मैच (12)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (4)
Women's QUAD (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
IRE-W vs THAI-W (1)
ख़बरें

अपेंडिक्स के ऑपरेशन के बाद बेहतर महसूस कर रहे हैं शाहीन अफ़रीदी

पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ फ़िलहाल अपने घुटने की चोट के कारण 2 सप्ताह के रिहैब पर हैं

शाहीन फ़िलहाल अपने घुटने की चोट के कारण दो सप्ताह के रिहैब करो  •  Getty Images

शाहीन फ़िलहाल अपने घुटने की चोट के कारण दो सप्ताह के रिहैब करो  •  Getty Images

रविवार को अपेंडिक्स के ऑपरेशन के बाद शाहीन शाह अफ़रीदी "बेहतर महसूस कर रहे हैं"। तेज़ गेंदबाज ने एक तस्वीर ट्वीट कर के यह बात कही है।
शाहीन फ़िलहाल घुटने की चोट के कारण रिहैब से गुज़र रहे हैं। इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टी20 विश्व कप के फ़ाइनल में उनको अपने घुटने में कुछ परेशानी के कारण बीच मैच में ही मैदान से बाहर जाना पड़ा था। इसके बाद पाकिस्तान को उस मैच में काफ़ी परेशानी हुई थी, क्योंकि उनके एक महत्वपूर्ण गेंदबाज़ मैदान से बाहर थे और वह अपना स्पेल पूरा नहीं कर पाए थे। यह घटना तब हुई ती जब आगे की तरफ़ डाइव करते हुए उन्होंने लॉन्ग ऑफ़ पर हैरी ब्रूक का कैच लिया था।
पिछले हफ़्ते पीसीबी ने इस बात की पुष्टि की थी कि स्कैन के बाद शाहीन के घुटने में चोट के कोई संकेत नहीं थे। ऐसा हो सकता है कि आगे की तरफ़ डाइव करने के दौरान उनके घुटने में दर्द हुआ होगा। इसके बाद उन्हें दो सप्ताह के लिए रिहैब करने को कहा गया था। उस समय भी ईएसपीएनक्रिकइंफ़ों ने बताया था कि अफ़रीदी इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ दिसंबर-जनवरी में टेस्ट सीरीज़ शायद नहीं खेल पाएंगे। पीसीबी ने कहा, "अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में उनकी वापसी रिहैब के बाद होगी लेकिन उससे पहले मेडिकल स्टाफ़ से भी सलाह ली जाएगी कि उन्हें कब मैदान पर उतरना है।"
श्रीलंका में हुई टेस्ट सीरीज़ के दौरान घुटने में लगी चोट के कारण अफ़रीदी काफ़ी दिनों तक क्रिकेट से दूर रहे हैं। इसी चोट के रिहैब के कारण वह एशिया कप का हिस्सा नहीं थे। इसके बाद फिर विश्व कप के दौरान एक और बार चोटिल हो जाना शाहीन के लिए एक बड़ा झटका था।
शाहीन की संभावित अनुपलब्धता पाकिस्तान के लिए भी एक झटका है, जो अभी भी अगले जून में इंग्लैंड में होने वाली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फ़ाइनल में जगह बनाने की होड़ में है। पाकिस्तान वर्तमान में पांचवें स्थान पर है।
पाकिस्तान 1 दिसंबर से तीन टेस्ट के लिए इंग्लैंड की मेज़बानी करेगा, जबकि न्यूज़ीलैंड दो टेस्ट और तीन वनडे मैचों के लिए महीने के अंत में पाकिस्तान आएगा।