मैच (6)
एशिया कप (4)
लेजेंड्स लीग (1)
भारत बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : यह वह विलियमसन नहीं जिन्हें सब जानते हैं

सनराइज़र्स हैदराबाद और गुजरात टाइटंस के बीच होने वाले मैच के रोचक आंकड़े

Kane Williamson does some stretches, Punjab Kings vs Sunrisers Hyderabad, IPL 2022, DY Patil Stadium, Mumbai, April 17, 2022

इस सीजन 100 से नीचे के स्‍ट्राइक रेट से रन बना रहे हैं विलियसन  •  BCCI

आईपीएल 2022 की अंक तालिका में अगर कोई दो टीम शीर्ष पर बैठी हुई हैं तो वह गुजरात टाइटंस और सनराइज़र्स हैदराबाद ही हैं। इन दोनों ही टीमों के गेंदबाज़ों ने अब तक आईपीएल में अपना वर्चस्व जमाया है। पावरप्ले हो या डेथ ओवर, इनके गेंदबाज़ों ने हर बार अपना फ़र्ज़ निभाया है।
विलियसन के लिए चिंता का कारण
हैदराबाद के कप्तान का यह सीज़न बेहद ही ख़राब गया है, उन्होंने उम्मीदानुसार बल्लेबाज़ी नहीं की है। उन्होंने सात पारियों में केवल दो ही बार 30 से ज़्यादा का स्कोर बनाया है और केवल एक ही बार उनका स्ट्राइक रेट 110 के पार गया है, वो भी तब जब उन्होंने गुजरात के​ ख़िलाफ़ 124 के स्ट्राइक रेट से 46 गेंद में 57 रनों की पारी खेली थी। ऐसे में केन विलियमसन को अपने रनों की गति को भी बढ़ाना होगा और साथ ही साथ रन भी बनाने होंगे, क्योंकि अब तक तो उन्होंने इस सीज़न में केवल 95 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। यह केवल उनका ही नहीं बल्कि किसी भी बल्लेबाज़ का सबसे कम स्ट्राइक रेट है।
शुभमन खेले 10 गेंद तो करेंगे काम
शुभमन गिल ने इस सीज़न या तो अच्छे स्ट्राइक रेट से अर्धशतक लगाया है या वह पारी की शुरुआत में ही आउट हो गए हैं। इस सीज़न सात में से चार बार वह 10 गेंदों के अंदर आउट हो गए हैं। अगर वह शुरुआत में आउट नहीं होते हैं तो उन्होंने तुरंत पांचवां गियर बदलते हुए 150 से ज़्यादा के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। 10 से कम गेंद खेलते हुए इस बार उनसे ज़्यादा केवल विराट कोहली ही आउट हुए हैं। पिछली चार पारियों में उन्होंने 7, 0, 13 और 7 का स्कोर किया है।
गुजरात के बल्लेबाज़ों के लिए रेड अलर्ट
पिछले मैच में हैदराबाद के गेंदबाजों ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 67 रनों पर ढेर कर दिया था। हक़ीक़त यह है कि हैदराबाद जो आज अंक तालिका में दूसरे नंबर पर है, उन्होंने इस सीज़न सबसे ज़्यादा विकेट चटकाए हैं। उनके गेंदबाज़ों ने अब तक शानदार काम किया है। सात मैचों में 8 के इकॉनमी से सबसे ज़्यादा 55 विकेट। उन्होंने औसतन हर 14.8 गेंद के बाद एक विकेट लिया है।
पावरप्ले और अंतिम ओवरों की दो बेहतरीन टीमें
बात अगर पावरप्ले में विकेट लेने और रनों के बहाव पर अंकुश लगाने की आए तो ये दोनों ही टीमें इसमें अब तक अव्वल रही हैं। यही इस सीज़न उनकी सफलता का एक कारण भी है। गुजरात टाइटंस ने पावरप्ले में सबसे ज़्यादा 17 विकेट चटकाए हैं, जबकि उनके ठीक पीछे सनराइज़र्स हैदराबाद है, जिनके नाम 16 विकेट हैं। टी नटराजन, लॉकी फ़र्ग्‍युसन और मोहम्मद शमी ने इस साल आईपीएल में पावरप्ले में संयुक्त रूप से सबसे ज़्यादा विकेट चटकाए हैं और अपनी टीम की जीत की नींव रखी है। वहीं अगर पावरप्ले में कम से कम पांच ओवर करने वाले गेंदबाज़ों की बात करें तो उसमें सबसे अच्छी इकॉनमी (4.7) हार्दिक पंड्या की है।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26