मैच (16)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
NZ v AUS (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
विश्व कप लीग 2 (1)
Nepal Tri-Nation (1)
Sheffield Shield (3)
CWC Play-off (3)
BAN v SL (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े : न्यूज़ीलैंड में बांग्लादेश की पहली टेस्ट जीत

इस ऐतिहासिक मैच पर एक नज़र आंकड़ों के झरोखे से

1 - बांग्लादेश ने बुधवार को न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ टेस्ट क्रिकेट में अपनी पहली जीत दर्ज की। इससे पहले बांग्लादेश ने न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध 15 टेस्ट मैच खेले थे जिनमें 12 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में भी इससे पूर्व नौ में से आठ मैच हारने के बाद यह उनकी पहली जीत है।
1 - इस टेस्ट में बांग्लादेश की जीत किसी भी फ़ॉर्मैट में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ उनकी धरती पर पहली जीत है। न्यूज़ीलैंड ने घरेलू मैदान पर इससे पहले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खेले गए 32 मुक़ाबले जीते थे। यह किसी भी टीम का एक दूसरी टीम के ख़िलाफ़ अपने घर में सबसे लंबा जीत का सिलसिला है।
17 - इस मैच के साथ न्यूज़ीलैंड का अपने घर में टेस्ट क्रिकेट में 17 मैचों का अविजित अनुक्रम टूट गया। साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ 2017 में हार के बाद से शुरू हुआ यह सिलसिला न्यूज़ीलैंड के इतिहास में सर्वोपरि है। इस हार का मतलब यह भी हुआ कि न्यूज़ीलैंड के अपने घर में आठ लगातार सीरीज़ जीतने के कीर्तिमान पर भी अंकुश लग गया है।
5 - न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध पहले टेस्ट में जीत से पहले बांग्लादेश ने विदेशी धरती पर पांच टेस्ट जीते थे। 2009 में वेस्टइंडीज़ में दो टेस्ट जीतने के अलावा उन्होंने ज़िम्बाब्वे में 2013 और 2021 में टेस्ट मैच जीता था जबकि 2017 में श्रीलंका को भी श्रीलंका में हराया था।
6/46 - न्यूज़ीलैंड की दूसरी पारी के दौरान इबादत हुसैन का गेंदबाज़ी विश्लेषण बांग्लादेश के लिए टेस्ट क्रिकेट में किसी तेज़ गेंदबाज़ के लिए दूसरे नंबर पर आते हैं। 2008 में ढाका में शहादत हुसैन ने साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध 27 रन देकर छह विकेट लिए थे। अप्रैल 2013 के बाद इबादत टेस्ट पारी में पांच विकेट लेने वाले पहले बांग्लादेशी तेज़ गेंदबाज़ भी बने। लगभग नौ साल पहले यह काम रोबिउल इस्लाम ने किया था
33 - दूसरी पारी में न्यूज़ीलैंड ने अपने आख़िरी आठ विकेट के लिए केवल 33 रन जोड़े जो किसी भी टीम के लिए बांग्लादेश के विरुद्ध सबसे कम रन हैं। इससे पहले आख़िरी आठ विकेट पर बांग्लादेश के ख़िलाफ़ सबसे ख़राब प्रदर्शन इंग्लैंड का था, जो 2016 में दो विकेट पर 126 से 164 ऑल आउट हो गए थे।
60 - इस मैच में न्यूज़ीलैंड के आख़िरी छह बल्लेबाज़ों ने पूरे टेस्ट में कुल 60 रन बनाए। यह पिछले 50 सालों में किसी भी टेस्ट में दोनों पारी में ऑल आउट होते हुए तीसरा सबसे कम स्कोर है। उन्होंने अपने पिछले टेस्ट में मुंबई में भारत के ख़िलाफ़ 48 रन बनाए थे और 1993 में हैमिलटन में पाकिस्तान के विरुद्ध 59 रन जोड़े थे।
13 - इस टेस्ट में बांग्लादेश के तेज़ गेंदबाज़ों ने 13 विकेट लिए जो उनके लिए किसी भी टेस्ट मैच के लिए सबसे ज़्यादा हैं। इससे पहले 2013 में ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ हरारे में तेज़ गेंदबाज़ों ने 11 विकेट लिए थे। पहले टेस्ट में तेज़ गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ 13 में से नौ विकेट दूसरी पारी में गिरे थे जो एक पारी में बांग्लादेश के लिए संयुक्त रिकॉर्ड है।
169 - दूसरी पारी में न्यूज़ीलैंड का स्कोर टेस्ट क्रिकेट में बांग्लादेश के ख़िलाफ़ उनका न्यूनतम योग है। इससे पहले उन्होंने 2008 में चटगांव में 171 ऑल आउट का स्कोर खड़ा किया था। यह एशिया के बाहर किसी भी टीम का बांग्लादेश के विरुद्ध दूसरा सबस छोटा स्कोर है। 2018 में वेस्टइंडीज़ उनके ख़िलाफ़ 128 ऑल आउट हुई थी।

संपत बंडारुपल्ली ESPNcricinfo में स्टैटिस्टिशियन हैं। अनुवाद ESPNcricinfo में सीनियर असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।