मैच (9)
विश्व कप लीग 2 (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
Nepal Tri-Nation (1)
PSL 2024 (2)
WPL (2)
BAN v SL (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : पीयूष चावला के हाथ में मुंबई की सफलता की चाबी

चावला ने कोहली सहित बेंगलुरु के दिग्गज बल्लेबाज़ों को ख़ासा परेशान किया है

कोहली, डुप्लेसी और मैक्सवेल को चावला से काफ़ी दिक्कत होती है  •  Mumbai Indians

कोहली, डुप्लेसी और मैक्सवेल को चावला से काफ़ी दिक्कत होती है  •  Mumbai Indians

सुपर-संडे डबल हेडर के दूसरे मुक़ाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का मुक़ाबला मुंबई इंडियंस से होगा। इस मुक़ाबले में भारतीय क्रिकेट के दो सबसे बड़े नाम पूर्व कप्तान विराट कोहली और वर्तमान कप्तान रोहित शर्मा एक-दूसरे के आमने-सामने होंगे। हालांकि भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद कोहली ने बेंगलुरू की कप्तानी भी छोड़ दी थी और अब फ़ाफ़ डुप्लेसी टीम के कप्तान हैं। दोनों टीमों के बीच अब तक 30 मुक़ाबले हो चुके हैं, जिसमें मुंबई को 17 और बेंगलुरु को 13 मैचों में जीत हासिल हुई है। अपने घर में तो बेंगलुरु का और भी बुरा हाल है और चिन्नास्वामी स्टेडियम में दोनों टीमों के बीच हुए 10 मुक़ाबलों में मुंबई को आठ मैचों में जीत हासिल हुई है। आइए देखते हैं इस मुक़ाबले से जुड़े कुछ दिलचस्प आंकड़े और मैच-अप्स।
चावला करते हैं बेंगलुरु के दिग्गज बल्लेबाज़ों को परेशान
बेंगलुरु के बल्लेबाज़ी क्रम में कोहली, डुप्लेसी और ग्लेन मैक्सवेल जैसे बड़े नाम हैं, लेकिन इस साल मुंबई के दल में शामिल हुए वेटरन लेग स्पिनर पीयूष चावला इन तीनों को ख़ूब परेशान करते हैं। उन्होंने टी20 मैचों में कोहली और मैक्सवेल को तीन-तीन और डुप्लेसी को दो बार आउट किया है। हालांकि कोहली को तीन बार आउट करने के लिए चावला ने 14 पारियां ली है और इस दौरान कोहली उनके ख़िलाफ़ 41 की औसत से रन बनाते हैं।
सूर्या भाऊ का तोड़ कौन निकालेगा?
सूर्यकुमार यादव वर्तमान में सिर्फ़ भारत ही नहीं विश्व के सर्वश्रेष्ठ टी20 बल्लेबाज़ों में से एक हैं। बेंगलुरू के लगभग सभी गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ उन्होंने कम से कम 130 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। मोहम्मद सिराज के ख़िलाफ़ तो वह 224 के स्ट्राइक रेट व 47 की औसत से रन बनाते हैं, वहीं डेविड विली के ख़िलाफ़ उनका स्ट्राइक रेट 257 है। ऐसे में देखना होगा कि सूर्यकुमार के बल्ले को रविवार को कौन रोकेगा?
हर्षल के पास है रोहित को शांत रखने की तरक़ीब
यह हम नहीं हर्षल पटेल के ख़िलाफ़ रोहित शर्मा के आंकड़े कह रहे हैं। हर्षल ने अपने भारतीय कप्तान के ख़िलाफ़ छह पारियों में गेंदबाज़ी की है, जिसमें उन्होंने रोहित को तीन बार आउट किया है। इस दौरान रोहित उनके ख़िलाफ़ सिर्फ़ 117 की स्ट्राइक रेट और नौ की औसत से रन बना पाए हैं। यह कप्तान के रूप में रोहित का 200वां टी20 मैच होगा और वह चाहेंगे कि इस शुभ मौक़े को हर्षल के फेर से पार पाकर बड़ा बनाया जाए।

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।