मैच (17)
आईपीएल (1)
T20WC Warm-up (3)
County DIV1 (3)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
ENG v PAK (1)
INTER-PRO T20 (1)
ITA vs NL [W] (1)
ख़बरें

टेस्ट रैंकिंग में फिर से नंबर 1 बने एंडरसन

भारतीय खिलाड़ियों में रवींद्र जाडेजा और अक्षर पटेल को आईसीसी की हालिया रैकिंग में फ़ायदा हुआ

James Anderson claimed his 250th overseas Test wicket with the dismissal of Scott Kuggeleijn, New Zealand v England, 1st Test, Mount Maunganui, 4th day, February 19, 2023

जेम्स एंडरसन ने स्कॉट कुगेलाइन को आउट कर विदेशी ज़मीन पर अपना 250वां विकेट पूरा किया था  •  AFP/Getty Images

इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ जेम्स एंडरसन, ऑस्ट्रेलिया के कप्तान पैट कमिंस को पछाड़कर आईसीसी रैंकिंग में नंबर 1 टेस्ट गेंदबाज़ बन गए हैं। पिछले हफ़्ते न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ इंग्लैंड की 267 रनों की जीत में एंडरसन ने अहम भूमिका निभाई थी, जिससे उन्हें टेस्ट रैंकिंग में फ़यादा मिला है।

एंडरसन की उम्र अभी 40 साल और 207 दिनों की है। वह ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर क्लेरी ग्रिमेंट के बाद टेस्ट रैंकिग में शीर्ष पर पहुंचने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन गए हैं। इंग्लैंड टेस्ट टीम ने पिछले 11 मैचों में 10 टेस्ट जीते हैं, जिसमें एंडरसन ने अहम भूमिका निभाई है।

ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ ज़बरदस्त जीत के बाद भारतीय खिलाड़ियों के भी रैंकिंग में उछाल देखने को मिला। दूसरी पारी में सात विकेट चटकाने वाले रवींद्र जाडेजा सात पायदान की छलांग के साथ नौवें स्थान पर पहुंच गए हैं और इस सीरीज़ में सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में दूसरे नंबर पर मौजूद अक्षर पटेल ऑलराउंडरों की हालिया टेस्ट रैंकिंग में दो पायदान ऊपर चढ़कर पांचवें नंबर पर पहुंचे।
एंडरसन अपने टेस्ट करियर में छठी बार नंबर 1 पर पहुंचे हैं। 178 टेस्ट मैचों में उनके नाम 682 विकेट दर्ज हैं और इस फ़ॉर्मैट में सर्वाधिक विकेट लेने वालों की सूची में वह तीसरे स्थान पर हैं। उनसे आगे सिर्फ़ दो खिलाड़ी मुथैया मुरलीधरन (800 विकेट) और शेन वॉर्न (708 विकेट) की स्पिन जोड़ी है।

मई 2016 में एंडरसन ने अपने टीम के साथी स्टुअर्ट ब्रॉड और आर अश्विन को पछाड़कर पहली बार शीर्ष रैंकिंग हासिल की थी। पिछली बार 2018 में वह पांच महीनों के लिए नंबर एक रहे थे।

हालांकि संभावना है कि एंडरसन की नंबर एक पर वापसी ज़्यादा दिनों तक नहीं रहेगी। उनके पास कुल 866 रैंकिंग अंक हैं, जबकि दूसरे नंबर पर मौजूद अश्विन के 864 अंक हैं। अश्विन ने भी पिछले हफ़्ते दिल्ली में भारत की ऑस्ट्रेलिया पर टेस्ट जीत में दमदार प्रदर्शन किया था। कमिंस अब 858 अंकों के साथ तीसरे नंबर पर हैं, लेकिन भारत के ख़िलाफ़ अगले दो टेस्ट मैचों में अच्छे प्रदर्शन से नंबर की कुर्सी हासिल कर सकते हैं।

फिर भी एंडरसन के लंबे करियर और उम्र को देखते हुए यह बड़ी उपलब्धि है। माउंट मॉन्गानुई में सात विकेट लेकर उन्होंने 2003 में अपने डेब्यू सीरीज़ के बाद पहली बार अपने टेस्ट औसत को 26 के नीचे लेकर आए। जिस तरह से वह उम्र के साथ और बेहतर होते जा रहे हैं, वह लाजवाब है। पिछले पांच सालों में उनकी फ़ॉर्म ज़बरदस्त रही है।

जुलाई 2017 में 35 साल के होने के बाद से एंडरसन ने अब तक 56 टेस्ट मैचों में 20.56 की औसत से 202 विकेट झटके हैं। माउंट मॉन्गानुई में उन्होंने और ब्रॉड ने बोलिंग-पार्टनरशिप में लिए गए सर्वाधिक विकेटों के रिकॉर्ड को भी अपने नाम कर लिया। इससे पहले यह रिकॉर्ड ग्लेन मैक्ग्रा और शेन वॉर्न के नाम था, जिन्होंने बोलिंग-पार्टनरशिप में 1001 विकेट लिए थे।

बल्लेबाज़ी रैंकिंग में न्यूज़ीलैंड के टॉम ब्लंडल (11वां) और डेवन कॉन्वे (17वां) ने अपनी शीर्ष रैंकिंग हासिल की, तो वहीं इंग्लैंड की तिकड़ी - ऑली पोप (23वां, हैरी ब्रूक (31वां) और बेन डकेट (38वां) - ने भी यही कारनामा किया।

टी20 अंतर्राष्ट्रीय गेंदबाज़ी रैंकिंग में राशिद ख़ान दूसरे नंबर पर खिसक गए हैं, जिससे वनिंदु हसरंगा शीर्ष पर पहुंच गए हैं। राशिद ने पिछले सप्ताह यूएई के ख़िलाफ़ तीन मैचों में सिर्फ़ चार विकेट लिए थे।