मैच (18)
आईपीएल (3)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Charlotte Edwards (3)
T20I Tri-Series (2)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते: ऑस्ट्रेलियाई धरती पर टी20आई के सरताज हैं कोहली

आगे टूर्नामेंट में कहीं महंगा न पड़ जाए डेथ में भारतीय गेंदबाज़ों की फ़िज़ूलख़र्ची

Virat Kohli holds his pose, India vs Pakistan, 2022 Men's T20 World Cup, Super 12s, MCG

पाकिस्तान के ख़िलाफ़ के दौरान कोहली  •  Getty Images

मेलबर्न में 90 हज़ार से ज़्यादा दर्शकों की उपस्थिति में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के ख़िलाफ़ जब आर अश्विन ने लेग स्टंप के बाहर जा रही गेंद को जैसे ही कीपर के लिए छोड़ा, सांस रोक कर बैठे दुनियाभर में मौजूद हरेक भारतीय क्रिकेट प्रशंसक ख़ुशी से झूम उठा। विराट कोहली की करिश्माई पारी की बदौलत भारत ने पिछले साल विश्व कप में मिली शुरुआती हार का बदला पूरा करते हुए जीत के साथ अपने विश्व कप अभियान की शुरुआत की।
तीन दिन के विश्राम के बाद अब सिडनी में भारतीय टीम के सामने है नीदरलैंड्स। टूर्नामेंट में अब तक हुए उलटफेर को देखते हुए टीम इंडिया इस मुक़ाबले को कहीं से भी हल्के में नहीं ले रही होगी। आइए कुछ दिलचस्प आंकड़ों के ज़रिए इस मैच पर प्रकाश डालते हैं।
ऑस्ट्रेलियाई धरती पर कोहली के ताप से कैसे बचेगा नीदरलैंड्स
पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 82 रनों की अविस्मरणीय पारी खेल विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया में अपने टी20 अंतर्राष्ट्रीय रिकॉर्ड को और बेहतर किया। ऑस्ट्रेलिया में इस फॉर्मेट में कोहली से ज़्यादा रन किसी भी विदेशी बल्लेबाज़ ने नहीं बनाए हैं, उन्होंने यहां 11 पारियों में 76.1 की अद्भुत औसत से 533 रन बनाए हैं। ऊपर से सिडनी में यह भारतीय सुपरस्टार 40 से कम रन बनाए बिना तो आउट ही नहीं होता है। साथ ही इस मैदान पर सबसे ज़्यादा टी20 अंतर्राष्ट्रीय रन कोहली के ही नाम है। उन्होंने चार मैचों में तीन बार पचासा पूरा करते हुए 236 रन बनाए हैं।
आगे टूर्नामेंट में कहीं महंगा न पड़ जाए डेथ में भारतीय गेंदबाज़ों की फ़िज़ूलख़र्ची
हाल ही में बीते एशिया कप की शुरुआत से ही भारत की अंतिम पांच ओवरों में गेंदबाज़ी चिंता का विषय रही है। इस पीरियड में भारत ने इन ओवरों में 11 से अधिक रन प्रति ओवर दिए हैं और लगभग हर चौथी गेंद पर बाउंड्री खाए हैं। इस साल एशिया कप के बाद से भारत ने छह मौक़ों पर अंतिम पांच ओवरों में प्रति ओवर 10 रन से अधिक लुटाए हैं और पिछली छह पारियों में पांच बार टीम ने प्रति ओवर 10 से अधिक रन ख़र्चे हैं। भारत के विश्व कप दल में शामिल भुवनेश्वर कुमार और हर्षल पटेल टी20 अंतर्राष्ट्रीय में इस चरण में इस साल के सबसे महंगे गेंदबाज़ों की सूची में शामिल हैं।
अपनी फ़िरकी पर डच टीम को नचाना चाहेंगे अक्षर
अक्षर को पिछले मैच में इफ़्तिख़ार अहमद ने एक ओवर तीन छक्के जड़ दिए। इसके बाद उन्हें गेंदबाज़ी पर नहीं बुलाया गया। हालांकि वह 2021 से टी20 अंतर्राष्ट्रीय में प्रभावी रहे हैं और छह मौक़ो पर दो से ज़्यादा विकेट चटकाए हैं। सिडनी में स्पिनरों को मदद मिलता आया है और नीदरलैंड्स की टीम में ज़्यादातर बल्लेबाज़ दाएं हाथ के बल्लेबाज़ हैं। ऐसे में अक्षर बेहतरीन वापसी कर सकते हैं। उन्होंने इस फ़ॉर्मेट में 2021 से दाएं हाथ के बल्लेबाज़ों के सामने कंजूसी से गेंदबाज़ी करते हुए 16 विकेट झटके हैं।
भारत के लिए घातक हो सकते हैं फ़्रेड क्लासेन
फ़्रेड क्लासेन नीदरलैंड्स के बाएं हाथ के अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ हैं। उनके टी20 अंतर्राष्ट्रीय करियर का यह बेहतरीन साल रहा है। उन्होंने 2022 में 9 मैचों में 6.4 की शानदार इकॉनमी से 14 विकेट चटकाए हैं। क्लासेन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के इस सबसे छोटे प्रारूप में 34 विकेट झटके हैं जिसमें 16 पावरप्ले में आए हैं। बाएं हाथ का तेज़ गेंदबाज़ और पावरप्ले की बात होती है तो अपने आप भारतीय बल्लबाज़ों का ज़िक्र हो जाता है। इसका कारण भी है। ज़्यादा पीछे न जाकर हम टी20 अंतर्राष्ट्रीय में 2021 से देखें तो सभी प्रमुख भारतीय बल्लेबाज़ बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ों के सामने कम से कम चार-चार बार आउट हुए हैं। लिहाज़ा क्लासेन के ख़िलाफ़ भारतीय टीम सतर्क ज़रूर रहना चाहेगी।