मैच (15)
T20 वर्ल्ड कप (4)
IND v SA [W] (1)
CE Cup (4)
T20 Blast (6)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : रोहित-इशान की सलामी जोड़ी पंजाब के लिए खड़ी कर सकती है मुश्किलें

रबाडा बन सकते हैं सुर्यकुमार की फ़ॉर्म वापसी में रोड़ा

Rohit Sharma and Ishan Kishan have been among the most attacking openers this season, Sunrisers Hyderabad vs Mumbai Indians, IPL 2023, Hyderabad, April 18, 2023

रोहित शर्मा और इशान किशन की जोड़ी धीरे-धीरे लय में आ रही है  •  AFP/Getty Images

आईपीएल में मुंबई इंडियंस और पंजाब किंग्स का मुक़ाबला हमेशा बराबरी का ही रहा है। दोनों टीमों के बीच आईपीएल में अब तक 29 मैच खेले गए हैं, जिसमें 15 में मुंबई और 14 में पंजाब ने जीत हासिल की है। यह मुक़ाबला मुंबई के होमग्राउंड पर है, जहां मुंबई की टीम नौ मैचों में 5-4 से आगे है। 2019 से अब तक खेले गए सात मुक़ाबलों में पंजाब ने 4-3 से बाज़ी मारी है। इस साल के प्रदर्शन की बात करें तो दोनों टीमों ने तीन-तीन मैचों में जीत हासिल की है, लेकिन मुंबई ने इसके लिए पांच और पंजाब ने छह मैच लिए हैं। आइए डालते हैं इस मैच के कुछ प्रमुख आंकड़ों और मैच-अप्स पर नज़र।
रोहित और सूर्यकुमार दोनों को रहना होगा रबाडा से सावधान
सूर्यकुमार यादव का वर्तमान फ़ॉर्म निराशाजनक रहा है। कोलकाता नाइट राइडर्स के ख़िलाफ़ एक 43 रन की पारी छोड़ दें तो उन्होंने इस आईपीएल में 15, 1, 0 और 7 का स्कोर बनाया है। पंजाब के ख़िलाफ़ वह अपने फ़ॉर्म में वापस आ सकते हैं, बशर्ते उन्हें कगिसो रबाडा से पार पाना होगा, जो उन्हें टी20 मैचों में तीन बार आउट कर चुके हैं। हालांकि इस दौरान सूर्यकुमार उन पर 181 के स्ट्राइक रेट और 31.3 की औसत से रन बनाते हैं। रबाडा, सूर्यकुमार के अलावा मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को भी चार टी20 पारियों में आउट कर चुके हैं।
हालांकि सूर्यकुमार का पंजाब के अन्य गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ रिकॉर्ड बहुत बढ़िया है। वह सैम करन के ख़िलाफ़ 163, ऋषि धवन के ख़िलाफ़ 222, हरप्रीत बराड़ के ख़िलाफ़ 283, लियम लिविंगस्टन के ख़िलाफ़ 270 और अर्शदीप सिंह के ख़िलाफ़ 124 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं और करन के अलावा कोई भी उन्हें टी20 मैचों में आउट नहीं कर सका है।
धवन खेलते हैं तो वह मुंबई के ख़िलाफ़ तेज़ी से रन बनाएंगे
पिछले दो मैचों में चोट के कारण पंजाब के कप्तान शिखर धवन अंतिम एकादश का हिस्सा नहीं थे, लेकिन अगर वह वापसी करते हैं तो अपने शानदार फ़ॉर्म को बरक़रार रखते हुए तेज़ी से रन बना सकते हैं। यह हम नहीं मुंबई के गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ उनका टी20 रिकॉर्ड कहता है। वह फ़ॉर्म में चल रहे मुंबई के स्पिनर पीयूष चावला के ख़िलाफ़ 156 के स्ट्राइक रेट और 46 की औसत से रन बनाते हैं। चावला उन्हें 12 पारियों में दो बार ही आउट कर पाए हैं। धवन इसके अलावा राइली मेरेडिथ के ख़िलाफ़ 188 और जेसन बेहरनडॉर्फ़ के ख़िलाफ़ 138 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं।
पावरप्ले में पंजाब को कौन बचाएगा?
इस साल पावरप्ले में पंजाब की बल्लेबाज़ी बहुत ही ख़राब रही है और उनके बल्लेबाज़ों ने पहले छह ओवरों में 13 विकेट खोए हैं, जो कि संयुक्त रूप से दूसरा सर्वाधिक है। कोलकाता ने पावरप्ले में सर्वाधिक 15 विकेट खोए हैं, वहीं दिल्ली ने भी पंजाब के बराबर पावरप्ले में 13 विकेट गंवाए हैं। इस सीज़न के छह मैचों में तीन बार ऐसा हुआ है कि पंजाब की टीम ने पावरप्ले के दौरान कम से कम तीन विकेट गंवा दिए हों। पंजाब के बल्लेबाज़ों का स्ट्राइक रेट भी पावरप्ले के दौरान बहुत कम रहा है और प्रभसिमरन सिंह को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ 150 के ऊपर के स्ट्राइक रेट से रन नहीं बना पा रहा है। ऐसे में जब धवन और भानुका राजापक्षा जैसे अनुभवी बल्लेबाज़ चोटिल हैं और उनका खेलना संदिग्ध नज़र आता है, पंजाब के युवा बल्लेबाज़ों को ज़िम्मेदारी लेनी होगी।
वहीं इशान-रोहित को पावरप्ले में कौन रोकेगा?
जहां पंजाब की पावरप्ले बल्लेबाज़ी सवालों के कठघरे में है, वहीं मुंबई ने इस साल पावरप्ले में अच्छा प्रदर्शन किया है। इस टीम ने इस साल पांच में से तीन मैचों में पावरप्ले के दौरान 60 के स्कोर को पार किया है, जो कि सर्वाधिक है। पावरप्ले के दौरान मुंबई का रन रेट 9.4 है, जो कि चेन्नई (9.9) के बाद संयुक्त रूप से दूसरा सर्वाधिक है। मुंबई की सलामी जोड़ी रोहित और इशान किशन ने इस साल दो अर्धशतकीय साझेदारियां की हैं और वे दोनों साझेदारी के दौरान 160 की स्ट्राइक रेट और 45 की औसत से रन बना रहे हैं। यह इस सीज़न कम से कम 100 रन बनाने वाले किसी भी सलामी जोड़ी का तीसरा सर्वाधिक औसत और दूसरा सर्वश्रेष्ठ स्ट्राइक रेट है। तो देखना होगा कि रोहित-इशान की जोड़ी को रबाडा एंड कंपनी रोक पाती है या नहीं?

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं. @dayasagar95