मैच (6)
IPL (2)
ACC Premier Cup (2)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

विश्व कप को देखते हुए हमारा ध्यान वनडे मैचों पर : पवार

महिला टीम के कोच ने कहा- तेज़ गेंदबाज़ी पर हमें और ध्यान देने की ज़रूरत

पवार ने कहा कि झूलन गोस्वामी पर से काम का दबाव कम करना ही होगा  •  ICC via Getty

पवार ने कहा कि झूलन गोस्वामी पर से काम का दबाव कम करना ही होगा  •  ICC via Getty

भारतीय महिला टीम के कोच रमेश पवार ने कहा है कि विश्व कप की तैयारियों को देखते हुए लगातार मैच जीतना बहुत ज़रूरी है और ऑस्ट्रेलिया में टीम जीत के मोमेंटम को प्राप्त करने की कोशिश करेगी।
पवार ने ये बातें भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले कहीं। उन्होंने कहा, "अगले साल फरवरी-मार्च में होने जा रहे विश्व कप को देखते हुए इस दौरे के वनडे मैचों का सबसे अधिक महत्व रहेगा। हम अगर वनडे मैचों में अच्छा करेंगे, तो उसके बाद पर्थ में होने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच के लिए भी हमारा आत्मविश्वास ऊंचा रहेगा।"
भारत तीन महीने के अंतराल में दूसरा टेस्ट मैच खेलने जा रहा है। इससे पहले भारत ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टेस्ट मैच को ड्रॉ कराया था। उन्होंने कहा, "जिस तरह से अपने स्टार खिलाड़ियों के फ़ॉर्म में वापसी के बगैर हमने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ सीरीज़ में वापसी की थी, वह बहुत ही महत्वपूर्ण है। मुझे विश्वास है कि हमें पिंक-बॉल टेस्ट मैच के लिए किसी अलग तैयारी की ज़रूरत नहीं है। हमारे खिलाड़ी सभी परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार हैं।"
ऑस्ट्रेलिया ने अपना अंतिम अंतर्राष्ट्रीय मैच न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ अप्रैल में खेला था, जबकि भारतीय टीम दो महीने के लंबे इंग्लैंड दौरे के बाद बेहतर तैयारियों से ऑस्ट्रेलिया जा रही है। इंग्लैंड दौरे से वापस आने के बाद खिलाड़ियों ने 15 दिन तक बेंगलुरू के राष्ट्रीय कैंप में अभ्यास किया। इस कैंप में खिलाड़ियों ने फ़्लड लाइट्स में इंट्रा स्क्वॉड मैच भी खेले।
इस कैंप में तेज़ गेंदबाज़ों पर विशेष ध्यान दिया गया ताकि वे अंतर्राष्ट्रीय मैचों के लिए तैयार रहें और झूलन गोस्वामी से काम का दबाव कुछ कम किया जा सके। इसी को देखते हुए टीम में रेलवे की मध्यम तेज़ गेंदबाज़ मेघना सिंह और हिमाचल प्रदेश की तेज़ गेंदबाज़ी ऑलराउंडर रेणुका सिंह को ऑस्ट्रेलिया जाने वाली टीम में शामिल किया गया है।
पवार ने कहा, "हमें झूलन गोस्वामी के लिए सहयोगी ढूंढने ही होंगे, ताकि वह अपनी नैसर्गिक आक्रामकता के साथ गेंदबाज़ी कर सकें। दूसरे छोर से बेहतर साथी के अभाव में झूलन रक्षात्मक हो जाती हैं। हमारे पास मेघना सिंह और पूजा वस्त्रकर के रूप में कुछ युवा विकल्प हैं, हम उन्हें अंतर्राष्ट्रीय मंच के लिए तैयार करने की प्रक्रिया में हैं।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के दया सागर ने किया है