मैच (9)
द हंड्रेड (पुरुष) (2)
CWC League 2 (1)
द हंड्रेड (महिला) (2)
महाराजा टी20 (2)
ओमान बनाम बहरीन (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
ख़बरें

टेस्ट कप्तानी मेरे करियर की एक बड़ी उपलब्धि है : बुमराह

"मुझे ख़ुद पर गर्व हो रहा है लेकिन अब मेरा ध्यान इस मैच पर और अपनी तैयारियों पर केंद्रित है।"

Jasprit Bumrah prepares for a bowl, Birmingham, June 29, 2022

यह किसी भी स्तर की क्रिकेट में बतौर कप्तान बुमराह का पहला मैच होगा।  •  Getty Images

गुरुवार को रोहित शर्मा के फिर से कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने के बाद अब जसप्रीत बुमराह एजबेस्टन टेस्ट में भारत का नेतृत्व करेंगे। ऋषभ पंत उनके उपकप्तान होंगे।
यह किसी भी स्तर की क्रिकेट में बतौर कप्तान बुमराह का पहला मैच होगा। वह कपिल देव के बाद भारत की कप्तानी करने वाले पहले तेज़ गेंदबाज़ भी बनेंगे।
बुमराह पटौदी ट्रॉफ़ी में 2-1 से आगे चल रही टीम इंडिया के दूसरे कप्तान होंगे। पहले चार टेस्ट मैचों में विराट कोहली टीम के कप्तान थे जिसके बाद कोरोना संक्रमण के कारण सीरीज़ को स्थगित कर दिया गया था।
एजबेस्टन में कप्तान नियुक्त किए जाने के बाद बुमराह काफ़ी उत्साहित नज़र आए। उन्होंने कहा, "यह मेरे लिए एक बड़ी उपलब्धि है, एक बड़ा सम्मान है। मेरे लिए टेस्ट मैच खेलना एक सपना था और ऐसा मौक़ा मिलना शायद मेरे करियर की सबसे बड़ी उपलब्धियों में से एक है। मैं बहुत ख़ुश हूं कि मुझे यह मौक़ा दिया गया है।"
गुरुवार सुबह ही प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ ने रोहित शर्मा के पॉज़िटिव पाए जाने के बाद बुमराह को कप्तान नियुक्त किए जाने की सूचना दी। बुमराह ने कहा, "हम रोहित (की रिपोर्ट की पुष्टि होने) का इंतज़ार कर रहे थे। आज (गुरुवार) सुबह भी हमने एक टेस्ट किया और वह उसमें पॉज़िटिव पाए गए। फिर कोच के साथ मेरी बातचीत हुई जिसके बाद उन्होंने कप्तानी की घोषणा की।"
आईसीसी की टेस्ट गेंदबाज़ों की रैंकिंग में तीसरे स्थान पर विराजमान बुमराह ने सबसे पहले यह ख़बर अपने परिवारजनों को सुनाई। "जब मुझे इस उपलब्धि के बारे में पता चला तो मैंने अपने परिवार को बताया। मैं ख़ुश हूं और उन्हें मुझ पर गर्व है। मुझे ख़ुद पर गर्व हो रहा है लेकिन अब मेरा ध्यान इस मैच पर और अपनी तैयारियों पर केंद्रित है।"
दिसंबर 2018 में साउथ अफ़्रीका दौरे पर अपना टेस्ट डेब्यू करने के बाद से बुमराह भारतीय टीम की महत्वपूर्ण कड़ी बन चुके हैं। पटौदी ट्रॉफ़ी के पहले चार मैचों में 20.83 की औसत से 18 विकेट लेकर वह भारत की ओर से सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ थे। वह एक साल बाद और अनुभवी हैं और श्रीलंका के ख़िलाफ़ भारत की पिछली टेस्ट सीरीज़ में उपकप्तान भी रह चुके हैं। उस समय बुमराह ने कहा था कि वह प्रेरित हैं और भविष्य में भारत का नेतृत्व करने की ज़िम्मेदारी से हिचकिचाएंगे नहीं।
अब कप्तान चुने जाने के बाद वह अतिरिक्त ज़िम्मेदारी के बारे में जानते हैं। उन्होंने कहा, "मेरे लिए कुछ बदलेगा नहीं, मुझे अब भी अपना काम करना है। आप अपना काम सही ढंग से करते हुए टीम को एकजुट रख सकते हो। मैं यही करना चाहता हूं। हमारे पास एक अच्छी और अनुभवी टीम है। साथ ही मेरी मदद करने के लिए कई लोग मौजूद हैं। मैं टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देना चाहता हूं।"
रोहित की अनुपस्थिति भारत को कई मायनों में खलेगी। उनके नेतृत्व के अलावा भारत अपने सबसे अच्छे बल्लेबाज़ के बिना इस मैच में उतरेगा। सीरीज़ के पहले चार मैचों में रोहित उस समय इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट के बाद सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज़ थे। ओवल टेस्ट में प्लेयर ऑफ़ द मैच रहे रोहित ने 52 से अधिक की औसत से 368 रन बनाए थे। इस दौरान उन्होंने दो अर्धशतक और एक शतक भी जड़ा। केएल राहुल के साथ मिलकर उन्होंने भारत को अच्छी शुरुआत दिलाई। तेज़ गेंदबाज़ी के लिए अनुकूल परिस्थितियों में ख़ुद को ढालने के अलावा रोहित हमेशा बड़े रन बनाने के इरादे से मैदान पर उतर रहे थे।
पिछले हफ़्ते लेस्टरशायर के विरुद्ध अभ्यास मैच के दूसरे दिन कोरोना संक्रमित होने के बाद से रोहित के खेलने पर सवालिया निशान उठ खड़े हुए थे। पांच दिनों तक आइसोलेशन में रहने के बाद भी बुधवार और गुरुवार को हुए कोरोना टेस्ट में उनकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई।
रोहित की अनुपस्थिति का मतलब है कि भारतीय एकादश में दो नए ओपनर होंगे। एक स्थान शुभमन गिल लेंगे जो विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के बाद चोटिल होकर घर लौट गए थे। द्रविड़ ने कहा कि दूसरे स्थान के लिए चेतेश्वर पुजारा, श्रीकर भरत और हनुमा विहारी के बीच किसी एक को चुना जाएगा। बुमराह ने बताया कि टीम प्रबंधन एकादश को लेकर काफ़ी स्पष्ट है लेकिन वह टॉस से पहले उसका खुलासा नहीं करेंगे।
उन्होंने कहा, "रोहित हमारे लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं। हम उन्हें मिस करेंगे। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि उन्हें इस तरह मैच से बाहर होना पड़ा। हम टीम संयोजन को लेकर स्पष्ट हैं। आपको बस कल तक का इंतज़ार करना होगा।"

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।