मैच (6)
हज़ारे ट्रॉफ़ी (4)
श्रीलंका बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
न्यूज़ीलैंड बनाम भारत (1)
ख़बरें

सबा करीम : डेथ ओवरों में गेंदबाज़ी हमारी सबसे बड़ी समस्‍या

पूर्व भारतीय चयनकर्ता ने सूर्यकुमार को टी20 विश्‍व कप में तुरुप का इक्‍का बताया

Arshdeep Singh started with a three-wicket over, India vs South Africa, 1st T20I, Thiruvananthapuram, September 28, 2022

हाल के समय में अर्शदीप भी डेथ ओवरों में असफल रहे हैं  •  BCCI

भारत के पूर्व प्रमुख चयनकर्ता सबा करीम को लगता है कि टी20 विश्‍व कप से ठीक पहले भारतीय टीम की डेथ ओवरों में गेंदबाज़ी समस्‍या का उभरकर आना अच्‍छा संकेत नहीं है, ख़ासकर जब मुख्‍य तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह टी20 विश्‍व कप से बाहर हो गए हैं। सबा को लगता है कि अगर भारत को विश्‍व कप जिताने में कोई सबसे अहम भूमिका निभा सकता है तो वह सूर्यकुमार यादव हैं।
स्‍पोर्ट्स 18 के डेली स्‍पोर्ट्स न्‍यूज़ शो 'स्‍पोर्ट्स ओवर द टॉप' पर पूर्व भारतीय चयनकर्ता सबा ने कहा, "जो भी हो रोहित शर्मा इसको दरकिनार करने की कोशिश करेंगे और अपने गेंदबाज़ों को आत्‍मविश्‍वास देंगे लेकिन हक़ीक़त यह है कि हमारी डेथ ओवर गेंदबाज़ी बड़ी समस्‍या है। मुझे लगता है कि इससे टीम प्रबंधन और कप्‍तान रोहित का सिरदर्द बढ़ा होगा। ऐसा लगता है कि जब भी हम एक कमी को पहचानकर उसको भरने की कोशिश करते हैं तो कई सारी समस्‍या उभरकर आ जाती हैं। हम पावरप्‍ले में विकेट लेने को लेकर बहुत कोशिश कर रहे थे और अचानक से डेथ ओवरों का मामला आ जाता है। तो ऐसे में उन्‍हें इस पर जल्‍द से जल्‍द काम करने की ज़रूरत है।"
बुमराह के नहीं रहते भारतीय टीम ने हाल के दिनों में संघर्ष किया है, जहां 19वां ओवर सबसे बड़ी समस्‍या बनकर उभरा। ऑस्‍ट्रेलिया के ख़‍िलाफ़ टी20 सीरीज़ में भुवनेश्‍वर कुमार सात ओवर में केवल एक ही विकेट ले पाए और 13 के इकॉनमी से 91 रन लुटा दिए। एशिया कप में भी भुवनेश्‍वर कतई सफल नहीं हो पाए थे। वहीं अर्शदीप सिंह के लिए भी समस्‍या बढ़ी है। उन्‍होंने डेथ ओवर्स में 8.53 के इकॉनमी से रन लुटाए हैं। 11 पारियों में 31 डॉट के साथ उन्होंने 12 चौके और चार छक्के भी खाएं हैं।
सबा ने साथ ही सूर्यकुमार यादव की भी जमकर तारीफ़ की और कहा कि अगर भारत के टी20 विश्‍व कप जीतने का मौक़ा है तो वह सूर्यकुमार पर निर्भर करता है।
सूर्यकुमार को लेकर सबा ने कहा कहा, "एक चीज़ मैं कह सकता हूं कि भारत के विश्‍व कप जीतने का सबसे बड़ा मौक़ा सूर्यकुमार की फ़ॉर्म पर निर्भर करता है और मैं इसीलिए ऐसा कह रहा हूं कि वह बहुत मुश्किल स्‍थान पर खेलते हैं। टी20 क्रिकेट में अत्‍यधिक स्‍ट्राइक रेट के साथ रन बनाना आसान नहीं होता है लेकिन यह सूर्यकुमार के लिए बहुत आसान है क्‍योंकि उनके पास कौशल, अनुभव है साथ ही वह बेहद निपुण हैं। उन्‍हें सही जगहों पर गैप ढूंढना आता है, कई बार तो वह गेंदबाज़ों के साथ खेलते हैं और उन ख़ाली जगहों पर बेहद आसानी से रन बना लेते हैं। तो हां सूर्यकुमार के बारे में मुझे उम्‍मीद है और प्रार्थना करता हूं कि वह अच्‍छा करें और विश्‍व कप में अपनी लय को बरक़रार रखें।"
सूर्यकुमार ने 2022 में टी20आई क्रिकेट में 793 रन बना दिए हैं और वह इस प्रारूप में नंबर एक रैंकिंग के निकट हैं। सूर्यकुमार इस वर्ष 50 छक्के (और साथ में 68 चौके) मार चुके हैं। शीर्ष के 10 टीमों में न्यूनतम 1000 टी20आई रन बनाने वाले बल्लेबाज़ों में अब तक कॉलिन मनरो का 156 का स्ट्राइक रेट सर्वश्रेष्ठ था। सूर्यकुमार ने अपने करियर में 177 के दर से रन बनाए हैं और 2022 में उनका स्ट्राइक रेट 185 तक बढ़ चुका है।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26