मैच (17)
आईपीएल (2)
ENG v PAK (W) (1)
T20I Tri-Series (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
ख़बरें

न्यूज़ीलैंड के प्रमुख चयनकर्ता को उम्मीद है कि बोल्ट वनडे विश्व कप में खेलेंगे

उन्होंने बताया कि बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ के लिए टीम का दरवाज़ा अब भी खुला है

Trent Boult is joyous, Australia vs New Zealand, ICC Men's T20 World Cup 2022, Sydney, October 22, 2022

ट्रेंट बोल्ट को न्यूज़ीलैंड क्रिकेट ने अपने केंद्रीय करार से मुक्त कर दिया था  •  ICC/Getty Images

प्रमुख चयनकर्ता गैविन लार्सन को उम्मीद है कि इस साल भारत में होने वाले वनडे विश्व कप में तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट न्यूज़ीलैंड के गेंदबाज़ी आक्रमण का नेतृत्व करेंगे।
पिछले साल न्यूज़ीलैंड क्रिकेट (एनज़ेडसी) ने बोल्ट को केंद्रीय करार से मुक्त करने का निर्णय लिया था। वह इसलिए क्योंकि 33 वर्षीय बोल्ट विश्व भर की टी20 लीगों में खेलने के लिए उपलब्ध रहना चाहते थे। वह इस समय यूएई की इंटरनेशनल लीग टी20 (आईएलटी20) में माय एमिरेट्स के लिए खेल रहे हैं।
बोल्ट ने पहले भी विश्व कप में खेलने की इच्छा जताई है। हालांकि प्रतियोगिता में उनका खेलना अभी तय नहीं है।
लार्सन ने एसईएनजेड़ मॉर्निंग्स को बताया, "उनके लिए दरवाज़ा अब भी खुला है। गैरी (स्टीड) और ट्रेंट (बोल्ट) के बीच बातचीत होती रहती है। हम सभी बोल्ट की प्रतिभा और उनके अनुभव को पहचानते हैं। हमें पता है कि वह इतने वर्षों से लेकर आज भी कितने बड़े मैच विनर हैं।"
दोनों तरफ़ गेंद को स्विंग कराने की क्षमता रखने वाले बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ बोल्ट क्रिकेट के सभी प्रारूपों में एक बेहतरीन गेंदबाज़ हैं।
लार्सन ने कहा, "हम चाहते हैं कि वह (दल में) शामिल हो, हम उन्हें शामिल करना पसंद करेंगे। हम उनकी स्थिति को पूरी तरह से समझते हैं और इसलिए हम उनके साथ काम करना जारी रखेंगे।"
उन्होंने आगे कहा कि उन्हें उम्मीद है कि बोल्ट इस साल खेले जाने वाले वनडे विश्व कप में न्यूज़ीलैंड के लिए गेंदबाज़ी की शुरुआत करते नज़र आएंगे।
बोल्ट और अनुभवी टिम साउदी की अनुपस्थिति में न्यूज़ीलैंड के अनुभवहीन तेज़ गेंदबाज़ी क्रम ने हालिया भारत दौरे पर बहुत संघर्ष किया।
वनडे सीरीज़ में न्यूज़ीलैंड को 3-0 से हार मिली। यह विश्व कप से कुछ महीने पहले टीम के लिए चिंता का कारण बन सकती है।
पिछले दो विश्व कपों में फ़ाइनल तक पहुंचने वाली न्यूज़ीलैंड टीम को अपने पहले विश्व कप ख़िताब की तलाश है।