मैच (13)
T20 वर्ल्ड कप (4)
SL vs WI [W] (1)
T20 Blast (8)
फ़ीचर्स

रणनीति: क्या गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी दोनों में ओपनिंग के लिए आएंगे अश्विन?

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी या गेंदबाज़ी? कौन होगा बटलर का विकल्प?

IPL 2024 लीग चरण के आधे हिस्से के गुजरने के बाद राजस्थान रॉयल्स (RR) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (RCB) क्रमशः पहले और दसवें स्थान पर थे। अब इन दोनों टीमों को आपस में एलिमिनेटरमें भिड़ना है। जहां RCB ने लगातार छह जीत के साथ अविश्वसनीय ढंग से प्लेऑफ़ में प्रवेश किया है, वहीं RR लगातार चार हार के बाद इस मुक़ाबले में उतरेगा।
इस सीज़न जब ये दोनों टीमें एकमात्र बार लीग मुक़ाबलों में भिड़ी थीं, तो RR को जीत मिली थी। लेकिन तब से बहुत कुछ बदल चुका है। विराट कोहली ने अपने टी20 करियर का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलना शुरू किया है और RCB के गेंदबाज़ अच्छे फ़ॉर्म में हैं। वहीं RR के पास लय और जॉस बटलर दोनों नहीं हैं। आइए डालते हैं दोनों टीमों के कुछ रणनीतियों पर नज़र, जो बुधवार को लागू हो सकती हैं।

बटलर की जगह कौन?

RR की टीम इस सीज़न काफ़ी पारंपरिक नज़र आ रही है। उनके बल्लेबाज़ ताबड़तोड़ रन बनाने से पहले क्रीज़ पर समय बिताना पसंद करते हैं और वे टूर्नामेंट की पांचवीं सबसे धीमी स्कोरिंग टीम हैं। हालांकि गेंदबाज़ी इकॉनमी के मामले में यह टीम दूसरे नंबर पर है। मेरा व्यक्तिगत मानना है कि उन्हें बटलर की जगह यशस्वी जायसवाल के साथ आर अश्विन को ओपनिंग के लिए भेजना चाहिए ताकि बल्लेबाज़ी क्रम से अधिक छेड़छाड़ ना हो और उनके पास नांद्रे बर्गर या केशव महाराज के रूप में एक अतिरिक्त विदेशी गेंदबाज़ी विकल्प हो।
बर्गर ने RCB के ख़िलाफ़ पिछले मैच में शानदार प्रदर्शन किया था, वहीं महाराज की बाएं हाथ की स्पिन गेंदबाज़ी कोहली के ख़िलाफ़ प्रभावी साबित हो सकती है, जो इस समय बेहतरीन फ़ॉर्म में हैं और टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं।
वे बटलर की जगह टॉम कोहलर-कैडमोर को भी खिला सकते हैं, लेकिन कोहलर-कैडमोर अधिकतर नंबर तीन या चार पर खेलते हैं। तो यदि RR के विकेट जल्दी गिरते हैं तो वे कोहलर-कैडमोर को मध्यक्रम में ला सकते हैं, नहीं तो उनके पास अतिरिक्त गेंदबाज़ का विकल्प होगा ही।

अश्विन को पावरप्ले में गेंदबाज़ी?

ट्रेंट बोल्ट का फ़ाफ़ डुप्लेसी, रजत पाटीदार और ग्लेन मैक्सवेल के ख़िलाफ़ अच्छा मैच-अप है और वह निश्चित रूप से गेंदबाज़ी की शुरुआत करेंगे। हालांकि कोहली जिस तरह से बाएं हाथ की गेंदबाज़ी का लुत्फ़ उठाते हैं और अश्विन के ख़िलाफ़ टी20 मैचों में थोड़ा रूककर खेलते हैं, तो अश्विन को बोल्ट के साथ नई गेंद देनी चाहिए। अश्विन का ना सिर्फ़ कोहली बल्कि डुप्लेसी और पाटीदार के ख़िलाफ़ भी अच्छा गेंदबाज़ी रिकॉर्ड और मैच-अप है।

डेथ में आवेश और संदीप?

युज़वेंद्र चहल का डुप्लेसी, कोहली और दिनेश कार्तिक के ख़िलाफ़ रिकॉर्ड बहुत शानदार है, लेकिन मैक्सवेल और कैमरन ग्रीन की ऑस्ट्रेलियाई जोड़ी RR के दोनों स्पिनरों के ख़िलाफ़ तेज़ गति से रन बनाते हैं। इसको देखते हुए RR चाहेगा कि चहल के डेथ ओवरों में एक भी ओवर ना बचे और वे आवेश ख़ान और संदीप शर्मा की तेज़ गेंदबाज़ी के साथ जाएं।

मैक्सवेल से गेंदबाज़ी की शुरुआत?

यशस्वी जायसवाल का मैक्सवेल के ख़िलाफ़ रिकॉर्ड बहुत अच्छा है। लेकिन जिस तरह से RR पावरप्ले में तीसरी सबसे धीमी रन बनाने वाली टीम है, तो पार्ट-टाइमर मैक्सवेल के एक-दो सस्ते ओवर पावरप्ले में ही करवाए जा सकते हैं।
अगर मैक्सवेल कसी हुई गेंदबाज़ी करते हैं तो दयाल भी नई गेंद से गेंदबाज़ी कर सकते हैं। दयाल ने जायसवाल को दो बार आउट किया है और 100 से कम के स्ट्राइक रेट पर रन बनाए हैं।

सैमसन vs सिराज

अगर RCB दयाल और मैक्सवेल के साथ गेंदबाज़ी की शुरुआत करती है तो मोहम्मद सिराज को संजू सैमसन के लिए रोका जा सकता है। सिराज ने सैमसन को तीन बार आउट किया है। पारी के अंत में लॉकी फ़र्ग्यूसन शिमरॉन हेटमायर और रोवमान पॉवेल के ख़िलाफ़ प्रभावी हो सकते हैं।

टॉस जीतो और?

क्वालिफ़ायर-1 के दौरान नई गेंद लहरा रही थी और बाद में ओस भी आएगा। इसलिए कोई भी टीम टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करना चाहेगी। लक्ष्य का पीछा करते हुए RCB का रिकॉर्ड 50-50 का है, वहीं RR ने इस सीज़न लक्ष्य का पीछा करते हुए छह मैच जीते हैं, जबकि सिर्फ़ दो हारे हैं।

सिद्धार्थ मोंगा ESPNcricinfo में वरिष्ठ लेखक हैं