मैच (18)
IPL (3)
SA v SL (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
USA vs CAN (1)
ख़बरें

हमारी बल्लेबाज़ी पूरी तरह लड़खड़ा गई : माइक हेसन

कोच ने एबी डीविलियर्स के विकेट कीपिंग न करने की वजह भी बताई, 'वह अहम खिलाड़ी हैं हम जोखिम नहीं ले सकते'

एबी डीविलियर्स को आंद्रे रसल ने पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया था  •  BCCI

एबी डीविलियर्स को आंद्रे रसल ने पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया था  •  BCCI

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) ने आईपीएल का दूसरा अंश एक करारी शिकस्त के साथ ज़रूर शुरू किया है लेकिन हेड कोच माइक हेसन के अनुसार इसमें टीम के गठन या विराट कोहली का इस सीज़न के बाद कप्तानी से हट जाने की घोषणा से उप्तन्न कोई विकर्षण नहीं था। हेसन ने कहा आरसीबी के बल्लेबाज़ परिस्थितियों के अनुसार अपने खेल को बदलने में नाक़ामयाब रहे।
टॉस जीत कर बल्लेबाज़ी करते हुए आरसीबी की पारी केवल 92 पर सिमट गई। फ्रैंचाइज़ के इतिहास में सिर्फ़ आठवीं बार ऐसा हुआ कि कोहली और एबी डीविलियर्स दोनों एकल अंक के स्कोर पर आउट हुए और अतीत में ऐसा होने पर टीम ने सिर्फ़ एक मैच अपने नाम किया था।
हेसन ने विराट की कप्तानी छोड़ने के फ़ैसले पर कहा, "हमने तय कर लिया था कि यह घोषणा टीम के खिलाड़ियों के जानने के तुरंत बाद करना ज़रूरी था। उससे इस मैच में कोई फ़र्क़ नहीं पड़ा है। हमने बतौर बैटिंग ग्रुप बड़ी जल्दी से विकेट गंवाए।"
आरसीबी के बल्लेबाज़ी क्रम में कुछ बदलाव दिखे, ख़ासकर सचिन बेबी और श्रीकर भरत के रूप में। भरत ने इस मैच में कीपिंग की ज़िम्मेदारी संभाली जिसके चलते पहले हाफ़ में खेले रजत पाटीदार को XI में जगह नहीं मिली।
हेसन ने कहा, "एबी हमारे लिए एक बहुमूल्य खिलाड़ी हैं और इसी कारण उन्होंने कीपिंग नहीं की। भरत का चयन इसी वजह से हुआ जो रजत के लिए दुर्भाग्यशाली बात है। और सचिन बेबी टीम में आए ताक़ि छह नंबर पर हम एक विशेषज्ञ बल्लेबाज़ को खिलाएं। साथ ही वो बाएं हाथ के बल्लेबाज़ हैं और गेंदबाज़ी में विकल्प भी बन सकते हैं।" हेसन ने यह भी कहा कि कोहली को तीसरे नंबर पर खिलाने पर भी टीम में विचार था लेकिन कप्तान के ओपन करने के निर्णय पर टीम टिकी रही।
उन्होंने कहा, "बात ज़रूर हुई थी लेकिन यहां दुबई में पिचों पर अतिरिक्त टर्न के चलते हमें लगता है विराट और देवदत्त पड़िक्कल हमारी सबसे अच्छी सलामी जोड़ी बनती है।"
"आज टीम चयन में कोई ग़लती नहीं थी। एक वक़्त हम 41 पर एक विकेट खो कर खेल रहे थे। यह 92 ऑल आउट वाला विकेट नहीं था और हमें संघर्ष करके 150 तक पहुंचना चाहिए था। शायद उतने भी पर्याप्त नहीं होते लेकिन मूलतया हमने बल्ले से आज निराश किया।"

वरुण शेट्टी ESPNcricinfo में सब-एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo के सीनियर एसिस्टेंट एडिर और स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।