मैच (8)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
सुपर स्मैश (1)
सुपर स्मैश (W) (1)
आईएलटी20 (1)
एसए20 (1)
ज़िम्बाब्वे बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
ख़बरें

हरभजन : नेहरा को भारत के टी20 कोचिंग सेटअप का हिस्सा बनाना चाहिए

पूर्व भारतीय स्पिनर ने कहा कि टी20 फ़ॉर्मैट में भारत को दृष्टिकोण बदलना होगा

केकेआर की जर्सी में हरभजन  •  BCCI/IPL

केकेआर की जर्सी में हरभजन  •  BCCI/IPL

पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह का मानना है कि आशीष नेहरा को भारत के टी20 कोचिंग सेटअप का हिस्सा होना चाहिए। साथ ही उनके अनुसार नेहरा वर्तमान मुख्य कोच राहुल द्रविड़ से बेहतर सबसे छोटे फ़ॉर्मैट को जानते हैं।
ज्ञात हो कि नेहरा ने 2017 में क्रिकेट से से संन्यास ले लिया था और इस साल बतौर कोच गुजरात टाइटंस को उनके पहले ही आईपीएल सीज़न में ख़िताब दिला दिया था।
हरभजन ने पीटीआई से कहा, "टी20 फ़ॉर्मैट में आपके पास आशीष नेहरा जैसा कोई शख़्स होना चाहिए, जो हाल ही में क्रिकेट से रिटायर हुआ हो। वह इसे बेहतर जानते हैं। पूरे सम्मान के साथ राहुल के लिए मैं कहना चाहूंगा, हम इतने साल एक साथ खेले हैं, उनके पास विशाल ज्ञान है लेकिन यह एक मुश्किल फ़ॉर्मैट है।"
उन्होंने आगे कहा, "जिसने हाल में टी20 क्रिकेट खेला है वह टी20 में कोचिंग के लिए बेहतर है। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि आप राहुल को टी20 से हटा दें। आशीष और राहुल 2024 विश्व कप के लिए इस टीम को तैयार करने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं।"
टर्बनेटर के नाम से मशहूर हरभजन अभी दिल्ली बुल्स टीम का हिस्सा हैं जो अबू धाबी टी10 लीग में खेल रही है।
इंग्लैंड की टी20 विश्व कप जीत ने स्प्लीट कोचिंग और अलग-अलग फ़ॉर्मैट के लिए अलग-अलग खिलाड़ियों को चुनने पर बहस तेज़ कर दी है।
हरभजन ने कहा, "इस तरह से राहुल के लिए भी आसान है जो न्यूज़ीलैंड दौरे की तरह ब्रेक ले सकते हैं और आशीष उनकी ग़ैरमौजूदगी में यह काम कर सकते हैं।" अलग-अलग फ़ॉर्मेट्स के लिए अलग-अलग खिलाड़ियों के बारे में पूछे जाने पर हरभजन ने कहा, "इसमें कोई दिक्कत नहीं है। मेरे अनुसार यह कारगर है।"
हरभजन को लगता है कि भारतीय टीम के दृष्टिकोण को बदलना होगा कि मौजूदा शीर्ष तीन - रोहित शर्मा, के एल राहुल और विराट कोहली - 2024 विश्व कप तक अपने करियर को ले जाएं या नहीं।
उन्होंने कहा, "टी20 फ़ॉर्मैट में दृष्टिकोण बदलना होगा। पहले छह ओवर महत्वपूर्ण हैं। यदि ऐसा नहीं होता है तो आप हार्दिक या सूर्या पर निर्भर रहेंगे कि वे 20 गेंदों में 50 रन बनाएं। यदि वे विस्फ़ोटक बल्लेबाज़ी नहीं कर पाते हैं तो आप अपेक्षाकृत कम स्कोर ही बना पाएंगे"
हरभजन ने आगे कहा, "इंग्लैंड ने अपना दृष्टकोण बदला और उन्होंने दो विश्व कप जीते हैं। टी20 को वनडे की तरह नहीं बल्कि टी20 की तरह ही खेला जाना चाहिए।"
सीनियर खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में भारत ने न्यूज़ीलैंड में एक युवा शीर्ष तीन को मैदान में उतारा है।
हरभजन ने कहा, "शीर्ष तीन के सभी (रोहित, विराट, के एल) को अपनी स्ट्राइक रेट बढ़ाने की ज़रूरत है। जब आप 110 या 120 के स्ट्राइक पर बल्लेबाज़ी करते हैं और 180 बनाने की कोशिश करते हैं तो यह कठिन होता है। उन्हें पहले 10-12 ओवरों में प्रति ओवर कम से कम 9 रन बनाने होंगे।"
क्या आप कोहली और रोहित को सबसे छोटे फ़ॉर्मैट में खेलते हुए आगे देखेंगे?
हरभजन ने कहा, "मैं टिप्पणी करने वाला कोई नहीं हूं कि वे खेलना चाहते हैं या नहीं। वे क्वालिटी खिलाड़ी हैं यदि वे फ़िट रहते हैं तो क्यों नहीं, बशर्ते उनका दृष्टिकोण अलग हो। खिलाड़ियों को रातोंरात नहीं बदला जा सकता है, दृष्टिकोण को बदलना होगा।"
हरभजन ने आगे कहा कि हार्दिक पंड्या को रोहित शर्मा के बाद टी20 में भारत की कप्तानी करनी चाहिए।
"अगर ऐसा होता है तो हार्दिक सही विकल्प हैं।'