मैच (17)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

रणजी ट्रॉफ़ी के वापसी के साथ बीसीसीआई ने की घरेलू सीज़न की घोषणा

2021-22 में होंगे कुल 2127 मैच, महिलाओं के वनडे लीग से होगी सीज़न की शुरूआत

रणजी ट्रॉफ़ी 2019-20 सीज़न की विजेता सौराष्ट्र टीम  •  ESPNcricinfo Ltd

रणजी ट्रॉफ़ी 2019-20 सीज़न की विजेता सौराष्ट्र टीम  •  ESPNcricinfo Ltd

2020-21 में कोरोना महामारी की वजह से रद्द होने के बाद रणजी ट्रॉफ़ी की फिर से वापसी हो रही है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने सत्र 2020-21 के लिए घरेलू कैलेंडर की घोषणा करते हुए यह जानकारी दी। आने वाले घरेलू सत्र में पुरूषों और महिलाओं के सभी आयु वर्ग के सभी टूर्नामेंट आयोजित किए जाएंगे। 16 नवंबर, 2021 से 19 फरवरी, 2022 के बीच रणजी ट्रॉफ़ी का आयोजन होगा।
इस सीज़न की शुरुआत 21 सितंबर को सीनियर महिला एकदिवसीय टूर्नामेंट से होगी। पुरुषों के लिए सत्र की शुरुआत 20 अक्टूबर से 12 नवंबर तक होने जा रहे सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी से होगी। इसके चार दिन बाद ही रणजी ट्रॉफ़ी शुरू हो जाएगा। मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी पुरुषों के टी 20 विश्व कप के समानांतर ही चलेगी, जो कि 17 अक्टूबर से 14 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और ओमान में होने वाला है। बीसीसीआई द्वारा आईपीएल 2022 के लिए नई टीमों को जोड़ने की संभावना है और इसके लिए मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी के बाद संभवतः दिसंबर में एक मेगा नीलामी की भी उम्मीद है।
50 ओवर की विजय हजारे ट्रॉफ़ी 23 फरवरी से शुरू होकर 26 मार्च तक चलेगी। कोविड -19 महामारी के कारण यह एक व्यस्त कैलेंडर निर्धारित किया गया है और सभी टूर्नामेंट एक के बाद एक लगातार रखे गए हैं। पिछले साल जहां मुश्ताक़ अली और विजय हजारे ट्रॉफ़ी का आयोजन हुआ था, वहीं कोरोना महामारी के कारण रणजी ट्रॉफ़ी नहीं कराया जा सका था। 1934-35 मे शुरू हुए इस प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट के इतिहास में यह पहली बार था, जब रणजी ट्रॉफ़ी का आयोजन नहीं हो सका था। यहां तक कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान भी साल-दर-साल लगातार इस टूर्नामेंट का आयोजन हुआ था।
2019-20 के सीज़न में सौराष्ट्र ने बंगाल को हराकर यह ख़िताब जीता था। इसके बाद पूरे देश और दुनिया में कोरोना महामारी की संकट आ गई थी। हालांकि बीसीसीआई ने अभी तक इस सीज़न के लिए मेज़बान शहरों और अन्य विवरणों की घोषणा नहीं की है। सचिव जय शाह द्वारा हस्ताक्षरित एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, "खिलाड़ियों व सभी लोगों की स्वास्थ्य और सुरक्षा को सर्वोपरि रखते हुए बीसीसीआई को विश्वास है कि वह इस घरेलू सत्र की सफल मेज़बानी करेगा।"
तीनों सीनियर पुरुष प्रतियोगिताओं का प्रारूप पहले जैसा ही रहने की उम्मीद है, जिसमें 38 टीमें मैदान में उतरती हैं। रणजी ट्रॉफ़ी और विजय हजारे ट्रॉफ़ी में ए, बी और सी तीन एलीट ग्रुप और एक प्लेट ग्रुप होगा। ग्रुप ए और बी में नौ-नौ टीमें, जबकि ग्रुप सी और प्लेट ग्रुप में दस-दस टीमें होंगी। वहीं मुश्ताक अली ट्रॉफ़ी में ए, बी, सी, डी और ई पांच ग्रुप होंगे। ग्रुप ए और बी में सात-सात टीमें और अन्य तीन ग्रुप में आठ-आठ टीमें होंगी।
क्या इस साल आयोजित होगी महिला टी20 चैलेंज ट्रॉफ़ी?
आईपीएल के अंतिम सप्ताह में प्ले ऑफ़्स के बीच आयोजित होने वाली चैलेंज ट्रॉफी पर अभी भी सवाल है। सीनियर महिला वन-डे लीग के बाद 27 से 31 अक्टूबर तक महिला एक दिवसीय चैलेंजर ट्रॉफ़ी का आयोजन होगा। टूर्नामेंट का यह समय महिला टी 20 चैलेंज के 2021 संस्करण पर सवालिया निशान खड़ा करता है, क्योंकि लगभग इसी दौरान ही आईपीएल के प्ले ऑफ़्स मुक़ाबले खेले जाने हैं। कोरोना महामारी के कारण स्थगित किए गए आईपीएल 2021 के बाकी मैच यूएई में सितंबर के मध्य से अक्टूबर के मध्य तक होने हैं। हालांकि, 19 मार्च से 11 अप्रैल तक महिला टी20 लीग होना है।
वहीं इस सीज़न में भी महिलाओं के लिए कोई प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट नहीं रखा गया है। भारत की राष्ट्रीय टीम ने हाल ही में इंग्लैंड में एक टेस्ट खेला है और ऑस्ट्रेलिया में दिन-रात्रि का एक टेस्ट मैच प्रस्तावित है।