मैच (19)
आईपीएल (1)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (4)
T20WC Warm-up (3)
ख़बरें

डुप्लेसी: जब आत्मविश्वास कमज़ोर हो तो छिपने की जगह नहीं मिलती

"खेल काफ़ी तेज़ी से आगे जा रहा है और गेंदबाज़ के तौर पर आप अपने खेल के टॉप पर नहीं हैं तो मुश्किल होगी"- डुप्लेसी

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (RCB) ने IPL 2024 में लगातार पांचवां मैच गंवाया है। इस बार उन्हें घर में हार मिली है और उनके ख़िलाफ़ सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने लीग इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर 287/3 बना दिया। इस हार के बाद RCB के कप्तान फ़ाफ़ डुप्लेसी ने स्वीकार किया है कि ऐसी हार के बाद दिमाग़ पर असर पड़ सकता है।
लक्ष्य का पीछा करते हुए RCB ने भी 262/7 का स्कोर बनाकर शानदार संघर्ष दिखाया, लेकिन लक्ष्य से दूर रह गए। इस मैच से पहले RCB ने मुंबई इंडियंस के ख़िलाफ़ केवल 15.3 ओवर्स में ही 199 रन लुटाए थे और इसके बाद भी उन्होंने केवल चार विशेषज्ञ गेंदबाज़ों के साथ पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला ले लिया।
मैच के बाद डुप्लेसी ने कहा, "हमने कुछ चीज़ें करने की कोशिश की, लेकिन वे काम नहीं कर रहे थे। इससे पता चलता है कि अन्य ग्रुप में आत्मविश्वास कितना है। जब आपका आत्मविश्वास कमज़ोर होता है तो फिर आपको छिपने की जगह नहीं मिलती।"
"खेल काफ़ी तेज़ी से आगे जा रहा है और बल्लेबाज़ इसे और तेज़ ले जाना चाहते हैं। ऐसे में यदि गेंदबाज़ के तौर पर आप अपने खेल के टॉप पर नहीं हैं तो मुश्किल होगी। निश्चित तौर पर ऐसी पिच पर केवल पांच गेंदबाज़ों के साथ कठिनाई थी। हम अलग चीज़ें करने की कोशिश करते रहेंगे।"
रविवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के ख़िलाफ़ होने वाले मैच से पहले डुप्लेसी को लगता है कि ब्रेक लेकर ख़ुद को दोबारा तैयार करना ही सबसे अच्छा विकल्प होगा। वर्तमान स्थिति को देखते हुए RCB के लिए नॉकआउट में जाने की उम्मीदें काफ़ी कम हैं और यदि वे अपने सातों मैच भी जीत लें तो भी शायद उन्हें मुश्किल होगी।
डुप्लेसी ने कहा, "एक चीज़ जरूरी है कि आप खेल से दूर जाकर मानसिक रूप से ख़ुद को फ्रेश करें। कई बार जब हमें लगातार हार मिलती है तो लगता है कि हमारा दिमाग़ विस्फोट कर जाएगा। अहम है कि हम खेल से थोड़ा दूर रहें ताकि ख़ुद को अगली चुनौती के लिए तैयार कर सकें। आगे आने वाली चुनौती काफ़ी मुश्किल है, लेकिन जब हम प्रतिस्पर्धा के लिए आगे आएंगे तो अपना 100 प्रतिशत देंगे।"
लड़कों की लड़ाई देखकर गर्व हुआ
लीग इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर बन जाने के बाद भी RCB ने लक्ष्य को हासिल करने के लिए सकारात्मक सोच दिखाई। डुप्लेसी ने 28 गेंदों में 62 और विराट कोहली ने 20 गेंदों में 42 रनों की पारी खेली और अपनी टीम को जोरदार शुरुआत दिलाई। बाद में दिनेश कार्तिक ने 35 गेंदों में 83 रनों की पारी खेलकर मैच को अंत तक रोमांचक बनाए रखा।
डुप्लेसी ने कहा, "लक्ष्य के क़रीब पहुंचने के लिए टीम ने शानदार प्रयास किया। बल्लेबाज़ी में भी हमें कुछ काम करना है। पावरप्ले के बाद हमारे रन रेट में गिरावट आ रही है, इस चीज़ पर हम काम करना चाहते हैं। हमें सुनिश्चित करना होगा कि पावरप्ले के बाद रन रेट में गिरावट ना आए। हमारी टीम ने अंत तक हार नहीं मानी और इस पर मुझे गर्व है। इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए टीमें ताश के पत्तों की तरह ढेर हो जाती हैं।"