मैच (9)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
Shield (1)
सुपर स्मैश (1)
सुपर स्मैश (W) (1)
आईएलटी20 (1)
एसए20 (1)
ज़िम्बाब्वे बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
ख़बरें

बांग्लादेश वनडे सीरीज़ से जाडेजा बाहर

अभी भी स्पष्ट नहीं है कि वह दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ में भी खेलेंगे या नहीं खेलेंगे

सिंतबर में जाडेजा के घुटनों की सर्जरी हुई थी  •  AFP/Getty Images

सिंतबर में जाडेजा के घुटनों की सर्जरी हुई थी  •  AFP/Getty Images

रवींद्र जाडेजा बांग्लादेश के ख़िलाफ़ आगामी तीन मैचों की वनडे सीरीज़ में उपलब्ध नहीं रहेंगे। वह सितंबर में हुए घुटने की सर्जरी से पूरी तरह से नहीं उबर पाए हैं।
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो का मानना है कि बंगाल के हरफ़नमौला शाहबाज़ अहमद को 4 दिसंबर से शुरू हो रही वनडे सीरीज़ के लिए जाडेजा के रिप्लेसमेंट के तौर पर टीम में शामिल किया जा सकता है।
शाहबाज़ अहमद ने इसी साल साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ घरेलू वनडे सीरीज़ के दौरान अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। जारी विजय हज़ारे ट्रॉफ़ी में शाहबाज़ ज़बरदस्त फ़ॉर्म में हैं। उन्होंने छह मैचों में 4.87 की इकॉनमी से 11 विकेट हासिल किए हैं। इसके अलावा उन्होंने बल्ले से भी योगदान देते हुए दो अर्धशतक लगाए हैं।
भारतीय दल की घोषणा के समय तत्कालिन मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने पुष्टि की थी कि जाडेजा का टीम में चयनित होना, पूरी तरह से उनके फ़िटनेस पर निर्भर करता है। यदि जाडेजा आगामी दो टेस्ट मैचों की सीरीज़ के लिए फ़िट नहीं हो पाते हैं, तो संभावना है कि उत्तर प्रदेश के बाएं हाथ के स्पिनर सौरभ कुमार को टीम में शामिल किया जा सकता है।
सौरभ 2019-20 रणजी सीज़न में ज़बरदस्त प्रदर्शन के बाद पिछले साल फ़रवरी से राष्ट्रीय टीम के आसपास रहे हैं। वह हाल ही में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ भारत ए टीम का हिस्सा थे। उन्होंने सीरीज़ के आख़िरी मैच में नौ विकेट लेकर अपनी टीम को 1-0 से सीरीज़ जीत दिलाई। इससे पहले सौरभ ने यूपी को रणजी ट्रॉफ़ी के सेमीफ़ाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी।
सौरभ ने रणजी के दो सीज़न में 12 मैचों में 58 विकेट चटकाए हैं, जो प्रभावशाली आंकड़े हैं। निवर्तमान चयन समीति के एक सदस्य के अनुसार सौरभ की एक खासियत है कि वह बिना थके लंबे स्पेल डाल सकते हैं।
33 वर्षीय जाडेजा को लंबे समय से चली आ रही घुटने की चोट के कारण सर्जरी कराने के लिए एशिया कप को ग्रुप चरणों के बाद छोड़ना पड़ा। वही भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ को शुरू में उम्मीद थी कि जाडेजा टी20 विश्व कप के लिए समय पर ठीक हो सकते हैं, अंततः वह पूरे टूर्नामेंट से ही बाहर हो गए।
यह पहली बार नहीं था जब जाडेजा के दाएं घुटने में तकलिफ़ के कारण मुश्किलों का सामना करना पड़ा, इसी चोट के चलते वे भारत के वेस्टइंडीज़ दौरे पर वनडे सीरीज़ से बाहर हो गए थे।
जाडेजा को बांग्लादेश दौरे के लिए वनडे और टेस्ट दोनों दलों में चुना गया था, लेकिन अब वह कम से कम वनडे सीरीज़ तो नहीं खेल पाएंगे।