ख़बरें

आईपीएल नियमों में बदलाव: टॉस के बाद टीमें अपनी एकादश की घोषणा करेंगी

इससे टीमों को परिस्थितियों के अनुसार अपना सर्वश्रेष्ठ एकादश चुनने में मदद मिलेगी

MS Dhoni and Rohit Sharma pose for the camera at the toss ahead of the encounter, Mumbai Indians vs Chennai Super Kings, IPL 2022, Wankhede Stadium, Mumbai, May 12, 2022

इस साल आईपीएल कप्तान दो टीम शीट के साथ टॉस के लिए जाएंगे  •  BCCI

आगामी आईपीएल में टीमों के कप्तान टॉस के बाद अपना फ़ाइनल एकादश घोषित कर सकते हैं। टॉस के लिए वे दो अलग-अलग टीम शीट के साथ जाएंगे। पिछले सीज़न के लिहाज़ से देखें, तो यह आईपीएल नियमों में महत्वपूर्ण बदलाव है। इसे जल्दी ही टीमों के साथ शेयर किया जाएगा। आईपीएल ने एक आंतरिक नोट में कहा कि कई नियमों में बदलाव किए गए हैं। इस बदलाव से फ़्रैंचाइज़ियों को अपनी सर्वश्रेष्ठ एकादश चुनने में मदद मिलेगी। भले ही वे पहले बल्लेबाज़ी या पहले गेंदबाज़ी का फ़ैसला करें। आगामी सीज़न में इम्पैक्ट प्लेयर नियम भी लागू होगा।
उस नोट में कहा गया है, "अभी कप्तानों को टॉस से पहले टीम में बदलाव करनी होती है। इस नियम को टॉस के तुरंत बाद टीम में बदलाव करने के लिए बदल दिया गया, ताकि टीमें ये देखकर कि वे पहले बल्लेबाज़ी कर रही हैं या गेंदबाज़ी, उसके अनुसार सर्वश्रेष्ठ एकादश चुन सकें। यह टीमों को इम्पैक्ट प्लेयर के लिए योजना बनाने में भी मदद करेगा।"
इस तरह से एसए20 के बाद आईपीएल दूसरा टी20 फ़्रैंचाइज़ी टूर्नामेंट बन गया है, जिसमें टीमें टॉस के बाद अपने एकादश की घोषणा कर सकती हैं। हाल ही में खेले गए एसए20 के उद्घाटन सीज़न में टीमों ने टॉस के बाद अपने अंतिम एकादश की घोषणा करने से पहले टीम शीट में 13 नाम रखे थे। एसए20 के टूर्नामेंट डायरेक्टर और साउथ अफ़्रीका के पूर्व कप्तान ग्रैम स्मिथ ने उस समय कहा था कि इस क़दम को "टॉस के प्रभाव को कम करने" के लिए डिज़ाइन किया गया था और एक समान खेल की परिस्थितियों की अनुमति दी गई थी।
आईपीएल ने अब इसी सोच को अपनाई है। इससे ओस के प्रभाव को बेअसर करने में मदद मिलेगी। आमतौर पर भारत के कुछ वेन्यूज़ पर बाद में गेंदबाज़ी करने वाली टीमों को ओस से जूझना पड़ा है।
वहीं टॉस अभी भी मायने रखता है। नए नियम के आने से विशेष परिस्थितियों में "टॉस जीतो, मैच जीतो" वाला मामला नहीं होना चाहिए। उदाहरण के लिए, अगर कोई टीम पहले बल्लेबाज़ी करना चाहती है और फिर स्पिनरों की मददगार परिस्थितियों में अपने स्कोर का बचाव करना चाहती है। लेकिन अगर उसे पहले गेंदबाज़ी के लिए बुलाया जाता है तो वह अपने शुरुआती एकादश में एक अतिरिक्त स्पिनर खिला सकती है और फिर रन चेज़ में किसी विशेषज्ञ गेंदबाज़ की जगह बल्लेबाज़ को ला सकती है।

आईपीएल नियामों में आए अन्य बदलाव

  • तय समय में पूरे नहीं किए गए प्रत्येक ओवर के लिए पेनल्टी के तौर पर सिर्फ़ चार फ़ील्डर घेरे के बाहर रहेंगे।
  • गेंद आने से पहले विकेटकीपर के अनुचित मुवमेंट पर डेड बॉल होगा और 5 पेनल्टी रन दिए जाएंगे।
  • बल्लेबाज़ के शॉट खेलने से पहले फ़ील्डर के अनुचित मुंवमेंट पर डेड बॉल होगा और 5 पेनल्टी रन दिए जाएंगे।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo के न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।