फ़ीचर्स

आकड़े झूठ नहीं बोलते : असली मुक़ाबला तो रोहित और गप्टिल के बीच है

न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ अपने आंकड़ो को ठीक करना चाहेगा भारत

Rohit Sharma plays a sweep, Afghanistan vs India, T20 World Cup, Group 2, Abu Dhabi, November 3, 2021

एक नए कप्तान के तौर पर रोहित के लिए यह सीरीज़ अहम रहेगी  •  ICC/Getty Images

टी20 विश्व कप के बाद न्यूज़ीलैंड की टीम भारत के दौरे पर है। कल इस दौरे का पहला टी20 मैच खेला जाएगा। गौर करने वाली बात यह है कि इस टी20 सीरीज़ में विराट कोहली और केन विलियमसन अपनी-अपनी टीम का हिस्सा नहीं होंगे। आइए इस मैच से जुड़े कुछ मजे़दार आंकड़ोंऔर तथ्यों को जानते हैं।
रोहित बनाम गप्टिल
टी20 अतंर्राष्ट्रीय में तीन बल्लेबाज़ 3 हजार रनों का आंकड़ा पार करने में सफल रहे हैं: विराट कोहली (3227), मार्टिन गप्टिल (3147) और रोहित शर्मा (3028)। इस सीरीज़ में रोहित और गप्टिल के पास विराट के स्कोर को पार करने का मौक़ा है।
एक ओपनर के तौर पर भी टी20 अतंर्राष्ट्रीय में गप्टिल ने 90 पारियों में 2820 रन बना कर शीर्ष पर हैं और दूसरे नंबर पर हैं जिन्होंने 82 मैचों में 2564 रन बनाए हैं। वही एक ओपनर के तौर पर टी20 अतंर्राष्ट्रीय में सबसे ज़्यादा सिक्सर लगाने का रिकॉर्ड गप्टिल के नाम है। उन्होंने 144 सिक्सर लगाए हैं। वहीं 119 सिक्सर लगा कर रोहित दूसरे नंबर पर हैं।
लक्ष्य 2022
अगले साल सितंबर में एक बार फिर से टी20 विश्व कप का आयोजन होने वाला है। उससे पहले भारतीय टीम अलग-अलग टीमों के ख़िलाफ़ 21 टी20 मुक़ाबले खेलने वाली है। एक नए कप्तान के तौर पर रोहित शर्मा के पास खुद एक बेहतर कप्तान के रूप में स्थापित करने के लिए यह एक बढ़िया समय रहेगा। साथ ही अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप के लिए भी भारतीय टीम मेनेजमेंट के पास एक बढ़िया टीम बनाने के लिए पर्याप्त समय मिलने वाला है।
हेड टू हेड
इनदोनों टीमों के बीच अब तक कुल 17 मैच खेले गए हैं। इसमें से 9 मैच न्यूज़ीलैंड ने जीते हैं और 8 मैचों में भारत को जीत मिली है। 2018 के बाद से इनदोनों टीम के बीच 9 मुक़ाबले हुए हैं जिसमें से 6 मैच भारत ने जीते हैं और 3 मैच न्यूज़ीलैंड की झोली में गिरी है।
एक बात गौर करने वाली है कि न्यूज़ीलैड के ख़िलाफ भारत का विनिंग पर्सेंटेज सबसे बुरा (47.0%) है। इसके अलावा भारत का इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 52.6% विनिंग पर्सेंटेज है और ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 56.5 फीसदी है।
सवाई मान सिंह स्टेडियम
सवाई मान सिंह स्टेडियम में कभी भी इंटरनेशनल टी20 मैच नहीं खेला गया है। हालांकि यहां खेले गए 90 टी20 मैचों में 36 बार पहले बैटिंग करने वाली और 54 बार दूसरी पारी में बैटिंग करने वाली टीम जीती है। वहीं आईपीएल 2019 से यहां 7 मैच हुए जिसमें पहले बल्लेबाज़ी करने वाली टीम ने 6 मुक़ाबले जीते हैं।
स्पिनर्स को मिलती है मदद
बड़ी बाउंड्री होने के कारण यहां स्पिनरों को गेंदबाज़ी करने में सहूलियत होती है। 2019 के बाद से इस पिच पर स्पिनरों ने 7.5 की रन दर से 27 विकेट झटके हैं। इस दौरान उनका औसत 29.6 रहा है। वहीं तेज़ गेंदबाज़ों की इकॉनमी 8.7 है और औसत 26.8 है।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं