मैच (10)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
आईएलटी20 (1)
एसए20 (1)
बीबीएल (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
ख़बरें

सक़लैन: अगर आप एक चैंपियन टीम हैं तो आपको चैंपियन बनने की ज़रूरत है

पाकिस्तान के मुख्य कोच के अनुसार पिछले दो मैचों के प्रदर्शन के आधार पर श्रीलंकाई टीम ही जीत की हक़दार थी

एशिया कप में फ़ाइनल से पहले दुबई में टॉस हारकर किसी भी टीम ने जीत हासिल नहीं की थी। पहले बल्लेबाज़ी करते हुए श्रीलंका एक समय पर पांच विकेट के नुक़सान पर 58 रन बना कर खेल रहा था। इसके बावजूद वह इस मैच को जीतने में सफल रहा। लगातार चार बार लक्ष्य पीछा करते हुए उनकी टीम ने जीत हासिल की थी। यह पहली बार था, जब वे लक्ष्य का बचाव कर रहे थे और उन्हें जीत हासिल हुई।
पाकिस्तान के प्रमुख कोच सक़लैन मुश्ताक़ ने प्रेस वार्ता में कहा, "अगर आप एक चैंपियन टीम हैं तो आपको चैंपियन बनने की ज़रूरत है, चाहे वह पहली पारी हो या दूसरी पारी। पिछले मैच में उन्होंने हमें पहले बल्लेबाज़ी करने के लिए कहा और जीत हासिल की। ​​इस खेल में हमने दूसरी पारी में बल्लेबाज़ी की, इसके बावजूद भी वे जीत गए। पिछले दो मैचों में उनके प्रदर्शन को देखें तो वे इस जीत के हक़दार थे।"
शुरुआती कुछ आसान प्रश्नों के बाद जल्द ही कठिन और शायद बहुत ही उचित प्रश्न सक़लैन से पूछे गए। इनमें मोहम्मद रिज़वान की टी20 बल्लेबाज़ी के प्रति दृष्टिकोण, बाबर आज़म की टी20 फ़ॉर्म, ख़राब मध्य क्रम जैसे मुद्दों पर कई सवाल किए गए।
रविवार को खेले गए फ़ाइनल में रिज़वान ने 49 गेंदों में 55 रनों की पारी खेली और 17वें ओवर में आउट हुए। रिज़वान ऐसे वक़्त पर आउट हुए जहां से पाकिस्तान को जीत के लिए अंतिम चार ओवरों मे 61 रनों की आवश्यकता थी। उसी ओवर में वनिंदु हसरंगा ने आसिफ़ अली और ख़ुशदिल शाह को भी पवेलियन भेज कर मैच को पूरी तरह से श्रीलंका की तरफ़ मोड़ दिया।
इस बिंदु पर हम धैर्य के साथ काम कर रहे हैं, बस आपको भरोसा दिखाने की ज़रूरत है। यदि आप फेरबदल करते रहते हैं तो यह संदेश जाता है कि आपको उन पर भरोसा नहीं है। दूसरे मैच के बाद ही हमारे बल्लेबाज़ी क्रम में फेरबदल के बारे में बात हुई थी। मैं सोशल मीडिया फ़ॉलो नहीं करता, लेकिन इस पर हो रही बातों को ज़रूर सुनता हूं।
सक़लैन मुश्ताक
सक़लैन ने धैर्यपूर्वक सवालों को सुना और अपने अनूठे अंदाज़ में उनका जवाब दिया। उन्होंने रिज़वान का पूरी तरह से बचाव करते हुए कहा, "हर टीम और खिलाड़ी की अपनी शैली और तरीक़े होते हैं। इसी तरह से खेलते हुए हम पिछले साल टी 20 विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में पहुंचे थो। इसके बाद हम एशिया कप के फ़ाइनल में पहुंचे। ये सारी चीज़ें बताती हैं कि आप इन स्तरों तक पहुंचने के लिए कुछ न कुछ सही का कर रहे हैं। यह ज़रूरी नहीं है कि आप वही करें जो बाक़ी दुनिया कर रही है। हम उन छोटी चीज़ों पर ध्यान केंद्रित करेंगे जो हम सही नहीं कर रहे हैं, बजाय इसके कि हम वह करने का प्रयास करें दूसरी टीम या खिलाड़ी कर रहे हैं। उनका(रिज़वान) अंदाज़ ख़राब नहीं है।"
बाबर के लिए यह टूर्नामेंट काफ़ी ख़राब रहा। फ़ाइनल से पहले श्रीलंका के ख़िलाफ़ उन्होंने जो 30 रन बनाए थे, वह छह पारियों में उनका सर्वोच्च स्कोर था। सक़लैन ने उनके बारे में कहा, "मैंने पहले भी कहा था अगर कोई उनकी बल्लेबाज़ी को देखे तो आप कहेंगे कि वह बदक़िस्मत है। ख़ासकर जिस तरह से वह आउट हो रहा है, उसे देखते हुए यही कहा जा सकता है। यह सिर्फ़ एक ख़राब दौर है। यदि आप रैंकिंग को देखते हैं तो वह टी 20 में तीसरे और वनडे मैचों में शीर्ष पर है। अभ्यास के दौरान वह जिस तरीक़े की टच में हैं, वह अदभुत है। मुझे उम्मीद है कि अल्लाह उसे बुरी नज़र से बचाएगा।"
सक़लैन से पूछा गया था कि क्या पाकिस्तान बाबर और रिज़वान को सलामी बल्लेबाज़ के रूप में मैदान पर भेज कर रणनीतिक रूप से ग़लती कर रहा है। क्या फख़र ज़मान ओपिनिंग के लिए एक बढ़िया विकल्प हो सकते हैं क्योंकि इससे दाएं और बाएं हाथ का संयोजन भी विपक्षी टीमों को परेशान कर सकता है।
सकलैन ने कहा, "इस बिंदु पर हम धैर्य के साथ काम कर रहे हैं, बस आपको भरोसा दिखाने की ज़रूरत है। यदि आप फेरबदल करते रहते हैं तो यह संदेश जाता है कि आपको उन पर भरोसा नहीं है। दूसरे मैच के बाद ही हमारे बल्लेबाज़ी क्रम में फेरबदल के बारे में बात हुई थी। मैं सोशल मीडिया फ़ॉलो नहीं करता, लेकिन इस पर हो रही बातों को ज़रूर सुनता हूं। सबसे पहली ज़रूरत है कि हमें विश्वास दिखाना होगा। अगर आप फेरबदल करते रहेंगे तो इससे एक ग़लत संदेश जाएगा।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo के सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।