मैच (20)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
USA vs CAN (2)
ख़बरें

जो सूर्यकुमार करते हैं मैं सपनों में भी नहीं सोच सकता : फ‍़िल‍िप्‍स

न्‍यूज़ीलैंड के बल्‍लेबाज़ को लगता है कि उनके घरेलू मैदानों पर सूर्या का स्‍ट्राइक रेट आसमान छू सकता है

इस साल टी20 अंतर्राष्‍ट्रीय में सबसे ज्‍़यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज़ हैं सूर्यकुमार  •  Getty Images

इस साल टी20 अंतर्राष्‍ट्रीय में सबसे ज्‍़यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज़ हैं सूर्यकुमार  •  Getty Images

मौजू़दा समय के बेहतरीन टी20 बल्लेबाज़ों में शुमार न्‍यूज़ीलैंड के ग्‍लेन फ‍़िल‍िप्‍स ने कहा है कि जो शॉट सूर्यकुमार यादव बेहद आसानी से खेल लेते हैं उनके बारे में वह सपनों में भी नहीं सोच सकते।
दुनिया के नंबर एक टी20 बल्‍लेबाज़ सूर्या रविवार को दूसरे टी20 में फ‍़िलिप्‍स की टीम के सामने उतरेंगे। यह मुक़ाबला उसी मैदान पर होगा, जहां फ‍़िलिप्‍स ने 46 गेंद में शतक लगाया था।
फ़िलिप्स ने कहा कहा, "वह वाकई में शानदार हैं। जो चीज़ें वह करते हैं मैं उसको सपनों में भी नहीं सोच सकता हूं। मैं कोशिश करना पसंद करूंगा लेकिन हमारे अलग मैच हैं। जिस तरह से वह कलाई की ताक़त से गेंद को छह रन के लिए भेज देते हैं ऐसा टैलेंट बहुत कम देखने को मिलता है।"
फ‍़िलिप्‍स ने साथ ही कहा कि जोख़िम उठाकर रन बनाने की शैली, जो उनकी और सूर्या की है, उसमें आउट होने का भी ख़तरा होता है।
उन्‍होंने कहा, "मेरे पास मेरी ताक़त है और हम अलग तरीक़ों से अपना काम करते हैं। और जिस तरह का हमारा खेल है उससे विरोधी टीमों के पास आउट करने का भी मौक़ा होता है। यह जोख़िम का हिस्‍सा है और टी20 क्रिकेट में मध्‍यक्रम के लिए रीवार्ड है।"
सूर्या ने इस साल 43 की औसत और 186 के स्‍ट्राइक रेट से सबसे ज्‍़यादा 1040 रन बनाए हैं। फ‍़िलिप्‍स भी पीछे नहीं है और उन्‍होंने 158 के अधिक के स्‍ट्राइक रेट से 650 रन बनाए हैं।
फ‍़िलिप्‍स को डर है कि बे ओवल और मैकलीन पार्क की बल्‍लेबाज़ी की मददगार पिच पर सूर्या का स्‍ट्राइक रेट और भी अधिक हो सकता है।
उन्‍होंने कहा, "मैं आसानी से देख सकता हूं कि सूर्या का स्‍ट्राइक रेट यहां और अधिक हो सकता है क्‍योंकि यहां पर छोटे मैदान हैं और ऑस्‍ट्रेलिया के तरह की ही पिच है, जहां पर अधिक उछाल मिल सकता है और पिच पर घास होगी। यह देखना रोचक होगा कि हम दोनों यहां पर किस स्‍ट्राइक रेट तक जाते हैं।"