मैच (9)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (4)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

पहले मुक़ाबले में मारक्रम की जगह भुवनेश्वर संभालेंगे हैदराबाद की कमान

भुवनेश्वर इससे पहले सात मैचों में सनराइज़र्स हैदराबाद की कप्तानी कर चुके हैं

पहले मैच के लिए हैदराबाद के पास विदेशी खिलाड़ियों के तौर पर सिर्फ़ पांच विकल्प मौजूद रहेंगे  •  BCCI

पहले मैच के लिए हैदराबाद के पास विदेशी खिलाड़ियों के तौर पर सिर्फ़ पांच विकल्प मौजूद रहेंगे  •  BCCI

स्थाई कप्तान एडन मारक्रम की अनुपस्थिति में 2 अप्रैल को राजस्थान रॉयल्स के ख़िलाफ़ अपना पहला मैच खेलने वाली सनराइज़र्स हैदराबाद की कमान भुवनेश्वर कुमार संभालेंगे।
मारक्रम इस समय नीडरलैंड्स के विरुद्ध दो वन डे मैचों की सीरीज़ के सिलसिले में साउथ अफ़्रीका में हैं और वह 3 अप्रैल को भारत पहुंचेंगे। यह सीरीज़ इस साल के अंत में भारत में होने वाले विश्व कप में सीधा प्रवेश पाने के लिए साउथ अफ़्रीका के दृष्टिकोण से काफ़ी अहम है। उन्हें बिना किसी ओवर रेट की पेनल्टी के नीदरलैंड्स के विरुद्ध दोनों वनडे मुक़ाबले जीतने होंगे साथ ही यह उम्मीद भी करनी होगी कि मई महीने में आयरलैंड, बांग्लादेश के ख़िलाफ़ तीन वनडे मैचों की घरेलू सीरीज़ में कम से कम एक मुक़ाबला हार जाए।
भुवनेश्वर 2013 से हैदराबाद से जुड़े हुए हैं और पहले भी वह टीम की कमान संभाल चुके हैं। कुल सात मैचों में उन्होंने हैदराबाद की अगुवाई की है, जिसमें 2019 में छह जबकि 2022 में एक मुक़ाबले में उन्होंने टीम का नेतृत्व किया था। भुवनेश्वर की कप्तानी में हैदराबाद ने दो मुक़ाबलों में हैदराबाद ने जीत दर्ज की है।
पिछले सीज़न अंक तालिका को आठवें स्थान पर समाप्त करने के बाद हैदराबाद ने अपनी टीम में बड़े बदलाव किए, जिसमें सबसे बड़े बदलाव के तौर पर उन्होंने केन विलियमसन को रिलीज़ कर दिया और मारक्रम की नेतृत्व क्षमता पर भरोसा जताया।
एसए20 लीग के पहले सीज़न में मारक्रम ने सनराइज़र्स ईस्टर्न केप का नेतृत्व किया था। मारक्रम की टीम ने ही इस लीग का ख़िताब अपने नाम किया। इस टूरमानेंट में 127 के स्ट्राइक रेट से 369 रन बनाने वाले मारक्रम सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ों की सूची में तीसरे नंबर पर थे, जबकि उन्होंने 6.19 की इकोनॉमी से 11 विकेट भी झटके थे।
मारक्रम के अलावा हेनरिक क्लासेन और मार्को यानसन भी पहले मैच में हैदराबाद के लिए अनुपलब्ध रहेंगे। इस लिहाज़ से अपने पहले मुक़ाबले से पहले हैदराबाद के पास विदेशी खिलाड़ियों के तौर पर सिर्फ़ पांच विकल्प होंगे। हैदराबाद को अपना दूसरा मुक़ाबला 7 अप्रैल को लखनऊ के ख़िलाफ़ खेलना है।