मैच (21)
ZIM v IND (1)
TNPL (2)
LPL (1)
Legends WC (3)
T20 Blast (9)
ENG v NZ (W) (1)
MLC (2)
ENG v WI (1)
RHF Trophy (1)
फ़ीचर्स

RR vs RCB मैच रिपोर्ट कार्ड : राजस्थान की ख़राब बल्लेबाज़ी पर कैसे हावी हुई बेंगलुरु की रणनीति?

क्या यशस्वी के आउट होने के तुरंत बाद पड़िक्कल को बल्लेबाज़ी के लिए भेजा जा सकता था?

The RCB players are elated after Royals were skittled for just 59 in 10.3 overs, Rajasthan Royals vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2023, Jaipur, May 14, 2023

पर्नल और ब्रेसवेल के सामने राजस्थान का बल्लेबाज़ी क्रम धराशाई हो गया  •  BCCI

रविवार को जयपुर में हुई रॉयल टक्कर एकतरफ़ा साबित हुई। 172 रनों का पीछा करते हुए राजस्थान के बल्लेबाज़ सिर्फ़ 59 रन ही बना सके और उन्हें 112 रनों के बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा। वहीं राजस्थान रॉयल्स की ख़राब बल्लेबाज़ी ने उनके लिए प्लेऑफ़ में पहुंचने का रास्ता और कठिन कर दिया है। दूसरी तरफ़ जयपुर में हुआ सूर्यास्त रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के लिए उम्मीद की किरण लेकर आया। इस मैच में विभिन्न क्षेत्रों में दोनों टीमों द्वारा अर्जित अंक पर नज़र डालते हैं।
बल्लेबाज़ी
राजस्थान (D)- राजस्थान की बल्लेबाज़ी बेहद निराशाजनक रही। जयपुर में आज सुबह में बादल मंडराए हुए थे लेकिन राजस्थान की उम्मीदों पर शाम में पानी फिरना शुरु हुआ। जिस आक्रामकता की दरकार राजस्थान को गेंदबाज़ी में थी उस आक्रामकता का इस्तेमाल उन्होंने बल्लेबाज़ी में किया और यह प्रयोग विफल रहा। संभवत: राजस्थान के बल्लेबाज़ संभावित बारिश को देखते हुए आक्रामक शुरुआत के लिए गए थे लेकिन यशस्वी जायसवाल, जॉस बटलर और संजू सैमसन पहले दो ओवर में ही आउट हो गए। इसके बाद विकटों की झड़ी लगी रही और सिर्फ़ शिमरॉन हेटमायर की 19 गेंदों में 35 रनों की आतिशी पारी के अलावा किसी भी अन्य बल्लेबाज़ ने प्रभावित नहीं किया और पूरी की पूरी टीम मिलकर 11 ओवर भी नहीं खेल पाई।
बेंगलुरु (A) - बेंगलुरु की शुरुआत धीमी रही। पावरप्ले में सलामी जोड़ी 50 के आंकड़े को भी पार नहीं कर पाए लेकिन सातवें ओवर की अंतिम गेंद पर के एस आसिफ़ ने अपनी नकल गेंद से विराट कोहली को बीट किया और एक्स्ट्रा कवर पर खड़े यशस्वी ने उनका कैच लपक लिया। हालांकि इसके बाद फ़ाफ़ डुप्लेसी और ग्लेन मैक्सवेल ने पारी को संभाला। विशेषकर मैक्सवेल ने तेज़ गति से अपनी पारी आगे बढ़ाया। हालांकि डुप्लेसी और मैक्सवेल अंत तक पारी को नहीं ले जा पाए लेकिन दोनों की अर्धशतकीय पारियों ने एक नींव रखी जिसे अनुज रावत ने अपनी आतिशी पारी से एक अच्छे स्कोर पर पहुंचा दिया।
गेंदबाज़ी
राजस्थान (B) - पावरप्ले में राजस्थान के गेंदबाज़ों ने बेंगलुरु की सलामी जोड़ी को बांधे रखा। जिसका फ़ायदा के एम आसिफ़ ने उठाया और कोहली को चलता किया। हालांकि इसके बाद जब डुप्लेसी और मैक्सवेल के बीच 69 रनों की बड़ी साझेदारी हुई तब उसे भी आसिफ़ ने ही तोड़ा और दूसरी बार यशस्वी के हाथों डुप्लेसी को कैच आउट करवाया। इसके बाद ऐडम ज़ैम्पा ने महिपाल लोमरोर और दिनेश कार्तिक का विकेट निकाला। मैक्सवेल भी 18वें ओवर में रिवर्स स्वीप खेलने के प्रयास में बोल्ड हो गए लेकिन इसके बाद अंतिम ओवर में आसिफ़ की अंतिम तीन गेंदों पर अनुज ने दो छक्के और एक चौका जड़ दिया।
