कगिसो रबाडा के लिए टी20 विश्व कप जीतना उनके क्रिकेट करियर के लिए सबसे बड़ी उपलब्धि होगी। ऐसा उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा।

उन्होंने कहा, "विश्व कप जीतना बहुत विशेष होगा। शत प्रतिशत यह मेरे जीवन की सबसे बड़ी खेल उपलब्धि होगी। यह साउथ अफ़्रीकी क्रिकेट के लिए भी एक बड़ा मौक़ा होगा, जिन्होंने अब तक आईसीसी का कोई भी बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीता है।"

छह टी20 विश्व कप में चार बार साउथ अफ़्रीकी टीम नॉकआउट चरण तक भी नहीं पहुंच पाई है, वहीं 2009 और 2013 में टीम सेमीफ़ाइनल तक पहुंची थी। रबाडा को आईसीसी टूर्नामेंट में अपने टीम के इतिहास के बारे में पता है लेकिन वह इसमें अधिक पड़ना नहीं चाहते हैं।

उन्होंने कहा, "अतीत में क्या हुआ, उसका बोझ लेकर ढोने और उसके बारे में बात करने की ज़रूरत नहीं है। मैं इसके बारे में अधिक बात करना भी नहीं चाहता। हमारे सामने अभी एक नए विश्व कप टूर्नामेंट की चुनौती है। हम बस उसके बारे में सोच रहे हैं।"

साउथ अफ़्रीका ने वेस्टइंडीज़, श्रीलंका और आयरलैंड को हराकर इस टूर्नामेंट के प्रमुख राउंड में प्रवेश किया है। हालांकि टीम अभी बदलाव के दौर से गुज़र रही है। उन्हें रबाडा जैसे अनुभवी खिलाड़ी से ज़रूरत होगी कि वह टीम में युवा खिलाड़ियों के साथ अनुभव बांट सकें।

रबाडा ने कहा, " यह ऐसा कुछ है, जिसे मुझे करना होगा। मैं इसे लेकर उत्सुक भी हूं।" रबाडा को पता है कि विश्व चैंपियन होना क्या होता है। वह 2014 में साउथ अफ़्रीका के लिए अंडर-19 विश्व कप जीत चुके हैं। "अंडर-19 विश्व कप की यादें अब भी ताज़ा हैं। यह अच्छा होगा कि हम सीनियर टीम के साथ भी इसे दोहरा सकें।"

साउथ अफ़्रीका अपने टी20 विश्व कप अभियान की शुरूआत सोमवार को अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ अभ्यास मैच से करेगी।