मैच (25)
Legends WC (1)
ENG v NZ (W) (1)
LPL (3)
TNPL (4)
ZIM v IND (2)
MLC (3)
T20 Blast (8)
RHF Trophy (3)
ख़बरें

बटलर : स्टोक्स अपनी मर्ज़ी के मालिक हैं

इंग्लैंड कप्तान का मानना है वनडे संन्यास से वापसी का फ़ैसला अकेले उनके दोस्त और ऑलराउंडर का ही था

Ben Stokes and Jos Buttler celebrate another boundary in the World Cup final, England v New Zealand, World Cup 2019 final, Lord's, July 14, 2019

2019 विश्व कप फ़ाइनल के नायक रहे बेन स्टोक्स और जॉस बटलर 2023 में फिर से साथ दिखेंगे  •  Getty Images

इंग्लैंड के सीमित ओवर क्रिकेट कप्तान जॉस बटलर ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने के फ़ैसले को वापस लेना पूरी तरह बेन स्टोक्स पर छोड़ दिया था। बटलर के अनुसार आनेवाले विश्व कप में खेलने के लिए स्टोक्स को परेशान करना "व्यर्थ था और उल्टा पड़ सकता था"।

इंग्लैंड के लिए पिछले चार सालों में दो विश्व कप जीत के नायक रहे स्टोक्स ने पिछली गर्मियों में कार्यभार प्रबंधन का वास्ता देते हुए वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। साथ ही उन्होंने ऐशेज़ सीरीज़ और 2024 के शुरुआत में भारत के ख़िलाफ़ होने वाली सीरीज़ के बीच में आराम लेते हुए अपने घुटने की चोट पर उपचार करवाने की बात कही थी। इस सब के बावजूद इंग्लैंड ने बुधवार को उन्हें अपनी 15-सदस्यीय विश्व कप दल में शामिल किया था। हालांकि राष्ट्रीय चयनकर्ता ल्यूक राइट ने बुधवार को टीम घोषित करते हुए बताया था कि स्टोक्स की वापसी में उनसे "अनुरोध करने की कोई ज़रूरत नहीं पड़ी थी" और शुक्रवार को स्टोक्स के अच्छे दोस्त बटलर ने इसी को दोहराया।
बटलर बोले, "सच पूछिए तो यह बेन का निर्णय था। आप उन्हें अच्छे से जानते हैं - आप कह-कह कर उनसे कुछ नहीं करवा सकते। हमारी इस बारे में कुछ बातचीत काफ़ी पहले ज़रूर हुई थी, लेकिन मैंने फ़ैसला उन्हीं पर छोड़ दिया था। हम ख़ुश हैं कि वह वापसी करने के लिए तैयार हुए हैं और उन जैसे खिलाड़ी का लौटना हमेशा सुखद बात है।

"बेन अपनी मर्ज़ी के मालिक हैं। मैं उनके साथ काफ़ी खेला हूं और उनका क़रीबी दोस्त भी हूं। अगर मैं उनसे 'लौट आओ, लौट आओ' कहता तो उतना काम नहीं आता। हमने कुछ बातें की लेकिन मैंने फ़ैसला उन पर छोड़ दिया था। उनकी तरह प्रतिस्पर्धी खिलाड़ी के लिए इंग्लैंड पोशाक को एक बार फिर से पहनने के लालच ने ज़रूर उन्हें प्रेरित किया होगा।"

तीनों प्रारूपों में शायद स्टोक्स का वनडे रिकॉर्ड सबसे बढ़िया रहा है। उन्होंने 105 मैचों में 38.98 की औसत से 2924 रन बनाएं हैं और 74 विकेट भी लिए हैं। इसके अलावा वह अपनी बिग-मैच मानसिकता के चलते इंग्लैंड टीम के एक अहम हिस्सा रहेंगे। 2019 वनडे विश्व कप फ़ाइनल में प्लेयर ऑफ़ द मैच बनने के बाद 2022 के टी20 विश्व कप फ़ाइनल में भी नाज़ुक़ मोड़ पर बल्लेबाज़ी करते हुए स्टोक्स ने इंग्लैंड को जीत दिलाई। इस तरह से एक समय पर दोनों ख़िताब होल्ड करने वाली पहली टीम बनी इंग्लैंड।

बटलर ने कहा, "बेन स्टोक्स टीम में क्या मूल्य लाते हैं, यह तो आप को बताने की कोई आवश्यकता नहीं। उनके ख़ूबी से लैस कोई खिलाड़ी टीम में वापस आता है तो यह बड़ी अच्छी बात होती है।"

विदूशन अहंतराजा ESPNcricinfo में असोसिएट एडिटर हैं, अनुवाद स्थानीय भाषा लीड और सीनियर सहायक एडिटर देबायन सेन ने किया है