फ़ीचर्स

आंकड़ें झूठ नहीं बोलते: आरसीबी को अगर केकेआर को हराना है तो इस खिलाड़ी को बनाने होंगे 30 रन

आईपीएल के दूसरे हाफ़ में मैक्सवेल को रोकना नामुमकिन साबित हो रहा है

Glenn Maxwell goes over the covers, Rajasthan Royals vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2021, September 29, 2021

मैक्सवेल आईपीएल के दूसरे हाफ़ में 4 अर्धशतक लगा चुके हैं।  •  BCCI

कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) और रॉयल चैलेंजर बैगलुरु (आरसीबी ) की टीमें फ़ाइनल की तरफ एक और कदम बढ़ाने के लिए एड़ी चोटी का दम लगाने वाली हैं। दोनों टीमों में एक से एक धुरंधर हैं लेकिन उन धुरंधरों से जुड़े कुछ ऐसे आंकड़े भी हैं जिनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए।
पावरप्ले में पावर दिखाओ और मैच जीत जाओ
पिछले 8 मैचों में शारजाह में जिस टीम ने पावरप्ले में ज़्यादा रन बनाए हैं वही टीम मैच जीती है। उदाहरण के तौर पर 25 सितंबर को दिल्ली कैपिटल्स और केकेआर के बीच खेले गए मुक़ाबले को देखा जा सकता है। उस मैच में दिल्ली की टीम ने 6 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 38 रन बनाए थे। वहीं कोलकाता ने 2 विकेट के नुकसान पर 44 रन बनाए थे। मैच का परिणाम कोलकाता के पक्ष में रहा था।
कार्तिक और राणा को परेशान करते हैं चहल
युज़वेंद्र चहल के ख़िलाफ़ दिनेश कार्तिक का औसत सिर्फ़ 10 का है। 7 पारियों में चहल ने 3 बार कार्तिक को अपनी फिरकी में फंसाया है और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट मात्र 91.0 का है। वहीं नीतीश राणा भी तीन बार चहल का शिकार बने हैं। हालांकि चहल के सामने राणा का स्ट्राइक रेट 133 का है। वहीं कोलकाता के कप्तान ओएन मॉर्गन भी चहल के सामने परेशान रहते हैं। मॉर्गन का स्ट्राइक रेट चहल के ख़िलाफ 98 का है। हालांकि वह चहल का एक ही बार शिकार बने हैं।
हेड टू हेड
दोनों टीमों के बीच आईपीएल के इतिहास में 28 मैच खेले गए हैं जिसमें से 15 बार केकेआर जीत दर्ज करने में कामयाब रही है। वहीं 2018 के बाद से दोनों टीमों के बीच 8 मैच हुए हैं जिसमें से दोनों टीमों ने 4-4 मैच जीते हैं।
इस खिलाड़ी के 30 रन बहुत महत्वपूर्ण
आईपीएल 2021 में मैक्सवेल ने 5 मरतबा 30 से कम रन बनाया जिसमें से आरसीबी 4 मैच हार गई। वहीं 8 मैचों में मैक्सवेल ने 30 से ज़्यादा रन बनाया और 7 बार उनकी टीम को जीत मिली है।
कोहली के परेशानी की सबब
अंदर आने वाली गेंदों पर कोहली को लगातार समस्या हो रही है। आईपीएल के दूसरे हाफ़ में कोहली तीन बार अंदर आती गेंद का शिकार हुए हैं। वहीं आईपीएल 2021 में वह 7 बार अंदर आती हुई गेंद पर आउट हुए हैं।
बिग शॉ को रोकना नामुमकिन
मैक्सवेल ने पहले 6 मैचों में 223 रन बनाए थे और उस दौरान उन्होंने 37.2 का औसत से रन बनाते हुए 2 पचासा भी लगाया। वहीं आईपीएल के दूसरे भाग में मैक्सवेल ने 7 मैचों में 275 रन बनाया है जिसमें उन्होंने 4 पचासा लगाया और उनका औसत 55 का रहा। आईपीएल के दूसरे हाफ में मैक्सवेल ने आरसीबी के कुल स्कोर का 27 फ़ीसदी रन ख़ुद बनाया है।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं