मैच (11)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
बीबीएल (1)
एसए20 (1)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
ख़बरें

सीने में तेज़ दर्द महसूस करने के बाद कॉमेंट्री बॉक्स में वापस लौटे पोंटिंग

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान को कल अस्पताल में भर्ती कराया गया था

इलाज के बाद कॉमेंट्री बॉक्स में वापस लौटे पोंटिंग  •  Getty Images

इलाज के बाद कॉमेंट्री बॉक्स में वापस लौटे पोंटिंग  •  Getty Images

ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज़ के बीच पर्थ में खेले जा रहे पहले टेस्ट के तीसरे दिन अपने सीने में 'तेज़ दर्द' महसूस करने के बाद ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग कॉमेंट्री बॉक्स में लौट आए हैं। इस दर्द के कारण उन्हें अस्पताल ले जाया गया था और 24 घंटे बाद ही मैच के चौथे दिन वह काम पर लौट आए।
पोंटिंग ने शनिवार की सुबह चैनल सेवन पर अपनी सेहत के बारे में खुलकर बात की। वह अपने क़रीबी दोस्त और टीम के पूर्व साथी जस्टिन लैंगर और सेवेंस क्रिकेट के प्रमुख क्रिस जोंस की त्वरित सोच के लिए आभारी थे, जिन्होंने शुक्रवार को लंच से पहले कॉमेंट्री के दौरान सीने में दर्द महसूस होने के बाद तत्काल इलाज कराने का आग्रह किया।
पोंटिंग ने चैनल सेवन से कहा, "मैंने शायद कल बहुत सारे लोगों को डरा दिया और वह मेरे लिए एक डरावना पल था। मैं अपनी कॉमेंट्री बारी का आधा हिस्सा पूरा करने के बाद कॉम्स बॉक्स में बैठा था और मेरी छाती में छोटे-छोटे और तेज़ दर्द उत्पन्न हुए। मैंने स्ट्रेचिंग करते हुए इससे छुटकारा पाने की कोशिश की और कॉमेंट्री करते हुए इस विषय पर अधिक जानकारी नहीं देना चाहता था।"
उन्होंने आगे कहा, "ऐसा कई बार हुआ लेकिन मैंने अपनी कॉमेंट्री पूरी की और चलने के लिए कॉमेंट्री बॉक्स के पीछे गया। मुझे चक्कर आए और मैंने बेंच को पकड़ लिया। मैंने रास्ते में जे एल (लैंगर) को बताया, जो मेरे साथ कॉमेंट्री कर रहे थे, कि मेरे सीने में दर्द था और क्रिस जोंस ने मुझे सुना और तुरंत प्रतिक्रिया देते हुए मुझे वहां से बाहर निकाला। 10 या 15 मिनट बाद, मैं अस्पताल में संभवतः सबसे अच्छा इलाज करवा रहा था।"
पूर्व कप्तान पोंटिंग ने बताया कि शनिवार को वह बहुत अच्छा महसूस कर रहे हैं।
उन्होंने आगे कहा, "अंत में बात यह आ जाती है कि मैं इसे जे एल (लैंगर) के साथा साझा करने के लिए तैयार था और आपका साथी आपकी देखभाल करता है। मुझे लगता है कि हमारी उम्र के लोग अपने स्वास्थ्य के बारे में बहुत कुछ साझा करने या बात करने में थोड़ा अनिच्छुक हैं और कल मेरे लिए सीखने का एक अच्छा दौर था। ख़ासकर यह देखते हुए कि पिछले 12-18 महीनों में हमारे आसपास के लोगों के साथ क्या हुआ है। मेरे छोटे साथी ने मेरी देखभाल की और मुझे वहां ले गया और मैं इस नई सुबह चमकदार होकर वापस आ गया।"
पोंटिंग, लैंगर और उनके कई पुराने साथी खिलाड़ी, जिनमें से कई पर्थ में विभिन्न प्रसारण आउटलेट्स के लिए कॉमेंट्री कर रहे हैं, इस साल विशेष रूप से ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ियों डीन जोंस, रॉड मार्श और शेन वॉर्न की हालिया मौतों तथा डैरेन लेहमन और रायन कैंपबेल के गंभीर दिल के दौरे के बाद अपने दिल के स्वास्थ्य के बारे में अति-जागरूक हो गए हैं।
1990 तथा 2000 के दशक के कई साथी खिलाड़ियों के साथ पोंटिंग ने इस साल की शुरुआत में एक छुट्टी का आयोजन किया था जहां तीन महीने के भीतर मार्श, वॉर्न और ऐंड्रयू सायमंड्स को खो देने के बाद सभी ने अपना और एक-दूसरे का ख्याल रखने की कसम खाई थी।