मैच (12)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
BAN v SL (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
Sheffield Shield (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
Nepal Tri-Nation (1)
फ़ीचर्स

क्या मुंबई इंडियंस को खलेगी एक शीर्ष स्पिनर की कमी?

पोलार्ड के साथ टिम डेविड निभाएंगे फ़ीनिशर की भूमिका, बुमराह का गेंदबाज़ी में साथ देंगे टिमाल मिल्स

डेथ ओवरोंं महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएंगे बुमराह, लेकिन बोल्‍ट के पावरप्‍ले के काम को कौन संभालेगा?  •  BCCI

डेथ ओवरोंं महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएंगे बुमराह, लेकिन बोल्‍ट के पावरप्‍ले के काम को कौन संभालेगा?  •  BCCI

2021 में कहां ख़त्म किया

2021 में गत चैंपियन के तौर पर उतरी मुंबई इंडियंस एक स्थान से प्लेऑफ़ में जगह बनाने से रह गई थी, जहां वह पांचवें स्थान पर रही थी। टीम ने टूर्नामेंट में बहुत अंत में जाकर वापसी का प्रयास किया लेकिन तब तक बहुत देर हो गई थी।

आदर्श प्लेयिंग इलेवन

1 इशान किशन (विकेटकीपर), 2 रोहित शर्मा (कप्तान), 3 सूर्यकुमार यादव, 4 तिलक वर्मा, 5 कायरन पोलार्ड, 6 टिम डेविड, 7 डेनियल सैम्स/फ़ेबियन ऐलेन, 8 टिमल मिल्स, 9 जयदेव उनादकट, 10 मुरुगन अश्विन, 11 जसप्रीत बुमराह

खिलाड़ियों की उपलब्धता

हाल ही में नीलामी में ख़रीदे गए खिलाड़ियों में से केवल जोफ़्रा आर्चर ही इस सीज़न में नहीं खेल पाएंगे। वहीं चोटिल सूर्यकुमार यादव के दिल्ली कैपिटल्स के ख़िलाफ़ पहले मुक़ाबले में खेलने की उम्मीद कम हैं।

बल्लेबाज़ी

क्विंटन डिकॉक और पंड्या भाईयों के जाने से मुंबई की बल्लेबाज़ी में कमज़ोरी आई थी, लेकिन उन्होंने नीलामी में इस कमी को अच्छे से पूरा कर लिया। उनके शुरुआती तीन क्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा, इशान किशन और सूर्यकुमार यादव मज़बूत हैं, जबकि किशन तीसरे या चौथे नंबर पर भी उतारा जा सकता है, जहां अनमोलप्रीत से ओपनिंग कराई जा सकती है। उन्होंने पिछले साल चेन्नई सुपर किंग्स के ख़िलाफ़ एक बार जरूर ओपनिंग की थी।
इसी तरह नंबर पांच और नंबर छह पर फ़ीनिशर के रोल में उनके पास कायरन पोलार्ड और टिम डेविड जैसे नाम हैं, इसके अलावा वह डेनियल सैम्स या फ़ेबियन ऐलेन में से किसी एक हरफ़नमौला को भी खिला सकते हैं। वहीं विदेशी खिलाड़ियों के विकल्पों में उनके पास "बेबी एबी" डेवाल्ड ब्रेविस भी हैं, जो हाल ही में समाप्त हुए अंडर 19 विश्व कप में प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट रहे थे, जहां पर उन्होंने मैदान के चारों ओर शॉट लगाते हुए 84.33 के औसत और 90.19 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे।
उनके लिए एक ही सवाल यह है कि अगर सूर्यकुमार नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करेंगे तो नंबर चार पर कौन बल्लेबाज़ी करेगा। उनके पास युवा बल्लेबाज़ तिलक वर्मा का भी विकल्प है, जिन्होंने हैदराबाद के लिए घरेलू क्रिकेट में अच्छा किया है या वह अनमोलप्रीत के साथ भी जा सकते हैं। अगर कोई पहली पसंद का बल्लेबाज़ चोटिल या फ़ॉर्म से बाहर रहता है तो मुंबई के पास भारतीय बल्लेबाज़ों का भी कम विकल्प है।

गेंदबाज़ी

जसप्रीत बुमराह मुंबई के तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण का नेतृत्व करना जारी रखेंगे, लेकिन अब उनके साथ टिमाल मिल्स होंगे, जिससे अब मुंबई के पास अच्छा डेथ बॉलिंग आक्रमण है। लेकिन डेथ ओवरों से पहल पावरप्ले आता है और अब मुंबई की टीम में ट्रेंट बोल्ट नहीं हैं जो पहले छह ओवरों में टोन सेट करते थे। ऐसे में मुंबई को सोचना होगा कि वह पावरप्ले में किससे गेंदबाज़ी कराए। बुमराह आम तौर पर पावरप्ले में केवल एक ही ओवर करते हैं, ऐसे में मुंबई जयदेव उनादकट और सैम्स के साथ जा सकत है जिनका 2019 आईपीएल से 7.22 और 7.10 का बेहतरीन इकॉनमी रहा है।
मध्य ओवरों के लिए मुंबई इस बार भी अच्छे स्पिनर की कमी महसूस करेगी। मुरुगन अश्विन और मयंक मारकंडे उनके पास दो ही भारतीय स्पिनर हैं, वहीं ऐलेन एक हरफ़नमौला की तरह से टीम में हैं। मुंबई एक बड़े स्पिनर की कमी जरूर महसूस करेगी, क्योंकि टूर्नामेंट के दूसरे हाफ़ में गेंद ज़्यादा टर्न होना शुरू हो जाएगी, ऐसा इसीलिए क्योंकि इस बार यह टूनामेंट चार ही मैदानों पर खेला जाना है।

इन युवा खिलाड़ियों पर रहेगी नज़र

भारतीयों की बात करें तो बुधवार को मुंबई इंडियंस के कोच महेला जयवर्दना ने हैदराबाद के 19 वर्षीय तिलक वर्मा को उनकी आक्रामक शॉट खेलने की कला की वजह से बड़ा टैलेंट बताया था। बायें हाथ का बल्लेबाज़ होने की वजह से वर्मा नंबर तीन पर भी बल्लेबाज़ी कर सकते हैं, जब भी किशन अपना विकेट जल्द खो दें, ​इससे बायें और दायें हाथ के बल्लेबाज़ों का संयोजन भी बना रहेगा। विजय हज़ारे ट्रॉफ़ी में तिलक ने दिल्ली के ख़िलाफ़ 123 गेंद में 139 रन जड़े थे और 2020-21 का सत्र 97.75 के औसत और 97.26 के स्ट्राइक रेट से 391 रन बनाकर समाप्त किया। वहीं सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी में भी उन्होंने 147.26 के स्ट्राइक रेट से 215 रन बनाए।

कोचिंग स्टाफ़

महेला जयवर्दना (प्रमुख कोच), ज़हीर ख़ान (डायरेक्टर ऑफ़ ऑपरेशंस), शेन बोंड (गेंदबाज़ी कोच), रोबिन सिंह (बल्लेबाज़ी कोच), जेम्स पामेंट (क्षेत्ररक्षण कोच)।

विशाल दीक्षित ESPNcricinfo में असिस्‍टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।