बेंगलुरु (A+) - बेंगलुरु के गेंदबाज़ों ने शुरुआती झटके के देकर राजस्थान को पावरप्ले में ही बैकफ़ुट पर ला खड़ा कर दिया। मोहम्मद सिराज ने दूसरी ही गेंद पर यशस्वी को चलता कर दिया। जबकि अगले ही ओवर में वेन पर्नेल ने बटलर और संजू का विकेट झटक लिया। इसके बाद इंपैक्ट प्लेयर पड़िक्कल भी माइकल ब्रेसवेल की गेंद पर मिडविकेट पर सिराज के हाथों कैच थमा दिया।
क्षेत्ररक्षण
राजस्थान (B) - राजस्थान ने मैदान में अच्छी फ़ील्डिंग की। यशस्वी ने पहले कवर से दौड़ते हुए कोहली का एक हाई कैच लपका। इसके बाद उन्होंने डुप्लेसी को भी अपनी बायीं ओर डुप्लेसी का कैच लपका। ध्रुव भी महिपाल लोमरोर का तीसरे प्रयास में कैच लपका। हालांकि शुरुआत में यशस्वी ने डुप्लेसी और कोहली को रन आउट करने के कुछ मौक़े ज़रूर गंवाए। कोहली तो बड़ी पारी नहीं खेल पाए लेकिन डुप्लेसी के अर्धशतक ने बेंगलुरु को मुश्किल में पड़ने से बचा लिया।
बेंगलुरु (A+) - बेंगलुरु की गेंदबाज़ी इतनी अच्छी साबित नहीं हुई होती अगर उनके फ़ील्डरों ने कैच नहीं लपके होते। ऐसा इसलिए क्योंकि गेंदबाज़ी में मिली अच्छी शुरुआत फ़ील्डरों की बदौलत ही मिल पाई। गेंदें वैसी नहीं थीं कि उन पर कोई गेंदबाज़ विकेट ले पाए। पहले चार विकेट में सिराज का दो कैच, अनुज का पिच की तरफ़ दौड़कर आते हुए एक मुश्किल कैच और मिडऑफ़ पर कोहली द्वारा यशस्वी का कैच लपकना शामिल था। बेंगलुरु के गेंदबाज़ अगर राजस्थान पर हावी हो पाए तो इसमें बेंगलुरु के फ़ील्डरों के योगदान को नहीं नकारा जा सकता। अनुज ने भी एक अहम मोड़ पर अश्विन को रन आउट किया। मैक्सवेल ने भी लॉन्ग ऑन पर हेटमायर का कैच लपक कर राजस्थान की अंतिम उम्मीद को समाप्त कर दिया।
रणनीति
राजस्थान (C) - गेंदबाज़ी के दौरान राजस्थान की तरफ़ से कोई ख़ास रणनीति नज़र नहीं आई। शुरुआत में ज़रूर बेंगलुरु की सलामी जोड़ी को राजस्थान बांध कर रोकने में क़ामयाब हो गई लेकिन जिस आक्रामकता की दरकार थी, उस आक्रामकता के साथ वह बेंगलुरु के ख़िलाफ़ नहीं गए। मिसाल के तौर पर, संदीप शर्मा को शुरुआत में स्विंग प्राप्त हो रही थी लेकिन इसके बावजूद कप्तान संजू अटैकिंग फ़ील्ड के साथ नहीं गए। वहीं मिडिल ओवर्स में भी डुप्लेसी और मैक्सवेल को आसानी से छोर बदलने के मौक़े दिए गए जिस वजह से दोनों के बीच एक बड़ी साझेदारी हुई। वहीं बल्लेबाज़ी में भी राजस्थान के बल्लेबाज़ बेंगलुरु के प्रयासों से अधिक अपने विकेट क़ुर्बान करते अधिक दिखाई दिए। राजस्थान ने इम्पैक्ट प्लेयर के तौर पर देवदत्त पड़िक्कल का इस्तेमाल किया लेकिन उन्हें यशस्वी के आउट होने के बाद भेजा जा सकता था। हालांकि देवदत्त भी कुछ ख़ास नहीं कर पाए लेकिन पिच पर बाएं और दाएं हाथ के बल्लेबाज़ों की मौजूदगी सुनिश्चित की जा सकती थी।
बेंगलुरु (A) - बल्लेबाज़ी में बेंगलुरु ने एक धीमी शुरुआती ज़रूर की थी लेकिन कोहली का विकेट गिरने के बाद कप्तान डुप्लेसी और मैक्सवेल ने अधिक जोख़िम नहीं लिया और एक ऐसी पिच जहां गेंद फंस कर आ रही थी वहां विशेषकर डुप्लेसी ने आक्रामकता के बजाय सूझबूझ के साथ अपनी पारी को आगे बढ़ाया। गेंदबाज़ी में भी जब बेंगलुरु को शुरुआती सफलताएं प्राप्त हुईं तो उन्होंने राजस्थान के विपरीत आक्रामक रवैया अपनाया और पर्नेल-ब्रेसवेल की जोड़ी राजस्थान पर हावी हो गई और यहीं राजस्थान बेंगलुरु से पिछड़ गई।