मैच (20)
SL vs WI [W] (1)
T20 वर्ल्ड कप (6)
CE Cup (3)
T20 Blast (10)
ख़बरें

स्मृति मांधना: मैं अच्छी बल्लेबाज़ी कर रही हूं लेकिन क्रीज़ पर टिक नहीं पा रही हूं

बांग्लादेश दौरे पर अपनी बल्लेबाज़ी की विफलताओं पर भारतीय ओपनर ने ख़ुल कर बात की

Smriti Mandhana addresses the media, Bangladesh vs India, Mirpur, July 21, 2023

स्मृति ने बांग्लादेश की टीम की भी तारीफ़ की है  •  BCB

बांग्लादेश दौरे पर भारतीय टीम के बल्लेबाज़ों ने जिस तरह से संघर्ष किया है, उससे यह साफ़ पता चलता है कि बांग्लादेश की महिला टीम अब किस तरह का और किस स्तर का क्रिकेट खेल रही है। बांग्लादेशी स्पिनरों ने ख़ास कर के काफ़ी प्रभावित करने का काम किया है।
भारतीय बल्लेबाज़ों के प्रदर्शन को देखा जाए तो स्मृति मांधना इस दौरे पर उन बल्लेबाज़ों में शामिल हैं, जो रन बनाने के लिए लगातार संघर्ष कर रही हैं। दूसरे वनडे में खेली गई 36 रनों की पारी को छोड़ दें तो बाक़ी की तीन पारियों में स्मृति ने 11,1 और 13 का स्कोर बनाया था।
इस पूरे दौरे पर स्मृति जिन गेंदों पर आउट हो रही थीं, उससे यह स्पष्ट रूप से पता चल रहा था कि स्मृति को बांग्लादेश के गेंदबाज़ों ने फ़्रंट फ़ुट से ज़्यादा खेलने का मौक़ा नहीं दिया। यह रणनीति पूरी तरह से क़ामयाब रही है। कुल मिला कर बांग्लादेश ने अच्छा होमवर्क किया था।
स्मृति ने यह स्वीकार किया है कि वह उस तरह के रणनीति के साथ बिल्कुल भी नहीं खेल पाईं, जिसके साथ वह खेलना चाह रहीं थीं लेकिन वह अपने ख़राब फ़ॉर्म से वापसी करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही हैं।
"मुझे लगता है कि मैं नेट्स पर अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहा हूं। मैच में भी मुझे अच्छी शुरुआत मिल रही है। ऐसा बहुत बार नहीं होता है कि मैं गेंद को मिडल तो कर रही हूं लेकिन टीम के लिए रन नहीं बना पा रही हूं।"
उन्होंने आगे कहा, "पिछले मैच में भी मुझे अच्छी शुरुआत मिली। मैं पूरे आत्मविश्वास के साथ बल्लेबाज़ी कर रही थी। मैं टीम को अच्छी शुरुआत दिला सकती थी लेकिन फिर मैं एक ख़राब शॉट खेल कर आउट हो गई। मैं अच्छी बल्लेबाज़ी कर रही हूं लेकिन क्रीज़ पर टिक नहीं पा रही हूं। हालांकि मैं उस पर काम कर रही हूं।"
डब्ल्यूपीएल के बाद से भारतीय टीम की ज़्यादातर खिलाड़ियों ने ज़्यादा क्रिकेट नहीं खेला है। उस टूर्नामेंट के बाद 2 लगभग दो महीने की छुट्टी थी। वहीं कुछ चुनिंदा खिलाड़ियों के लिए कैंप लगाया गया था। उसमें सीनियर खिलाड़ियों को सिर्फ़ दो सप्ताह के लिए बुलाया गया था।
"डब्ल्यूपीएल के बाद ज़्यादा टूर्नामेंट नहीं थे। मैंने पिछले तीन महीनों में अपने क्रिकेट और बल्लेबाज़ी दोनों पर बहुत काम किया है। भले ही मुझे बड़ा स्कोर नहीं मिल पाया है लेकिन जिस तरह का काम मैंने किया है, वह जल्द ही मेरे खेल में नज़र आएगा।"
स्मृति ने इस श्रृंखला को अधिक प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए बांग्लादेश की भी सराहना की। उन्होंने कहा, "हमने पिछले साल सिलेट में एशिया कप में उनके ख़िलाफ़ खेला था, तब से लेकर अब तक जिस तरह से वे अपने खेल के साथ आगे बढ़े हैं, वह सराहनीय है। उनका क्षेत्ररक्षण अद्भुत रहा है। निश्चित रूप से इन विकेटों पर उनकी गेंदबाज़ी आक्रमण बहुत अच्छी है।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo के सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राजने किया है।