मैच (25)
Legends WC (1)
ENG v NZ (W) (1)
LPL (3)
TNPL (4)
ZIM v IND (2)
MLC (3)
T20 Blast (8)
RHF Trophy (3)
ख़बरें

शुभमन गिल ने कैसे शाहीन शाह अफ़रीदी की क्लास लगाई

युवा बल्लेबाज़ ने दिखाया कि वह बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ी के ख़िलाफ़ कहीं से भी कमज़ोर नहीं हैं

शुभमन गिल बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ कमज़ोर नहीं दिखते हैं। पाकिस्तान के ख़िलाफ़ रविवार को हुए मैच से पहले गिल ने बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ 108 गेंदों में 39.33 की औसत से 118 वनडे रन बनाए थे। हालांकि यह उनके ओवरऑल वनडे औसत 63.08 से बहुत कम है, लेकिन आप 39 की औसत को कमज़ोरी भी तो नहीं कह सकते हैं। वह बाएं हाथ के गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ वनडे में तीन बार आउट भी हुए हैं।
पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मैच से पहले शुभमन ने बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ ख़ास तैयारी की थी और इसके लिए बाएं हाथ के थ्रो डाउन स्पेशलिस्ट नुवान सेनीवीरात्ने के साथ कई सत्र अभ्यास के दौरान बिताए थे। इसका परिणाम हमें मैच के दिन देखने को मिला और उन्होंने पाकिस्तान के बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ शाहीन शाह अफ़रीदी को ख़ास निशाना बनाया।
शुभमन ने अफ़रीदी की पैड पर आती लेंथ गेंद को फ़ाइन लेग पर ग्लांस किया और जब फिर गेंद ऊपर आई तो उसे मिडविकेट के ऊपर खेल दिया। इसके बाद वह ऑफ़ स्टंप के बाहर की गुड लेंथ गेंद पर तेज़ी से चढ़े और उसे मिड ऑफ़ के बगल से चौके के लिए ड्राइव कर दिया।
अफ़रीदी के अगले ओवर में शुभमन और भी आक्रामक दिखे। अब उनका आत्मविश्वास छलक कर बाहर आ रहा था। एक गेंद पर तो वह कुछ क़दम बाहर निकले और उसे गेंदबाज़ के सिर के ऊपर से खेल दिया। इसके बाद उन्होंने एक गेंद को मिड ऑफ और कवर के बीच बने गैप में भेजा, जबकि एक गेंद प्वाइंट बाउंड्री के उस पार गई। टूर्नामेंट के सबसे सफल गेंदबाज़ पर शुभमन अब लगातार दो ओवरों में तीन-तीन चौके जड़ चुके थे।
अगर आपको लगता है कि बल्लेबाज़ी के लिए परिस्थितियां आसान थी, तो आप शायद ग़लत हैं। दूसरे छोर पर भारतीय कप्तान रोहित शर्मा, नसीम शाह के ख़िलाफ़ संघर्ष करते दिख रहे थे। नसीम के ख़िलाफ़ पहले 20 गेंदों में से 19 पर रोहित एक भी रन नहीं बना पाए थे। नसीम, अफ़रीदी से अधिक तेज़ गेंदबाज़ी कर रहे थे और वह उछाल और सीम मूवमेंट भी अधिक प्राप्त कर रहे थे। अफ़रीदी को भी हवा में स्विंग मिल रही थी, लेकिन वह अपने पहले स्पेल में नियंत्रण में नहीं दिखे। शुभमन ने इसका पूरा फ़ायदा उठाया।
हालांकि नसीम के ख़िलाफ़ शुभमन को भाग्य का सहारा भी मिला। नसीम की एक शॉर्ट गेंद पर उनके बल्ले का ऊपरी किनारा लगा था और गेंद स्लिप की ओर उछली थी, लेकिन पहले स्लिप पर खड़े इफ़्तिख़ार अहमद ने इस कैच की ओर जाने की जहमत भी नहीं की। अंत में शुभमन, अफ़रीदी के एक लेग कटर गेंद का शिकार हुए और कवर में लपके गए।
लेकिन पावरप्ले में नौ चौके सहित 30 गेंदों में 41 रन बनाकर शुभमन ने दिखा दिया कि वह किसी भी तरह की गेंदबाज़ी के ख़िलाफ़ कमज़ोर नहीं हैं।

ऐंड्रयू फ़ि़डेल फ़र्नांडो ESPNcricinfo के श्रीलंका संवाददाता हैं @afidelf