मैच (12)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (4)
Women's QUAD (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
IRE-W vs THAI-W (1)
ख़बरें

हम बेहतर बल्लेबाज़ी कर सकते थे: विक्रम राठौड़

बल्लेबाज़ी कोच के अनुसार टीम शॉर्ट गेंदों की ख़िलाफ़ कमज़ोर थी

बल्लेबाज़ी में साधारण दिन के बाद भारत, इंग्लैंड के ख़िलाफ़ चौथे टेस्ट में अपने टेस्ट के सबसे बड़ी हार के कगार पर खड़ा है। इंग्लैंड को पांचवें दिन 119 रन की ज़रूरत है, जबकि उसके सात विकेट शेष है। 150 रन से ऊपर की साझेदारी करने के बाद जो रूट और जॉनी बेयरस्टो अब भी क्रीज़ पर टिके हुए हैं। वहीं जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी नए दिन में नए सिरे से शुरुआत करने की कोशिश करेंगे।
यह मैच अभी ख़त्म नहीं हुआ है। चार दिन के खेल के दौरान कभी भारत और कभी इंग्लैंड मैच में आगे हो रहा है, इसलिए पांचवें दिन भी हम कोई चमत्कार होने से इनकार नहीं कर सकते। हालांकि फ़िलहाल मैच इंग्लैंड के नियंत्रण में पूरी तरह से है। भारत के बल्लेबाज़ी कोच विक्रम राठौड़ के अनुसार चौथे दिन सुबह साधारण बल्लेबाज़ी के कारण वे मैच में पीछे हो गए और इंग्लैंड को वापसी करने का मौक़ा मिला।
उन्होंने कहा, "हमारी योजनाओं ने काम नहीं किया। मैं स्वीकार करूंगा कि बल्लेबाज़ी के लिहाज़ से यह हमारे लिए एक साधारण दिन था। हम मैच में आगे थे और ऐसी स्थिति में थे कि बल्लेबाज़ी के द्वारा उन्हें मैच से पूरी तरह बाहर कर सकते थे। लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण तरीक़े से ऐसा नहीं हुआ है। अधिकतर बल्लेबाज़ों को शुरूआत मिली लेकिन वे इसे बड़ी पारी में नहीं बदल सके। हम उम्मीद कर रहे थे कि कोई एक बल्लेबाज़ बड़ी पारी खेलेगा और कोई एक बड़ी साझेदारी होगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।" श्रेयस अय्यर इंग्लैंड के शॉर्ट बॉल योजना के सामने बेबस दिखें, वहीं शार्दुल ठाकुर, शमी और बुमराह एक ही तरीक़े से आउट हुए।
राठौड़ ने कहा, "हां, उन्होंने हमारे ख़िलाफ़ शॉर्ट-गेंद योजना बनाई। हमें रणनीतिक रूप से और बेहतर करना था और हम इसे बेहतर ढंग से हैंडल कर सकते थे। हमारे बल्लेबाज़ों ने शॉट खेलने की कोशिश की लेकिन उसे सही से कनेक्ट नहीं कर पाए और आउट होते गए। हमें सोचना होगा कि अगली बार ऐसी स्थिति आए तो हमें क्या करना होगा। हमें बेहतर रणनीति बनानी होगी।"
हालांकि राठौड़ को अब भी भरोसा है कि पांचवें दिन उनकी टीम वापसी कर सकती है। उन्होंने कहा, "यह ऐसा विकेट है जिस पर एक विकेट मिलने के बाद गुच्छों में विकेट मिल सकते हैं, जैसा कि चाय के बाद हुआ और इंग्लैंड के तीन विकेट एक साथ गिरे। अगर सुबह दो विकेट जल्दी गिर जाता है तो मैच हमारे लिए खुल जाएगा। उन्हें अभी भी 100 रन की ज़रूरत है और जिस तरह की गेंदबाज़ी शमी और बुमराह करते हैं तो यह असंभव भी नहीं है।"

उस्मान समिउद्दीन ESPNcricinfo में सीनियर एडिटर हैं