मैच (6)
IPL (2)
PAK v WI [W] (1)
Pakistan vs New Zealand (1)
IRE-W vs THAI-W (1)
SA v SL (W) (1)
ख़बरें

रोहित : यह विराट की नहीं बल्कि भारत की सर्वश्रेष्ठ पारी है

भारतीय कप्तान को शुरुआती ओवरों में टेस्ट मैच की तरह महसूस हुआ

विराट कोहली ने मेलबर्न में पाकिस्तान के विरुद्ध 53 गेंदों पर खेली गई 82 रनों की नाबाद पारी को 2016 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध मोहाली में खेली गई नाबाद 82 रनों की पारी से ऊपर का दर्जा दिया। हालांकि उनके कप्तान रोहित शर्मा ने एक क़दम आगे बढ़ते हुए रविवार की इस पारी को किसी भी भारतीय बल्लेबाज़ द्वारा खेली गई सर्वश्रेष्ठ पारी कहा।
रोहित ने कहा, "बेशक़, यह उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी है। हम जिस स्थिति में थे, वहां से जीतना - यह भारत की सर्वश्रेष्ठ पारी (भी) है। 13वें ओवर तक हम मैच में बहुत पीछे थे और आवश्यक रन रेट बढ़ता ही जा रहा था। उस दौरान लक्ष्य को हासिल करना विराट का बेहतरीन प्रदर्शन था और हार्दिक (पंड्या) ने भी अपनी भूमिका निभाई।"
भारतीय कप्तान से यह भी पूछा गया कि कोहली के संघर्ष से भरे समय के दौरान उनमें क्या बदलाव आया है। इस पर उन्होंने कहा, "देखिए, मुझे नहीं लगता कि वह फ़ॉर्म या किसी और चीज़ के लिए संघर्ष कर रहे थे। वह हमेशा की तरह बढ़िया बल्लेबाज़ी कर रहे थे। उनसे उम्मीद ही इतनी लगाई जाती है कि अगर वह 30-40 रन भी बनाते हैं तो लोग उसकी चर्चा करने लगते हैं।"
उन्होंने आगे कहा, "टीम प्रबंधन के दृष्टिकोण से, मुझे लगा कि वह एशिया कप से ही अच्छी लय में हैं जब उन्होंने एक महीने का ब्रेक लिया और वापस आए। वह तरोताज़ा थे, उन्होंने वहां शानदार शतक लगाया, कुछ अर्द्धशतक भी और फिर विश्व कप तक पहुंचे। हम जानते हैं कि उनके पास क्या गुण है और उन्होंने तीनों प्रारूपों में इस प्रकार की परिस्थितियों में कितना अच्छा प्रदर्शन किया है।"
रोहित ने आगे कहा, "आज उन्होंने अपने अनुभव का सबसे अधिक उपयोग किया। वह दबाव में शांत रहे। हम जानते हैं कि स्कोर सामने रहने पर वह कितना अच्छा खेलते हैं। वह लक्ष्य का पीछा करने के मामले में विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों में से एक हैं।"
जिस तरह से उनके गेंदबाज़ों ने शुरुआती स्विंग का फ़ायदा उठाया और सटीकता के साथ हार्ड लेंथ पर गेंदबाज़ी की, उससे भी रोहित ख़ुश थे। उन्होंने कहा, "हमने अपनी बैठकों में कुछ चीज़ों के बारे में बात की थी। कैसे हम बड़ी बाउंड्री का इस्तेमाल करना चाहते हैं और बल्लेबाज़ों को थोड़ी चुनौती देने की कोशिश करेंगे।"
उन्होंने कहा, "आपको यह भी समझना होता है कि पिच क्या कर रही है। वह बैक ऑफ़ लेंथ गेंद और हल्की फ़ुल गेंद को मारना आसान नहीं था। कई खिलाड़ियों को बैक ऑफ़ लेंथ गेंदों पर विकेट मिले क्योंकि पिच पर थोड़ी घास थी और मौसम भी अनुकूल था। हमें पता था कि अगर हम उस लेंथ पर गेंद डालेंगे तो कठिन होगा और हम लगातार गेंदबाज़ों को यह कह रहे थे। अगर वह वहां से छक्के लगाते तो कोई बात नहीं थी। हमें उस लेंथ पर गेंदबाज़ी करने का लाभ मिला।"
रोहित ने आगे कहा, "हार्दिक ने वह लेंथ डाली और उनके बल्लेबाज़ आड़े बल्ले से खेलने के प्रयास में आउट हुए। हमारा प्लान था कि शुरुआत में हम आगे गेंद डालेंगे और स्विंग करवाएंगे। भुवी (भुवनेश्वर कुमार) और अर्शदीप (सिंह) ने वैसा ही किया। पहले चार या पांच ओवर शानदार थे। गेंद जिस तरह हिल रही थी और पिच में जो उछाल था, उसे देखकर थोड़ी देर के लिए टेस्ट मैच की तरह महसूस हुआ।"

सिद्धार्थ मोंगा ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।