मैच (18)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
AFG v IRE (1)
Nepal Tri-Nation (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
Durham in ZIM (1)
IND v ENG (1)
BPL 2023 (1)
CWC Play-off (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
ख़बरें

अज़ीज़उल्लाह फ़ाज़ली की अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर वापसी

तालिबान के कब्ज़े के बाद अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट में उनकी नियुक्ति पहली बड़ी प्रक्रिया है

अज़ीज़उल्लाह फ़ाज़ली (हाथ मिलाते हुए, बाईं ओर) ने फ़रहान युसूफ़ज़ई की जगह ली  •  Afghanistan Cricket Board

अज़ीज़उल्लाह फ़ाज़ली (हाथ मिलाते हुए, बाईं ओर) ने फ़रहान युसूफ़ज़ई की जगह ली  •  Afghanistan Cricket Board

अज़ीज़उल्लाह फ़ाज़ली अब अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) के नए अध्यक्ष होंगे। उनकी नियुक्ति अफ़ग़ानिस्तान में तालिबानी हुकुमत आने के बाद क्रिकेट में पहली बड़ी प्रक्रिया है।
फ़ाज़ली इससे पहले भी अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष रह चुके हैं, सितंबर 2018 में आतिफ़ मशाल के इस्तीफ़ा देने के बाद जुलाई 2019 तक फ़ाज़ली ही एसीबी के अध्यक्ष थे। इसके बाद इंग्लैंड में हुए 2019 क्रिकेट विश्व कप में अफ़ग़ानिस्तान अंक तालिका में सबसे नीचे रहा था और इसकी गाज फ़ाज़ली पर गिरी थी, उनकी जगह फ़रहान युसूफ़ज़ई को एसीबी का चेयरमैन नियुक्त किया गया था।
रविवार को एसीबी के अधिकारियों के साथ तालिबान की बैठक हुई थी और उसके बाद ही फ़ाज़ली की अध्यक्ष पद पर वापसी हुई है। फ़ाज़ली अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट के साथ क़रीब दो दशकों से जुड़े रहे हैं, और वह उन लोगों में से हैं जिन्होंने इस देश में क्रिकेट की नींव रखी थी। वह अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं, साथ ही साथ उनपर देश के घरेलू और क्षेत्रीय क्रिकेट के सेटअप की भी ज़िम्मेदारी रही है।
फ़ाज़ली के ऊपर अभी सबसे बड़ी ज़िम्मेदारी होगी कि अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान के बीच होने वाली वनडे सीरीज़ को सही तरीक़े से अंजाम दिलाया जाए। फ़िलहाल इस सीरीज़ में एक के बाद एक लगातार बाधाएं आती जा रही हैं। तालिबान के कब्ज़े के बाद भी अबतक काबुल से किसी प्रकार की व्यवसायिक फ़्लाइट नहीं उड़ रही है, जिसकी वजह से टीम को सड़क मार्ग से पाकिस्तान और फिर वहां से हवाई यात्रा के ज़रिए दुबई और वहां से श्रीलंका ले जाने की बात हो रही है। इसके अलावा उस सीरीज़ पर संकट के बादल इसलिए भी मंडरा रहे हैं क्योंकि कोविड-19 की वजह से श्रीलंका में 10 दिनों का लॉकडाउन लगा दिया गया है।

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट सैयद हुसैन (@imsyedhussain) ने किया है।