मैच (32)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (3)
बीबीएल (2)
महिला अंडर-19 विश्व कप (2)
बीपीएल 2023 (4)
रणजी ट्रॉफ़ी (17)
सुपर स्मैश (1)
ZIM v WI (1)
रिपोर्ट

ड्रॉ मैच में इंडिया ए के बल्लेबाज़ों का शानदार प्रदर्शन

चौथे दिन तिलक वर्मा ने जड़ा अपने प्रथम श्रेणी करियर का पहला शतक

तीन भारतीय बल्लेबाज़ों ने शतक जड़े जिसमें तीसरे दिन अभिमन्यु ईश्वरन का शानदार शतक शामिल था  •  Manoj Bookanakere/KSCA

तीन भारतीय बल्लेबाज़ों ने शतक जड़े जिसमें तीसरे दिन अभिमन्यु ईश्वरन का शानदार शतक शामिल था  •  Manoj Bookanakere/KSCA

न्यूज़ीलैंड ए 400 (कार्टर 197, मुकेश 5/86, सरफ़राज़ 2/32) और 133/4 (रचिन 40, कुलदीप 2/38) ने इंडिया ए 571/6 (पाटीदार 176, ईश्वरन 132, तिलक 121, रचिन 2/112) के साथ ड्रॉ खेला
इंडिया ए और न्यूज़ीलैंड ए के बीच बेंगलुरु में खेला गया पहला अनाधिकृत टेस्ट मैच ड्रॉ रहा। मैच के चौथे और आख़िरी दिन न्यूज़ीलैंड ए की टीम दूसरी पारी में जब 133 रन पर चार विकेट गंवाकर खेल रही थी तो दोनों टीमों के कप्तानों ने मैच को ड्रॉ करने की सहमति दी। इस मैच में इंडिया ए के तीन बल्लेबाज़ों ने शतक लगाए, जबकि तेज़ गेंदबाज़ मुकेश कुमार ने पहली पारी में पांच विकेट लिए।
मैच के चौथे दिन 492 रन पर चार विकेट से आगे खेलते हुए भारत ने पहली पारी में कुल 571 रन बनाए। हालांकि तीसरे दिन के नाबाद शतकवीर बल्लेबाज़ रजत पाटीदार अपने स्कोर में बस छह रन ही जोड़ पाए और दिन के सातवें ओवर में लोगन वैन बीक का शिकार हुए। दूसरे छोर पर युवा तिलक वर्मा ने शानदार बल्लेबाज़ी को जारी रखते हुए अपना पहला प्रथम श्रेणी शतक पूरा किया। 121 रन बनाने के बाद वह शॉन सोलिया का शिकार बने। उनके आउट होने के तीन ओवर बाद ही भारतीय टीम ने पारी घोषित कर दी। विकेटकीपर बल्लेबाज़ श्रीकर भरत ने नाबाद 23 रन की पारी खेली।
इसके बाद न्यूज़ीलैंड ए की टीम ने दिन के सभी तीनों सत्र में खेलते हुए 61 ओवर में चार विकेट खोकर 133 रन बनाए। मैच के अंतिम दिन भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव को पिच से मदद मिलने की उम्मीद दी लेकिन वह इतना प्रभावित नहीं कर पाए। उन्होंने सर्वाधिक 22 ओवर गेंदबाज़ी की लेकिन उन्हें सिर्फ़ दो विकेट ही मिल पाए। इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी न्यूज़ीलैंड ए की टीम ने जो कार्टर के शानदार 197 रनों की मदद से पहली पारी में 400 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया था। कार्टर के अलावा कप्तान रॉबर्ट ओडॉनेल (24), सोलिया (32) और माइकल रिपन (21) को भी शुरुआत मिली लेकिन कोई भी बड़े स्कोर तक नहीं पहुंच सका।
इंडिया ए के तेज़ गेंदबाज़ मुकेश ने पहले और दूसरे दिन की सुबह पिच से मिल रही मदद का पूरा फ़ायदा उठाया और पांच विकेट अपने नाम किए। बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ों यश दयाल और अरज़ान नगवासवाला ने भी उनका अच्छा साथ देते हुए एक-एक विकेट हासिल किया और कीवी बल्लेबाज़ों को बांधे रखा। पार्ट-टाइम लेग स्पिनर सरफ़राज़ ख़ान ने भी पारी के अंत में आते हुए दो विकेट झटके। वहीं टेस्ट टीम में वापसी की कोशिश कर रहे कुलदीप को सिर्फ़ एक विकेट मिल सका। कुलदीप ने पहली पारी में भी सर्वाधिक 34 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 119 रन दिए।
जवाब में इंडिया ए ने छह विकेट पर 571 रन का विशाल स्कोर खड़ा करते हुए पहली पारी में 171 रन की बढ़त ली। बाद में बल्लेबाज़ी के लिए अनुकूल हो गई पिच पर उनके तीन बल्लेबाज़ों ने शतक ठोका। सलामी बल्लेबाज़ अभिमन्यू ईश्वरन ने 132, पाटीदार ने 176 और 19 वर्षीय तिलक ने 121 रनों की शानदार शतकीय पारियां खेलीं। तीनों बल्लेबाज़ों ने मैदान के चारों तरफ़ शॉट लगाए और मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा के सामने सीनियर टीम के लिए अपनी दावेदारी पेश की। प्रियांक पांचाल ने भी 47 और सरफ़राज़ ने 36 रन बनाए।
इस दौरान न्यूज़ीलैंड ए का कोई भी गेंदबाज़ इंडिया ए के बल्लेबाज़ों को परेशान नहीं कर सका। उनकी तरफ़ से बाएं हाथ के स्पिन ऑलराउंडर रचिन रविंद्र को दो विकेट मिले, जबकि जेकब डफ़ी, वैन बीक, सोलिया और रिपन ने एक-एक विकेट झटका। तीन मैचों की इस सीरीज़ का दूसरा मुक़ाबला 8 सितंबर से 12 सितंबर के बीच कर्नाटका के हुबली में खेला जाएगा।

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं। @dayasagar95

Language
English
Hindi
मैच कवरेज
AskESPNcricinfo Logo
Instant answers to T20 questions
न्यूज़ीलैंड ए पारी
<1 / 3>