मैच (9)
ज़िम्बाब्वे बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
एसए20 (1)
आईएलटी20 (2)
बीबीएल (1)
बीपीएल 2023 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (1)
सुपर स्मैश (1)
फ़ीचर्स

रेटिंग्‍स : शेफ़ाली वर्मा को आख़‍िरकार मिले दस में से दस अंक

स्मृति और जेमिमाह ने भी जुटाए अहम अंक

बल्‍ले और गेंद से शेफ़ाली का शानदार प्रदर्शन रहा  •  Asian Cricket Council

बल्‍ले और गेंद से शेफ़ाली का शानदार प्रदर्शन रहा  •  Asian Cricket Council

शेफ़ाली वर्मा के लिए यह मैच यादगार बन गया। उन्‍होंने स्‍मृति मांधना के साथ पहले विकेट के लिए 94 रनों की साझेदारी कर डाली। वहीं गेंदबाज़ों के मिश्रित प्रदर्शन की वजह से भारत यह मैच 59 रनों से जीतने में क़ामयाब रहा। आइए देखते हैं इस जीत में भारतीय एकादश के प्रदर्शन पर किसको कितने अंक मिलते हैं।

क्या सही क्या ग़लत

भारतीय टीम आज अपने सही बल्‍लेबाज़ी क्रम के साथ उतरी। टीम के गेंदबाज़ों ने सटीक दिशा में गेंदबाज़ी की। बांग्‍लादेश के बल्‍लेबाज़ों पर दबाव बनाया लेकिन सबसे अच्‍छा रहा शेफ़ाली वर्मा का फ़ॉर्म में लौटना। उनका फ़ॉर्म में लौटने का मतलब है कि भारतीय टीम को आने वाले मैचों में तेज़ शुरुआत मिल सकती है।
ख़राब अगर कहा जा सकता है तो मध्‍य क्रम का गै़रज़‍िम्‍मेदाराना खेल। दोनों ओपनर अच्‍छी शुरुआत दिला चुके थे लेकिन मध्य क्रम में जेमिमाह के अलावा कोई सफल नहीं हो पाया। अगर इस मैच में भी जेमिमाह की जगह किसी ओर को उतार दिया जाता तो मुश्किल हो सकती थी।

प्लेयर रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)

स्मृति मांधना, 9 : स्‍मृति के बल्‍ले से निकला एक-एक शॉट आज कमाल का था। वह जहां मारना चाह रही थी उस ओर बाउंड्री मिल रही थी। भारत को एक अच्‍छी शुरुआत दिलाने में उनका अहम योगदान रहा है। वह रन आउट होकर अर्धशतक से जरूर चूकीं लेकिन तब तक वह अपना काम कर गई थी।
शेफ़ाली वर्मा, 10 : आज का मैच तो शेफ़ाली के नाम रहा है। पिछले कुछ दिनों से वह अपनी फ़ॉर्म को लेकर जूझ रही थी लेकिन आज वह असल में लय में दिखी। आगे निकलकर मारने की बात हो, पुल हो या स्‍लॉग स्‍वीप उनके बल्‍ले के बीचों बीच गेंद आ रही थी। वहीं जब बात गेंदबाज़ी की आई तो निगार सुल्‍ताना के अहम विकेट के अलावा उन्‍होंने फ़ाहिमा ख़ातून को पवेलियन भेजा।
जेमिमाह रॉड्रिग्‍ज, 8 : जेमिमाह को भी उनकी 35 रनों की पारी की बदौलत आठ अंक तो दिए जा सकते हैं। ओपनिंग साझेदारी के चलने के बाद अंत में भारतीय टीम ने लगातार विकेट गंवाए लेकिन जेमिमाह ने यह सुनिश्चित किया कि उनका विकेट नहीं जाए और वह नाबाद लौटी।
ऋचा घोष, 4 : भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में ऋचा को ओपनिंग पर भेज चुकी है, जबकि दो बार उन्‍हें बल्‍लेबाज़ी में प्रमोट तक किया गया लेकिन वह बल्‍ले से रन बनाने में असफल ही रही। आज भी वह केवल चार ही रन बना सकीं।
किरण न‍वगिरे, 3 : इस मैच में अगर किसी को सबसे कम अंक मिलते हैं तो वह किरण नवगिरे ही हैं। कई बार उन्‍हें मौके़ दिए जा चुके हैं लेकिन वह नाक़ामयाब रही। अब तक छह अंतर्राष्‍ट्रीय मैचों में उनके बल्‍ले से केवल 31 रन निकले हैं, जिसमें दो बार वह शून्‍य पर आउट हुई हैं।
दीप्ति शर्मा, 7 : दीप्ति को जब भी मौक़ा मिलता है वह निराश नहीं करती हैं। इस बार उन्‍हें पारी को फ़ीनिश करने का मौक़ा मिला, वह सफल रहीं और फिर गेंदबाज़ी में भी बाज़ी मारा। चार ओवर में 13 रन देकर दो विकेट उनके प्रदर्शन की गवाही देते हैं। फ़्लाइट और ड्रिफ़्ट के साथ वह बल्‍लेबाज़ों को छकाने में क़ामयाब हुई।
पूजा वस्त्रकर, 4 : पूजा को आज बल्‍ले के साथ अधिक मौक़े नहीं मिले। हालांकि गेंदबाज़ी में उन्‍होंने तीन ओवर किए लेकिन एक भी विकेट नहीं चटका सकीं।
एस मेघना, कोई अंक नहीं : अभी तक मिले मौक़ों का मेघना ने भरपूर फ़ायदा उठाया है, लेकिन आज भारतीय टीम ने उन्‍हें बल्‍लेबाज़ी में आज़माया नहीं, ऐसे में उन्‍हें कोई अंक नहीं दिया जा सकता है।
स्‍नेह राणा, 7 : स्‍नेह राणा को इस मैच में सात अंक इसी वजह से दिए जा सकते हैं क्‍योंकि उन्‍होंने एक अहम ओपनिंग साझेदारी को तोड़ा। मुर्शीदा ख़ातून का विकेट उनके नाम आया और इसके बाद बांग्‍लादेश की पारी लड़खड़ा गई।
रेणुका सिंह, 6 : रेणुका सिंह को एक ही विकेट मिल पाया लेकिन जिस तरह से उन्‍होंने इनस्विंग गेंदबाज़ी की वह क़ाबिले तारीफ़ थी। उनकी गेंदों को खेलने में बल्‍लेबाज़ों को दिक्‍कत का सामना हो रहा था।
राजेश्वरी गायकवाड़, 5 : राजेश्‍वरी गायकवाड़ को आज कोई भी विकेट नहीं मिल पाया, लेकिन वह अपनी सधी हुई गेंदबाज़ी के लिए जानी जाती हैं। ऐसा ही इस बार उन्‍होंने किया। तीन ओवर में केवल 17 रन। ऐसे में उन्‍हें पांच अंक दिए जा सकते हैं।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26