबे और तेवतिया ने बनाई पारी
रॉयल्स की टीम एक समय में छह ओर में 32 रनों पर ही तीन विकेट गंवा चुकी थी, ऐसे में शिवम दुबे के सामने एक अलग ही कहानी थी, जिसका क्लाइमेक्स उन्हें खुद लिखना था। वैसे भी आज तक एक बिग हिटर की जैसी उनकी भूमिका है, वह आईपीएल में अब तक भी नहीं दिखा पाए हैं।
अपनी पूर्व की टीम के खिलाफ उन्होंने संयम बरता और अच्छे शॉट का चयन किया। उन्होंने नौवें ओवर में युजवेंद्र चहल पर आक्रमण करने का फैसला किया। गेंद स्लॉट में आई और उन्होंने वानखेड़े की सीमा रेखा को पार कर दिया, जो उन्होंने कई बार घरेलू क्रिकेट में किया भी है।
दुबे ने 32 गेंद में 46 रन बनाए और दूसरी ओर राहुल तेवतिया ने उसके बाद नेतृत्व किया। उन्होंने कुछ अपने अटपटे शॉट, फाइन लेग की ओर स्कूप, शॉर्ट थर्ड मैन के ऊपर से लेट कट की बदौलत 23 गेंद में 40 रन ठोक डाले और रॉयल्स के नौ विकेट पर 177 रनों तक पहुंचा दिया।
पडिक्कल रहे शो स्टॉपर
चेन्नई की स्पिन विकेट पर जूझने के बाद पडिक्कल ने यहां पर गेंद की लाइन में आकर अच्छे शॉट लगाए। क्रिस मॉरिस पर कट से चौका, मुस्‍तफ‍िजुर रहमान पर छक्‍के के लिए स्‍ट्रेट ड्राइव और चेतन साकरिया पर स्लॉग स्वीप छक्का देखते ही बनता था। हर एक शॉट आरसीबी के खेमे में उत्साह भर रहा था और रॉयल्स को उनके घुटनों पर ला रहा था।
पडिक्कल ने अपना अर्धशतक 27 गेंद में पूरा किया और वह रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। खेल का अंत होते-होते लग रहा था कि वह खुद के खिलाफ ही खेल रहे हैं। जैसे, क्या में यह बाउंड्री पार कर सकता हूं? हां, आसान है। अच्छा होगा कि अब मैं रिवर्स स्वीप की भी प्रैक्टिस कर लूं? देखो वो जा रही है गेंद। उनका शतक 17वें ओवर में आया और उनकी पारी की 51वीं गेंद पर, जो उन्होंने एक्स्ट्रा कवर की ओर चौके के लिए भेजी थी।
दूसरे छोर पर कोहली भी पडिक्कल की इस खूबसूरत पारी का लुत्फ ले रहे थे और उन्होंने भी अर्धशतक लगाने के साथ ही आईपीएल में अपने 6000 रन पूरे किए।

अलागप्पन मुथू ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में एसोसिएट सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।