मैच (18)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
USA vs BAN (1)
CE Cup (3)
T20I Tri-Series (2)
आईपीएल (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

टी20 विश्वकप में मैं नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करूंगा : कोहली

"आईपीएल से पहले बात कुछ अलग थी और अब राहुल अपने पुराने अंदाज़ में खेल रहे हैं, इसलिए उन्हें नज़रअंदाज़ करना मुश्किल है"

Virat Kohli and Rohit Sharma share a laugh during a blazing opening stand, India vs England, 5th T20I, Ahmedabad, March 20, 2021

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ मार्च में टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में रोहित शर्मा और विराट कोहली ने किया था पारी का आग़ाज़  •  Getty Images

विराट कोहली ने इस बात का संकेत दिया है कि टी20 विश्वकप में वह नंबर तीन पर ही बल्लेबाज़ी करने आएंगे। सोमवार को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ वॉर्म अप मैच में टॉस के समय उन्होंने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 में जिस फ़ॉर्म में केएल राहुल नज़र आए उसने उन्हें तीसरे नंबर पर आने के लिए मजबूर कर दिया है।
"आईपीएल शुरू होने से पहले चीज़ें कुछ अलग थीं और अब केएल राहुल उसी रंग में लौट आए हैं जैसा वह हमेशा खेलते हैं। लिहाज़ा अब उन्हें नज़रअंदाज़ करते हुए पारी का आग़ाज़ करना मेरे लिए मुश्किल है। रोहित के बारे में तो सोच भी नहीं सकता, वह एक वर्ल्ड क्लास खिलाड़ी हैं और हमारे लिए वह सबसे ऊपर ही आएंगे। इसलिए मैं अब नंबर तीन पर ही बल्लेबाज़ी करूंगा।"
विराट कोहली, कप्तान, भारत
पिछले तीन विश्वकप में विराट कोहली ने भारत के लिए 16 मैच खेले हैं और सभी में उन्होंने नंबर तीन पर ही बल्लेबाज़ी की है। 2014 टी20 विश्वकप में कोहली सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ रहे थे, जबकि 2016 में वह इस फ़ेहरिस्त में दूसरे पायदान पर रहे थे।
लेकिन मार्च में जब इंग्लैंड भारत दौरे पर आया था तब टी20 सीरीज़ में रोहत शर्मा के साथ उन्होंने पारी का आग़ाज़ किया था और कहा था कि अब वह इसी स्थान पर खेलना चाहते हैं। पांचवें टी20 अंतर्राष्ट्रीय में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ बड़ी जीत में रोहित और कोहली ने ही सलामी बल्लेबाज़ी की भूमिका निभाई थी।
उसी मैच में राहुल को बाहर कर दिया गया था, क्योंकि पहले चार मैचों में उन्होंने सिर्फ़ 15 रन बनाए थे और इसमें दो शून्य भी शामिल थे।
कोहली ने भारत के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय में अब तक सिर्फ़ सात बार पारी का आग़ाज़ किया है, लेकिन उन्होंने ये स्वीकार किया कि आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के लिए उन्होंने सलामी बल्लेबाज़ की भूमिका टी20 विश्वकप को ध्यान में रखते हुए ही निभाई थी। कोहली ने इस दौरान 28.92 की औसत और 119.46 के स्ट्राइक रेट से 405 रन बनाए थे।
इस साल कोहली ने 16 टी20 मैच खेले हैं और उसमें से 15 तो आईपीएल में थे। इस दौरान पावरप्ले में कोहली ने 129.00 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। लेकिन पावरप्ले ख़त्म होते ही वह फंसे हुए नज़र आते हैं और मध्य ओवरों में उनका स्ट्राइक रेट 112.57 का रह जाता है।
दूसरी तरफ़ राहुल आईपीएल में अपनी टीम पंजाब किंग्स (पीबीकेएस) के टॉप स्कोरर रहे थे और प्रतियोगिता में 626 रनों के साथ सबसे ज़्यादा रन बनाने के मामले में तीसरे नंबर पर थे। हालांकि पंजाब प्लेऑफ़ में जगह बनाने से चूक गई लेकिन राहुल ने प्रतियोगिता का समापन एक अद्भुत अंदाज़ में किया था, जहां उन्होंने चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के ख़िलाफ़ 42 गेंदों पर 98 रनों की नाबाद आतिशी पारी खेली थी।
2018 से अब तक आईपीएल में राहुल ने सबसे ज़्यादा 2548 रन बनाए हैं और 2020 में ऑरेंज कैप विजेता रहे थे। टी20 विश्वकप के 15 सदस्यों का ऐलान करते हुए मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने भी राहुल और रोहित को ही सलामी बल्लेबाज़ बताया था। जबकि इशान किशन का नाम उन्होंने बैकअप ओपनर के तौर पर लिया था। हालांकि इंग्लैंड के ख़िलाफ़ पहले वॉर्म अप मैच में रोहित शर्मा को आराम दिया गया था, और राहुल के साथ पारी का आग़ाज़ करने इशान ही आए थे। इन दोनों ही बल्लेबाज़ों ने अर्धशतकीय पारी खेलते हुए अपनी अपनी दावेदारी भी मज़बूत कर दी है।
कोहली के लिए बतौर टी20 कप्तान यह आख़िरी विश्वकप है, क्योंकि उन्होंने पहले ही इस बात की घोषणा कर दी है कि इस फ़ॉर्मेट में वह आगे भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी नहीं करेंगे। भारत अपने विश्वकप अभियान का आग़ाज़ दुबई में 24 अक्तूबर को पाकिस्तान के ख़िलाफ़ करेगा।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्यूज़ एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट सैयद हुसैन ने किया है।