मैच (13)
आईपीएल (2)
USA vs BAN (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
T20I Tri-Series (1)
ख़बरें

मैक्डॉनल्ड ने फ़िंच के फ़ॉर्म में लौटने का भरोसा जताया

अंतरिम कोच का कहना है ऑस्ट्रेलिया घरेलू मैदानों पर टी20 विश्व कप ऐरन फ़िंच की कप्तानी में ही खेलेगा

Aaron Finch was out for his second successive duck in ODIs, Pakistan vs Australia, 3rd ODI, Lahore, April 2, 2022

पिछले कुछ समय से खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं ऐरन फ‍िंच  •  AFP/Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के अंतरिम कोच ऐंड्रयू मैक्डॉनल्ड ने विश्वास जताया है कि ख़राब फ़ॉर्म के बावजूद साल के आख़िर में ऑस्ट्रेलिया के मैदानों पर टीम के ख़िताब का बचाव ऐरन फ़िंच की कप्तानी में ही होगा।
अक्तूबर 2021 में यूएई में हुए टी20 विश्व कप के पिछले संस्करण के बाद से फ़िंच ने 12 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच और तीन वनडे मुक़ाबले खेले हैं और इनमें एक भी अर्धशतक नहीं लगा पाए हैं। इन 15 पारियों में उनका औसत है 15.73 और स्ट्राइक रेट 97.92 का। इन पारियों में से नौ में वह दहाई के आंकड़े में भी नहीं पहुंचे और पाकिस्तान में आख़िरी दोनों वनडे में बिना रन बनाए पवेलियन लौटे थे।
इसके बावजूद मैक्डॉनल्ड का कहना था, "मेरे मन में टी20 टीम में उनकी जगह को लेकर कोई संदेह नहीं है। किसी भी खिलाड़ी के फ़ॉर्म में उतार चढ़ाव आ ही सकते हैं। हम ठीक ऐसी बातें पिछले विश्व कप से पहले डेविड वॉर्नर के संदर्भ में कर रहे थे। ऐसी बातें तो होती रहेंगी। क्या हमें लगता है वह इस स्तर पर खेलने लायक हैं? इसका सरल जवाब है हां। आख़िर में हम टी20 टीम उन्हीं को केंद्रित करते हुए बना रहे हैं। उनके विश्व कप में ना खेलने का कोई सवाल ही नहीं है।"
फ़िंच के आउट होने के तरीक़ों में कुछ ख़ास नयापन नहीं था। लाहौर में तीनों पारियों में आख़िरी दो में वह केवल तीन गेंदों के भीतर पगबाधा आउट हुए। दूसरे मैच में शाहीन शाह अफ़रीदी के एक फ़ुल टॉस पर क्रीज़ में फंस गए तो वहीं अगले मुक़ाबले में वह हारिस रउफ़ की मिडिल स्टंप की लाइन पर एक सीधी गेंद का शिकार बने। रउफ़ ने दो गेंदों के बाद उसी लाइन पर एक गेंद डाली तो मार्नस लाबूशेन ने उसी गेंद को मिड-ऑन के नज़दीक़ से चार रन के लिए खेल दिया।
वनडे सीरीज़ के बाद फ़िंच ने अपने फ़ॉर्म के बारे में खुलकर बात ज़रूर की थी और मैक्डॉनल्ड का मानना है कि विक्टोरिया और मेलबर्न रेनेगेड्स में साथ काम करते हुए ऐसी परिस्थितियों दोनों को देखनी पड़ी हैं। उन्होंने कहा, "वह अपने हालिया फ़ॉर्म से निराश हैं। शायद उनके पैर ठीक से नहीं चल रहे हैं जैसा वह चाहेंगे। ऐसा पहले भी हुआ है जब उनका वज़न बाएं पैर पर अधिक पड़ रहा है और इसी वजह से उनकी फ़ुटवर्क में उलझन दिख रही है। आजकल मैचों के बीच में भी समय कम होता है और ऐसी चीज़ों पर काम करने के मौक़े कम हो जाते हैं।"
फ़िंच को इस दौरे पर मंगलवार के इकलौते टी20 में एक आख़िरी पारी मिलेगी जिसके बाद उन्होंने आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ जुड़ना पड़ेगा। वहीं जस्टिन लैंगर के जाने के बाद अस्थाई रूप में कोच बने मैक्डॉनल्ड यह भरोसे के साथ नहीं कह सकते कि टी20 विश्व कप तक उन्हें टीम में स्थाई मुख्य कोच का पद मिलेगा या नहीं। मैक्डॉनल्ड ने कहा कि इस सिलसिले में उनकी बात क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से होती रही है लेकिन बहुत विस्तार में नहीं। उन्होंने कहा, "टेस्ट सीरीज़ के बीच में तो बिलकुल समय नहीं मिला लेकिन उसके बाद मेरी बात हुई थी। शायद आगे यह बात हो पाएगी कि मुझे क्या स्पष्ट रोल मिलेगा। जब यह प्रक्रिया आगे बढ़ चुकी हो तो शायद मैं इस बारे में ज़्यादा बता पाऊंगा।"

ऐलेक्‍स मैल्‍कम ESPNcricinfo में एसोसिएट एडिटर हैं। अनवुाद ESPNcricinfo में स्‍थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।