मैच (17)
IPL (3)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CAN T20 (2)
फ़ीचर्स

आंकड़े : भारत ने 93.7% जीत दर के साथ अजेय रहते हुए घरेलू सत्र समाप्त किया

इस बीच श्रीलंका, भारत में जीत के बिना एक बार दोबारा लौटा

बेंगलुरु के इस डे नाइट टेस्‍ट में कई रिकॉर्ड टूटे और बने  •  BCCI

बेंगलुरु के इस डे नाइट टेस्‍ट में कई रिकॉर्ड टूटे और बने  •  BCCI

22 टेस्ट श्रीलंका ने भारत में खेले हैं, यह किसी टीम द्वारा सबसे ज़्यादा संख्या है जहां वह एक भी मैच नहीं जीत पाई। श्रीलंका ने 22 में से 13 मैच हारे हैं, जबकि नौ ड्रॉ रहे हैं। इन 22 मैचों में श्रीलंका एक बार भी भारत को ढेर नहीं कर पाई है।
5.87 का गेंदबाज़ी औसत रहा है जसप्रीत बुमराह का इस मैच में, यह किसी भारतीय गेंदबाज़ का तीसरा सर्वश्रेष्ठ हैthird-best (कम से कम : 8 विकेट)। वेंकटपति राजू ने 1993 में श्रीलंका के ख़िलाफ़ 37 रन देकर आठ विकेट लिए थे, वहीं अश्विन ने 2016 में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ 5.25 के औसत से इंदौर में विकेट लिए थे। बुमराह का 9.00 का औसत भी इस सीरीज़ में भारत के लिए दूसरा सर्वश्रेष्ठ है (कम से कम : 10 विकेट)।
22 वीं बार ऐसा हुआ है जब अश्विन ने टेस्ट जीत में आख़िरी विकेट लिया है। शेन वॉर्न ने भी 22 बार ऐसा किया था, जबकि मुथैया मुरलीधरन ने 18 बार ऐसा किया था।
93.7 का जीत प्रतिशत रहा है भारतीय टीम का 2021-22 घरेलू सत्र में। कम से कम 15 मैचों में केवल एक टीम का इससे बेहतर जीत प्रतिशत रहा है। ऑस्‍ट्रेलिया ने 2000-01 घरेलू सत्र में सारे 15 मैच जीते थे। इसके अलावा भारत 16 मैच एक घरेलू सत्र में खेला है, यहां पर वह अजेय रहे, यह दूसरा सर्वश्रेष्ठ है, जहां कोई टीम अजेय रही। ऑस्‍ट्रेलिया ने 2009/10 घरेलू सत्र में 19 मैच खेले थे और 17 जीते थे।
2 दिमुथ करुणारत्ना केवल दूसरे मेहमान ओपनरr हैं, जिन्होंने भारत में चौथी पारी में शतक लगाया। इससे पहले मार्क टेलर ने 1998 में इसी मैदान पर 194 रनों के सफल रन चेज़ में नाबाद 102 रन बनाए थे। वहीं करुणारत्ना केवल पांचवें मेहमान बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने भारत में चौथी पारी में शतक लगाया।
0 बार ऐसा हुआ है जब किसी टीम ने भारत में हुए टेस्ट में अपनी दूसरी पारी टेस्ट मैच के दूसरे दिन घोषित की, घरेलू टीम के पास 446 रन की बढ़त थी जब उन्होंने अपनी दूसरी पारी घोषित की। 1974 ऑकलैंड टेस्‍ट में ऑस्‍ट्रेलिया के पास 439 रन की बढ़त थी जब उन्होंने दूसरे दिन अपनी पारी घोषित की थी।
1.85 का बल्लेबाज़ी औसत रहा श्रीलंका के नंबर 8, 9, 10 और 11 के बल्लेबाज़ों का इस सीरीज़ में। यह किसी सीरीज़ में टीम के निचले क्रम का न्यूनतम औसत है। इससे पहले यह रिकॉर्ड वेस्टइंडीज़ के नाम था, जिनके पुछल्ले बल्लेबाज़ों ने 1999 में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ 2.66 के औसत से रन बनाए थे।
16.72 का औसत रहा श्रीलंका का इस सीरीज़ में, दो टेस्ट मैच की सीरीज़ में यह उनका दूसरा न्यूनतम औसत था। इससे पहले उनका न्यूनतम औसत 1983 की सीरीज़ में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ आया था, जहां उन्होंने 16.30 के औसत से रन बनाए थे। 16.72 का औसत तीसरा न्यूनतम है किसी टीम का भारत के ख़िलाफ़ दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ में। us match Test series against India.

संपत बंडारुपल्ली ESPNcricinfo में स्‍टैटिशियन हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।