मैच (15)
T20 वर्ल्ड कप (4)
CE Cup (3)
T20 Blast (8)
ख़बरें

न्यूज़ीलैंड के कोच स्टीड ने टीम के 'हार न मानने वाले' जज़्बे की जमकर की तारीफ़

उन्होंने ये भी कहा कि फ़ाइनल में चोटिल डेवन कॉन्वे का स्थान टिम साइफ़र्ट ले सकते हैं

The New Zealand dugout erupts after the winning hit, England vs New Zealand, T20 World Cup, 1st semi-final, Abu Dhabi, November 10, 2021

जीत के बाद जश्न मनाता हुआ न्यूज़ीलैंड का ख़ेमा  •  ICC via Getty

न्यूज़ीलैंड को सेमीफ़ाइनल में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ जीत दिलाने में कई मैच विनर का अहम योगदान रहा। टिम साउदी ने जहां टेस्ट की लाइन और लेंथ से इंग्लिश बल्लेबाज़ों को बांधे रखा, तो ऐडम मिल्न ने जॉनी बेयरस्टो का मिड ऑफ़ पर शानदार कैच लपका। लेकिन न्यूज़ीलैंड को पहली बार टी20 विश्वकप के फ़ाइनल में पहुंचाने में एक बड़ा किरदार रहा जेम्स नीशम की अंतिम समय में आतिशी पारी और डैरिल मिचेल की सूझ बूझ वाली बललेबाज़ी का।
न्यूज़ीलैंड के प्रमुख कोच गैरी स्टीड ने ख़ासतौर से अबू धाबी में विपरित परिस्थितियों में अपनी टीम के जुझारूपन और हार न मानने वाली जज़्बे की जमकर तारीफ़ की।
"मुझे लगता है कि सबसे अहम था हमारा हार न मानने वाला जज़्बा और आख़िरी दम तक लड़ना। जिमी नीशम ने जो पारी खेली वह बेहद लाजवाब थी, उसी ने हमें मैच में वापस लाया। मिचेल ने भी अंत तक खड़े रहते हुए हमारी जीत सुनिश्चित कर दी, और ये देखना बेहद सुखद था।"
गैरी स्टीड, प्रमुख कोच, न्यूज़ीलैंड
सेमीफ़ाइनल में कॉन्वे ने भी एक असरदार पारी खेली थी, जब शुरुआती झटकों के बाद उन्होंने पारी को संवारा और एक नीव रखी था। हालांकि कॉन्वे अब चोट की वजह से टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं और उनकी जगह बेंच पर बैठे टिम साइफ़र्ट ले सकते हैं।
"हर कोई ओस की बात कर रहा है लेकिन अब ये उतना फ़र्क नहीं पैदा कर रही जितना कुछ दिनों पहले तक देखने को मिल रहा था।"
स्टीड ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा, "हालांकि ग्लेन फ़िलिप्स भी विकेटकीपिंग की ज़िम्मेदारी संभाल सकते हैं लेकिन उनके कमर को देखते हुए हम ये जोखिम नहीं लेना चाहते, और उन्हें आउटफ़ील्ड में ही रखना बेहतर होगा। लिहाज़ा विकेट के पीछे साइफ़र्ट नज़र आ सकते हैं।"
दुबई में टॉस भी बेहद अहम किरदार निभाता है, जहां अब तक 12 में से 11 बार चेज़ करती हुई टीमों को जीत मिली है। इस मैदान पर टी20 विश्वकप 2021 में सिर्फ़ एक मुक़ाबला डिफ़ेंड करने वाली टीम ने जीता था, और वह भी दिन के मैच में न्यूज़ीलैंड ने ही स्कॉटलैंड को हराया था।
"असल में टॉस बड़ा दिलचस्प हो सकता है, हालांकि अबू धाबी में खेले गए पिछले तीन मैच और आज (गुरुवार की रात) दुबई में भी ओस न के बराबर थी। सभी लोग ओस को लेकर बात कर रहे हैं लेकिन पिछले कुछ दिनों से ये उतना फ़र्क पैदा नहीं कर रही। लिहाज़ा मुझे लगता है कि अगर हम पहले भी बल्लेबाज़ी करते हैं और स्कोर बोर्ड पर एक बड़ा स्कोर खड़ा कर देते हैं तो फिर फ़ाइनल में ये सामने वाली टीम पर दबाव बना सकता है। हालांकि मैं ये मानता हूं कि अगर टॉस हमारे पक्ष में गया तो फिर 50% मैच भी हमारी ओर झुक सकता है। लेकिन ज़रूरी नहीं कि आप टॉस जीत जाएं, इसलिए हमें दोनों ही चीज़ों के लिए तैयार रहना होगा।"
गैरी स्टीड, प्रमुख कोच, न्यूज़ीलैंड

देवरायण मुथु ESPNcricinfo में सब-एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट सैयद हुसैन ने किया है।