ख़बरें

भारत और ऑस्ट्रेलिया की तैयारी पर कठोर क्वारंटीन का साया

होटल में रहने के बाद पहले मैच से पहले दोनों टीमों को सिर्फ़ एक हफ़्ता अभ्यास का समय मिलेगा

The Indian team gathers around Deepti Sharma to celebrate their win , England vs India, 2nd women's T20I, Hove, July 11, 2021

14 दिन होटल में बिताएगी भारतीय टीम  •  Getty Images

ऑस्ट्रेलिया बनाम भारत महिला टीम के सीरीज़ को पूर्णतया क्वींसलैंड स्थानांतरित किए जाने से दोनों टीमों की तैयारी पर असर पड़ सकता है। सोमवार से ही दोनों टीम के खिलाड़ी 14 दिनों के कठोर क्वारंटीन में हैं, जबकि मेज़बान टीम की चंद खिलाड़ी सिडनी और मेलबर्न में मौजूद हैं। इसका मतलब यह कि दो हफ़्तों के लिए आप होटल के कमरे में जो कर पाएं उससे अधिक अभ्यास का कोई प्रावधान नहीं है।
यह नियम ऑस्ट्रेलिया की 18 सदस्यीय टीम में 12 पर असर करेगा। क्वींसलैंड की बेथ मूनी, टसमेनिया की मॉली स्ट्रानो और निकोला केरी, और साउथ ऑस्ट्रेलिया की डार्सी ब्राउन और टाहलिया मकग्रा सीरीज़ से पहले टीम से जुड़ेंगी। वहीं टीम में पहली बार चयनति हुई जॉर्जिया रेडमेन द हंड्रेड खेलकर इंग्लैंड से लौटने के बाद फ़िलहाल होटल क्वारंटीन में हैं।
पिछले सत्र में न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध सीरीज़ से पहले भी विक्टोरिया और न्यूसाउथवेल्स से आने वाली खिलाड़ियों को क्वारंटीन करना पड़ा था हालांकि उन्हें ऐलन बॉर्डर फ़ील्ड में छोटे गुटों में अभ्यास करने की अनुमति मिली थी।
खिलाड़ियों को क्वारंटीन से आज़ादी 13 सितंबर को मिलेगी अर्थात मकाय में वनडे सीरीज़ शुरू होने से पहले उनके पास एक हफ़्ते का समय होगा। अप्रैल में न्यूज़ीलैंड से सीरीज़ के बाद कोविड की वजह से ऑस्ट्रेलिया के दो शीतकालीन कैंप ब्रिस्बेन और डारविन में नहीं हो सके थे।
इसी महीने में कप्तान मेग लानिंग ने विश्वास जताया था कि उनकी टीम कम अभ्यास के बावजूद तैयार रहेगी। लानिंग ने कहा, "हमने कई दिनों से साथ अभ्यास करने का अनुभव नहीं पाया है। आजकल की परिस्थितियों में यह उचित नहीं है, लेकिन हमें अपने अनुभव पर भरोसा है। हम जितना भी अभ्यास कर सकेंगे वह पर्याप्त होगा।"
सीरीज़ के मूल कार्यक्रम के अनुसार डे-नाइट टेस्ट पर्थ के वैका स्टेडियम में खेला जाना था। टायला व्लेमिंक, डार्सी ब्राउन, स्टेला कैम्पबेल, ऐनाबेल सदरलैंड और मैटलन ब्राउन जैसे तेज़ गेंदबाज़ों के रहते ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदें काफ़ी बुलंद थीं, लेकिन मुख्य कोच मैथ्यू मॉट को विश्वास है मेट्रीकॉन स्टेडियम भी गेंदबाज़ों को मदद देगा। उन्होंने कहा, "बिग बैश में मैंने इस पिच पर अच्छे संकेत देखे। उम्मीद है यह पिच हमारे तेज़ गेंदबाज़ों को गेम में रखेगी।"

ऐंड्रयू मक्ग्लैशन ESPNcricinfo में डिप्टी एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo में सीनियर असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है